Sunday, August 1, 2021
Homeफ़ैक्ट चेकफैक्ट चेक: बंगाल पुलिस मारती रही डंडे, युवक बोलता रहा जय श्री राम

फैक्ट चेक: बंगाल पुलिस मारती रही डंडे, युवक बोलता रहा जय श्री राम

वास्तव में इस वायरल वीडियो में पुलिस से मार खा रहा शख्स एक कैदी है। यह वीडियो भले एक बार फिर से सोशल मीडिया पर वायरल किया जा रहा है, लेकिन यह काफी पुराना है।

जय श्री राम के नारों के बीच सोशल मीडिया पर एक शख्स की पिटाई का यह वीडियो इन दिनों काफी सुर्खियाँ बटोर रहा है। कई ट्विटर यूजर्स इस वीडियो को शेयर कर रहे हैं जिसमें एक युवक पर पुलिस लाठियाँ बरसा रही हैं, लेकिन वो जय श्री राम और जय बजरंग बली बोल रहा है।

@Chatterj1Asking नाम की एक ट्विटर यूज़र ने यह वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा है- “बंगाल मे पुलिस डंडे बरसाती रही पर युवक ने ??जय श्रीराम? बोलना नही छोड़ा।”

इस वीडियो को बड़े स्तर पर रीट्वीट किया जा रहा है –

इस वीडियो को तरुण विजय ने भी शेयर किया है

यह वीडियो फेसबुक पर भी वायरल हो रहा है –

क्या है सच्चाई?

वास्तव में यह वीडियो आजकल का नहीं है, भले ही यह एक बार फिर सोशल मीडिया पर वायरल किया जा रहा है। इस वायरल वीडियो में पुलिस से मार खा रहा शख्स एक कैदी है। इस पर दैनिक भास्कर भी 2018 में फैक्ट चेक कर चुका है।

दैनिक भास्कर के अनुसार, इस वीडियो में मार खा रहे व्यक्ति ने जेल से भागने की कोशिश की थी लेकिन पुलिस के हत्थे चढ़ गया और इसके बाद उसकी जमकर पिटाई की गई। इसी दौरान किसी ने यह वीडियो भी शूट कर लिया। हालाँकि अभी यह स्पष्ट नहीं है कि यह वीडियो कब का है और कहाँ का है इस वजह से इसे पश्चिम बंगाल की पुलिस का बताया जाना सच नहीं है। पिटाई के दौरान जब-जब इस शख्स को पुलिस वाला डंडे से मार रहा था तब-तब यह जय बजरंगबली बोल रहा था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ममता बनर्जी महान महिला’ – CPI(M) के दिवंगत नेता की बेटी ने लिखा लेख, ‘शर्मिंदा’ पार्टी करेगी कार्रवाई

माकपा नेताओं ने कहा ​कि ममता बनर्जी पर अजंता बिस्वास का लेख छपने के बाद से वे लोग बेहद शर्मिंदा महसूस कर रहे हैं।

‘मस्जिद के सामने जुलूस निकलेगा, बाजा भी बजेगा’: जानिए कैसे बाल गंगाधर तिलक ने मुस्लिम दंगाइयों को सिखाया था सबक

हिन्दू-मुस्लिम दंगे 19वीं शताब्दी के अंत तक महाराष्ट्र में एकदम आम हो गए थे। लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक इससे कैसे निपटे, आइए बताते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,404FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe