Monday, November 29, 2021
Homeविविध विषयधर्म और संस्कृतिइधर केदारनाथ में शंकराचार्य की प्रतिमा का अनावरण करेंगे PM मोदी, उधर देश भर...

इधर केदारनाथ में शंकराचार्य की प्रतिमा का अनावरण करेंगे PM मोदी, उधर देश भर के 100 मंदिरों में BJP नेता करेंगे दर्शन

जिन नए परियोजनाओं का शिलान्यास होगा, उनमें संगम घाटों का पुर्नविकास, प्राथमिक उपचार और पर्यटक सुविधा केंद्र, एडमिन ऑफिस और अस्पताल, 2 अतिथि गृह, पुलिस स्टेशन, कमांड और कंट्रोल सेंटर, मंदाकिनी आस्थापथ पंक्ति प्रबंधन, रेनशेल्टर और सरस्वती सिविक सुविधा केंद्र की इमारत शामिल है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का केदारनाथ दौरा हिन्दू धर्मावलम्बियों के लिए काफी महत्वपूर्ण होने जा रहा है, क्योंकि उत्तराखंड की भाजपा सरकार ने इसके लिए बड़ी तैयारियाँ की हैं। सभी अखाड़ों के महामंडलेश्वरों को इस कार्यक्रम में आमंत्रित किया गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जगद्गुरु शंकराचार्य की प्रतिमा का अनावरण करेंगे। ठीक उसी समय भाजपा नेता देश भर के 100 मंदिरों और पवित्र स्थानों पर दर्शन करेंगे। बड़ी संख्या में साधु-संतों को आमंत्रित किया जा रहा है।

देश भर के 12 ज्योतिर्लिंगों और 87 महत्वपूर्ण मंदिरों से साधु-संतों को कार्यक्रम में आमंत्रित किया गया है। शुक्रवार (5 नवंबर, 2021) को जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी केदारनाथ में होंगे, उस दौरान 2 घंटे के लिए भाजपा नेता देश के अलग-अलग मंदिरों में उपस्थिति दर्ज कराएँगे। सभी पवित्र स्थलों पर लाइव LED स्क्रीनिंग के जरिए कार्यक्रम का प्रसारण होगा। केदारनाथ में कई परियोजनाओं का अनावरण होना है। आदिगुरु शंकराचार्य का समाधि स्थल 2013 में आई आपदा में क्षतिग्रस्त हो गया था, जहाँ अब जीर्णोद्धार के बाद प्रतिमा का निर्माण हुआ है।

इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सम्बोधन भी होगा। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने इस कार्यक्रम के लिए अन्य राज्यों के मुख्यमंत्रियों को भी कार्यक्रम में आने के लिए आमंत्रित किया है। उत्तराखंड में अगले ही वर्ष विधानसभा चुनाव होने हैं। पवित्र चारधाम के प्रबंधन के लिए गठित किए गए देवस्थानम एक्ट के कारण भाजपा को साधु-संतों व पुजारियों के विरोध का सामना करना पड़ा है। इस दौरान पीएम मोदी केदारनाथ मंदिर में भगवान शिव की पूजा-अर्चना भी करेंगे।

प्रधानमंत्री सरस्वती आस्थापथ से जुड़े कार्यों की समीक्षा करेंगे और प्रोजेक्ट की प्रगति का जायजा भी लेंगे। इसके अलावा मन्दाकिनी आस्थापथ, तीर्थ पुरोहित गृह और गरुड़ चट्टी पुल जैसी परियोजनाओं का उद्घाटन भी होने वाला है। 130 करोड़ रुपए की इन परियोजनाओं का अनावरण होगा और 180 करोड़ रुपए के प्रोजेक्ट्स की आधारशिला रखी जाएगी। पीएम के रूप में उनका ये पाँचवाँ केदारनाथ का दौरा होगा। 6 नवंबर को केदारनाथ के कपाट भी बंद होने वाले हैं।

जिन नए परियोजनाओं का शिलान्यास होगा, उनमें संगम घाटों का पुर्नविकास, प्राथमिक उपचार और पर्यटक सुविधा केंद्र, एडमिन ऑफिस और अस्पताल, 2 अतिथि गृह, पुलिस स्टेशन, कमांड और कंट्रोल सेंटर, मंदाकिनी आस्थापथ पंक्ति प्रबंधन, रेनशेल्टर और सरस्वती सिविक सुविधा केंद्र की इमारत शामिल है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नई केदारपुरी बनाने का संकल्प लिया था। जगद्गुरु शंकराचार्य की प्रतिमा केदारनाथ धाम पहुँच भी चुकी है। इसके साथ ही भाजपा अपनी उपलब्धियों को उत्तराखंड की जनता तक पहुँचाने का कार्य शुरू कर देगी।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘UPTET के अभ्यर्थियों को सड़क पर गुजारनी पड़ी जाड़े की रात, परीक्षा हो गई रद्द’: जानिए सोशल मीडिया पर चल रहे प्रोपेगंडा का सच

एक तस्वीर वायरल हो रही है, जिसके आधार पर दावा किया जा रहा है कि ये उत्तर प्रदेश में UPTET की परीक्षा देने वाले अभ्यर्थियों की तस्वीर है।

बेचारा लोकतंत्र! विपक्ष के मन का हुआ तो मजबूत वर्ना सीधे हत्या: नारे, निलंबन के बीच हंगामेदार रहा वार्म अप सेशन

संसद में परंपरा के अनुरूप आचरण न करने से लोकतंत्र मजबूत होता है और उस आचरण के लिए निलंबन पर लोकतंत्र की हत्या हो जाती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
140,506FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe