Monday, September 28, 2020
Home विविध विषय मनोरंजन TikTok बैन से ध्रुव राठी, कुणाल कामरा, केजरीवाल आदि के मानवाधिकार हनन की योजना...

TikTok बैन से ध्रुव राठी, कुणाल कामरा, केजरीवाल आदि के मानवाधिकार हनन की योजना बना रही है मोदी सरकार- सूत्र

हालाँकि, विशेषज्ञों, जानकारों, एक्सपर्ट्स, सर्वेक्षणों, जनमत संग्रह और सॉल्ट न्यूज़ फैक्ट चेकर्स का दावा है कि इनका काम अभी भी सस्ता मनोरंजन करना ही है, लेकिन इन्हें अभी इनकी योग्यतानुसार ठीक प्लेटफॉर्म नहीं मिल पा रहा है।

मोहनजोदड़ो और हड़प्पा सभ्यता के बाद अखंड भारत में सीधा आजादी के बाद 2 ऐसी सभ्यताओं का उदय हुआ था, जिनके कारण आम जनमानस का जीवन सुलभ हो सका था, पहली थी नेहरुवियन सभ्यता, जिसके साक्ष्य आज भी मौजूद हैं और यदाकदा पुरस्कार वापसी के दौरान खुदाई में वो नजर भी आते हैं और दूसरी है टिकटॉक सभ्यता। आम चुनावों के बीच टिकटॉक जैसे क्रिएटिव प्लेटफॉर्म पर प्रतिबन्ध लगाने जैसी ख़बरें निराशाजनक और निहायत ही दुखदायी हैं।

मद्रास हाईकोर्ट ने सरकार को निर्देश दिए हैं कि टिकटॉक एप्लीकेशन की डाउनलोडिंग और मीडिया द्वारा प्रसारण पर भी प्रतिबन्ध लगाया जाना चाहिए। पिछले 4-5 सालों में तमाम तरह की कॉन्सपिरेसी थ्योरी का प्रतिपादन कर चुके तर्कशास्त्री भी ये बात नहीं जान पाए कि टिकटॉक को प्रतिबंधित करना फासिस्ट मोदी सरकार की एक दीर्घकालीन योजना है, जिसके जरिए वो विपक्ष को लगभग शोले फिल्म के ठाकुर जैसा बना देने पर उतर आई है। पत्थरबाजों की कुटाई और आतंकवादियों पर सर्जिकल स्ट्राइक कर के लोकतंत्र की जमकर हत्या करने के कारण चर्चा में आई मोदी सरकार अब नई साजिश लेकर आई है, जिसे समझना जरुरी है।

वास्तव में, इस टिकटॉक नाम की एप्प ने जितना रोजगार सृजन का अवसर लोगों को दिया है, वो आँकड़े चकित करने वाले हैं। हालाँकि, ये आँकड़े विभिन्न भाषाओं में फेसबुक पोस्ट का अनुवाद करने वाले पत्रकारों के स्रोतों ने नहीं जारी किए हैं, इसलिए इनकी विश्वसनीयता पर शक करना गलत होगा। जिस उम्र में हम गाँव में मिट्टी घरों में खोदकर मिट्टी खाया करते थे उस उम्र में आज का युवा पेसिफिक मॉल की पार्किंग में अपने लायक स्पेस तलाश कर ‘तूतक तूतक तूतिया’ गाने पर कदमताल कर के दुनिया के सामने अपनी प्रतिभा साबित कर रहा है तो इसमें नरेंद्र मोदी सरकार का हाईकोर्ट के जरिए हस्तक्षेप करवाना क्या उन युवाओं की अभिव्यक्ति की स्वतन्त्रता पर हमला नहीं है?

जो युवा सप्ताह और महीने भर तक एक कमरे से दूसरे में उठकर नहीं जाते थे वो भी अब सुबह नहा-धोकर टिकटॉक पर अपने वीडियो पोस्ट करने के लिए मेकअप कर के, तरह-तरह के बालों डिजाइन से पिरामिड और मीनारें बनाकर लोगों को दिखाने लगे हैं, तो इस राष्ट्रवादी सरकार को इस तरक्की से समस्या होनी शुरू हो गई है। स्पष्ट है कि यह युवा विरोधी सरकार है।

- विज्ञापन -

टिकटॉक ने सिर्फ इन मनचले युवाओं को ही नहीं बल्कि कुछ ऐसे कॉमेडियंस को भी रोजगार और प्लेटफॉर्म दिया है, जिन्हें कभी अर्चना पूरण सिंह बात-बात पर टीवी पर ‘स्टैंडिंग ओवेशन्स’ दिया करती थी। जिस दिन स्टैंडिंग ओवेशन देने के तरीकों की शॉर्टेज पड़ी थी, उसी दिन से कॉमेडी के नाम पर चल रहे इन कॉमेडी प्रोग्राम्स को बंद करना पड़ा था।

लेकिन राजनीति के नजरिए से भी यह एप्प बहुत सहायक साबित होने वाली है। मई में आम चुनाव निपट जाने के बाद ये महागठबंधन के सामूहिक रोजगार के काम आ सकती है।

संकट की घड़ी में किन लोगों का सच्चा साथी साबित हो सकता है टिकटॉक

केजरीवाल एंड पार्टी के जमानत जब्त वालंटियर्स

वो सभी नेता, जिनकी इस बार भी जमानत जब्त होने के प्रबल आसार बन रहे हैं (यदि गठबंधन हो पाया तो) उनके लिए तो ख़ासतौर से अपनी प्रतिभा के विस्तार के लिए टिकटॉक ही एकमात्र क्रिएटिव जरिया बाकी रह जाएगा। देखा जाए तो टिकटॉक एप्प के आविष्कार की प्रेरणा चीन ने आम आदमी पार्टी और इसके अध्यक्ष अरविन्द केजरीवाल से ही ली होगी। गुप्त सूत्रों का तो यहाँ तक मानना है कि नई वाली राजनीति के नाम पर जो चकल्लस आम आदमी पार्टी ने जनता के बीच प्रस्तुत की है, असल में टिकटॉक का मूल वर्जन और प्रस्तावना उसी से प्रेरित है। लेकिन इस सरकार ने कभी क्रेडिट और दर्जा देना नहीं सीखा है।

चिरयुवा नेता राहुल गाँधी एवं समस्त ईष्ट मित्रगण

विपक्ष के कद्दावर नेता और रॉबर्ट वाड्रा के साले राहुल गाँधी की चुनावी तैयारियों को देखकर तो अब तक यही लग रहा है कि वो अगले स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले की प्राचीर के बजाए वो टिकटॉक की प्राचीर से राष्ट्र के नाम सम्बोधन देते हुए हुँकार भरते हुए देखे जाएँगे। क्योंकि जो तीव्र छटपटाहट सत्ता में बने रहने की नेहरुवियन सभ्यता में पली-बढ़ी गाँधी परिवार के भीतर है, मुझे नहीं लगता है कि एक और हार के बाद वो खुद को संभाल पाने की स्थिति में रहेंगे भी। ऐसे में टिकटोक पर तो कम से कम राहुल गाँधी प्रधानमंत्री बनने का अभिनय करने की अपनी तीव्र इच्छा पूरी कर सकेंगे। इसलिए मद्रास हाईकोर्ट को इस एप्प पर बैन लगाने का तुगलकी फरमान वापस लेना चाहिए।

महागठबंधन

अपनी सरकार बनाने से ज्यादा नरेंद्र मोदी को हराने के लिए लड़ रहे विपक्ष का सबसे बड़ा आविष्कार महागठबंधन नामक प्लेटफॉर्म है। लेकिन अगर नरेंद्र 2019 में फिर एक बार प्रधानमंत्री पद की शपथ लेते हैं, तो इस महागठबंधन के पदाधिकारी अपनी संतुष्टि के लिए एक-दूसरे को टिकटॉक पर आपस में विभाग बाँटकर आपस में किए गए अपने वायदों को पूरा कर सकते हैं। इस तरह से यह भी उनकी मनोवैज्ञानिक जीत ही मानी जाएगी, इसलिए सरकार को महागठबंधन के अरमानों का गला निर्ममता से नहीं घोंटना चाहिए।

सस्ते कॉमेडियंस और अनुवादक

कॉन्ग्रेस द्वारा हायर किए गए कुछ कॉमेडियन्स, जो कि मोदी सरकार के दौरान हुए काल्पनिक घोटालों को साबित करने के लिए दूसरी आकाशगंगाओं से आँकड़े जुटाकर लोगों का मनोरंजन करने के लिए कुख्यात हैं, उनके लिए भी टिकटॉक एक बेहतर विकल्प साबित हो सकता है। क्योंकि जिस तरह के मनगढंत तथ्य और घटनाक्रम जुटाकर वो मोदी सरकार को घेरने का प्रयास करते हैं, उन पर हँसने और उन्हें सत्य मानने वाले तर्कशास्त्रियों की टिकटॉक जैसी कालजयी सभ्यता में कोई कमी नहीं है। इसलिए इन सस्ते कॉमेडियंस को डेडिकेटेड ‘फैनक्लब’ जो टिकटॉक पर मिल सकता है वो अन्यत्र कहीं संभव नहीं है।

पेड ट्रॉल ध्रुव राठी और कॉमेडी के नाम पर स्वयं कॉमेडी कुणाल कामरा

मोदी सरकार के दौरान अस्तित्व में आए कुछ नामों में ये 2 नाम लोगों के प्रिय बहुत प्रिय रहे हैं। कुणाल कामरा सड़कों पर लोगों द्वारा कूटे जाने के कारण, (जो कि निंदनीय व्यवहार था) और इंटरनेट पर दैनिक सस्ते इंटरनेट डाटा की मेहरबानी से वायरल हुए महागठबंधन के प्रॉपेगैंडा मंत्री ध्रुव राठी विशेष चर्चा में रहे हैं। इनकी ख़ास बात ये है कि इन लोगों को रोजगार सिर्फ इस बात को दिन में 5 बार पढ़ने और लोगों को रटाने के कारण मिला है कि मोदी सरकार में रोजगार नहीं मिला।

अगर टिकटॉक प्रतिबंधित कर दिया जाता है और विपक्ष मोदी सरकार को हराने में नाकामयाब रहता है, तो ऐसे हालातों में इनके अच्छे दिन सिर्फ टिकटॉक पर अपने सस्ते वीडियोज़ बेचकर और बैकग्राउंड में बादशाह और नेहा कक्कड़ के रैप संगीत बजाकर ही आ सकेंगे। हालाँकि, जनमत संग्रह और सॉल्ट न्यूज़ फैक्ट चेकर्स का दावा है कि इनका काम अभी भी मनोरंजन करना ही है, लेकिन इन्हें अभी इनकी योग्यतानुसार ठीक प्लेटफॉर्म नहीं मिल पा रहा है।

विशेषज्ञों का कहना है कि टिकटॉक पर इनके द्वारा जारी किए जाने वाले खुलासों के ज्यादा कद्रदान नेहरुवियन सभ्यता के दौरान अस्तित्व में आए समाचार चैनलों में नहीं, बल्कि टिकटॉक पर मौजूद हैं। इसलिए सरकार को चाहिए कि वो टिकटॉक सभ्यता को सुरक्षित रखने की दिशा में प्रयास करे, ना कि इसके दमन पर।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

आशीष नौटियाल
पहाड़ी By Birth, PUN-डित By choice

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

गैंगस्टर फिरोज अली की मौत, गाय को बचाने में UP पुलिस की गाड़ी पलटी: टोयोटा इनोवा से मुंबई से लखनऊ लाया जा रहा था

सभी घायलों का इलाज राजगढ़ अस्पताल में चल रहा है। आरोपित फिरोज अली को मुंबई से लखनऊ लाने के लिए ठाकुरगंज थाने की पुलिस को भेजा गया था।

एंबुलेंस से सप्लाई, गोवा में दीपिका की बॉडी डिटॉक्स: इनसाइडर ने खोल दिए बॉलीवुड ड्रग्स पार्टियों के सारे राज

दीपिका की फिल्म की शूटिंग के वक्त हुई पार्टी में क्या हुआ था? कौन सा बड़ा निर्माता-निर्देशक ड्रग्स पार्टी के लिए अपनी विला देता है? कौन सा स्टार पत्नी के साथ मिल ड्रग्स का धंधा करता है? जानें सब कुछ।

‘तुम्हारी मौत का समय आ गया है’: नुसरत जहां की देवी दुर्गा वाली तस्वीर देख भड़के कट्टरपंथी

देवी दुर्गा के रूप में टीएमसी सांसद अभिनेत्री नुसरत जहां की तस्वीर देख कट्टरपंथी भड़क उठे और उन्हें मौत की धमकी दी।

असली है करण जौहर की पार्टी का वायरल वीडियो, NCB को मिली फोरेंसिक रिपोर्ट में कई खुलासे

आरोप है कि इस पार्टी में शामिल सितारे ड्रग्स के नशे में थे। एनसीबी ने शनिवार को करण जौहर की धर्मा प्रोडक्शन से जुड़े क्षितिज रवि को भी गिरफ्तार किया था।

व्यंग्य: दीपिका के NCB पूछताछ की वीडियो हुई लीक, ऑपइंडिया ने पूरी ट्रांसक्रिप्ट कर दी पब्लिक

"अरे सर! कुछ ले-दे कर सेटल करो न सर। आपको तो पता ही है कि ये सब तो चलता ही है सर!" - दीपिका के साथ चोली-प्लाज्जो पहन कर आए रणवीर ने...

‘गाँधी-नेहरू मातम मनाओ, हिंदू की मैया मर गई’: निम्रा अली ने लाइव टीवी पर उगला जहर

हिंदुओं के खिलाफ जहर उगलते हुए निम्रा ने उन्हें ‘बकरी’ कह कर संबोधित किया और विभाजन के दौरान हुई हिंदुओं की मौत का मज़ाक भी बनाया।

प्रचलित ख़बरें

‘मुझे सोफे पर धकेला, पैंट खोली और… ‘: पुलिस को बताई अनुराग कश्यप की सारी करतूत

अनुराग कश्यप ने कब, क्या और कैसे किया, यह सब कुछ पायल घोष ने पुलिस को दी शिकायत में विस्तार से बताया है।

‘दीपिका के भीतर घुसे रणवीर’: गालियों पर हँसने वाले, यौन अपराध का मजाक बनाने वाले आज ऑफेंड क्यों हो रहे?

दीपिका पादुकोण महिलाओं को पड़ रही गालियों पर ठहाके लगा रही थीं। अनुष्का शर्मा के लिए यह 'गुड ह्यूमर' था। करण जौहर खुलेआम गालियाँ बक रहे थे। तब ऑफेंड नहीं हुए, तो अब क्यों?

बेच चुका हूँ सारे गहने, पत्नी और बेटे चला रहे हैं खर्चा-पानी: अनिल अंबानी ने लंदन हाईकोर्ट को बताया

मामला 2012 में रिलायंस कम्युनिकेशन को दिए गए 90 करोड़ डॉलर के ऋण से जुड़ा हुआ है, जिसके लिए अनिल अंबानी ने व्यक्तिगत गारंटी दी थी।

ड्रग्स स्कैंडल: रकुल प्रीत ने उगले 4 बड़े बॉलीवुड सितारों के नाम, करण जौह​र ने क्षितिज रवि से पल्ला झाड़ा

NCB आज दीपिका पादुकोण, सारा अली खान और श्रद्धा कपूर से पूछताछ करने वाली है। उससे पहले रकुल प्रीत ने क्षितिज का नाम लिया है, जो करण जौहर के करीबी बताए जाते हैं।

आजतक के कैमरे से नहीं बच पाएगी दीपिका: रिपब्लिक को ज्ञान दे राजदीप के इंडिया टुडे पर वही ‘सनसनी’

'आजतक' का एक पत्रकार कहता दिखता है, "हमारे कैमरों से नहीं बच पाएँगी दीपिका पादुकोण"। इसके बाद वह उनके फेस मास्क से लेकर कपड़ों तक पर टिप्पणी करने लगा।

बेहोश कर पति शादाब के गुप्तांग पर डालती थी Harpic, वसीम के साथ मनाती थी रंगरेलियाँ: आरोपित चाँदनी हिरासत में

महिला ने अपने प्रेमी के साथ रंगरेलियाँ मनाने के लिए अपने पति और तीनों बच्चों को बेहोश कर के एक कमरे में डाल दिया था। पति का गुप्तांग जलाया।

गैंगस्टर फिरोज अली की मौत, गाय को बचाने में UP पुलिस की गाड़ी पलटी: टोयोटा इनोवा से मुंबई से लखनऊ लाया जा रहा था

सभी घायलों का इलाज राजगढ़ अस्पताल में चल रहा है। आरोपित फिरोज अली को मुंबई से लखनऊ लाने के लिए ठाकुरगंज थाने की पुलिस को भेजा गया था।

एंबुलेंस से सप्लाई, गोवा में दीपिका की बॉडी डिटॉक्स: इनसाइडर ने खोल दिए बॉलीवुड ड्रग्स पार्टियों के सारे राज

दीपिका की फिल्म की शूटिंग के वक्त हुई पार्टी में क्या हुआ था? कौन सा बड़ा निर्माता-निर्देशक ड्रग्स पार्टी के लिए अपनी विला देता है? कौन सा स्टार पत्नी के साथ मिल ड्रग्स का धंधा करता है? जानें सब कुछ।

अर्जेंटीना: सांसद ने ऑनलाइन सत्र में गर्लफ्रेंड का स्तन चूमा, वीडियो वायरल होने पर दिया इस्तीफा

एक वीडियो वायरल होने के बाद अर्जेंटीना के 47 वर्षीय सांसद जुआन एमिलो एमिरी को संसद के निचले सदन से इस्तीफा देना पड़ा है।

‘तुम्हारी मौत का समय आ गया है’: नुसरत जहां की देवी दुर्गा वाली तस्वीर देख भड़के कट्टरपंथी

देवी दुर्गा के रूप में टीएमसी सांसद अभिनेत्री नुसरत जहां की तस्वीर देख कट्टरपंथी भड़क उठे और उन्हें मौत की धमकी दी।

असली है करण जौहर की पार्टी का वायरल वीडियो, NCB को मिली फोरेंसिक रिपोर्ट में कई खुलासे

आरोप है कि इस पार्टी में शामिल सितारे ड्रग्स के नशे में थे। एनसीबी ने शनिवार को करण जौहर की धर्मा प्रोडक्शन से जुड़े क्षितिज रवि को भी गिरफ्तार किया था।

व्यंग्य: दीपिका के NCB पूछताछ की वीडियो हुई लीक, ऑपइंडिया ने पूरी ट्रांसक्रिप्ट कर दी पब्लिक

"अरे सर! कुछ ले-दे कर सेटल करो न सर। आपको तो पता ही है कि ये सब तो चलता ही है सर!" - दीपिका के साथ चोली-प्लाज्जो पहन कर आए रणवीर ने...

डेढ़ साल में ही दूसरी बीवी नेहा से उब गया आसिफ, खुद मारी गोली और नेहा के भाई पर मढ़ दिया मर्डर का दोष

दिल्ली से बदायूँ लाकर आसिफ ने नेहा को गोली मार दी। फिर पुलिस को बताया कि नेहा को उसके भाई ने ही गोली मारी है, क्योंकि वह शादी से खुश नहीं था।

‘फेमिनिस्ट अंडरवियर नहीं पहनती’: केरल में यूट्यूबर पर महिला ‘एक्टिविस्ट्स’ ने मोटर ऑयल डाला

केरल में यूट्यूबर विजय पी नायर पर महिला 'एक्टिविस्ट्स' ने हमला किया। उनके चेहरे पर मोटर ऑयल डाल दिया और थप्पड़ मारे।

वो घर पर मौज कर रहा है और मुझसे हो रही पूछताछ: अनुराग कश्यप पर FIR कराने वाली पायल ने मुंबई पुलिस पर उठाए...

फिल्मकार अनुराग कश्यप के खिलाफ यौन शोषण के आरोप लगाने वाली अभिनेत्री पायल घोष ने मुंबई पुलिस की भूमिका पर सवाल उठाए हैं।

‘गाँधी-नेहरू मातम मनाओ, हिंदू की मैया मर गई’: निम्रा अली ने लाइव टीवी पर उगला जहर

हिंदुओं के खिलाफ जहर उगलते हुए निम्रा ने उन्हें ‘बकरी’ कह कर संबोधित किया और विभाजन के दौरान हुई हिंदुओं की मौत का मज़ाक भी बनाया।

हमसे जुड़ें

264,935FansLike
78,050FollowersFollow
325,000SubscribersSubscribe
Advertisements