Tuesday, July 23, 2024
Homeविविध विषयमनोरंजनसाउथ के जिस हीरो की फिल्म ने कमाए ₹500 करोड़, वो आम भक्तों की...

साउथ के जिस हीरो की फिल्म ने कमाए ₹500 करोड़, वो आम भक्तों की तरह पहुँचे भगवान अय्यप्पा के दरबार में: सबरीमाला मंदिर में किया दर्शन

इस तस्वीर में जयम रवि के साथ मलयालम के वरिष्ठ अभिनेता जयराम और फिल्म निर्देशक व गीतकार विग्नेश शिवम भी दिख रहे हैं।

आपने अक्सर बॉलीवुड के अभिनेता-अभिनेत्रियों को राजस्थान के अजमेर शरीफ स्थित ख्वाजा मोईनुद्दीन चिश्ती के दरगाह में चादर चढ़ाते हुए देखा होगा। फिल्मों के जरिए ब्राह्मणों को जोकर दिखाने वाले और हिन्दू परंपराओं को अंधविश्वास कहने वाले बॉलीवुड के लोग खुद फिल्मों की रिलीज से पहले दरगाहों के चक्कर लगाते हैं। हालाँकि, दक्षिण भारत में ऐसा नहीं हैं। वहाँ के कई अभिनेता भगवान अय्यप्पा के भक्त हैं। अब जयम रवि की सबरीमाला मंदिर में तस्वीर वायरल हुई है।

असल में जयम रवि वही हैं, जिन्होंने ‘PS 1’ फिल्म में इसके टाइटल किरदार, अर्थात ‘पोन्नियिन सेल्वन’ का किरदार निभाया था। ये किरदार कोई और नहीं, बल्कि दक्षिण भारत के महान शासक राजाराज चोल पर आधारित था। अब जयम रवि की एक तस्वीर सामने आई है, जिसमें वो लाल धोती पहन कर भगवान अय्यप्पा के मंदिर में हाजिरी लगा रहे हैं। ‘PS 1’ ने 500 करोड़ रुपए की वर्ल्डवाइड कमाई भले कर ली, लेकिन उनके पाँव अभी भी जमीन पर हैं।

इस तस्वीर में जयम रवि के साथ मलयालम के वरिष्ठ अभिनेता जयराम और फिल्म निर्देशक व गीतकार विग्नेश शिवम भी दिख रहे हैं। जयम रवि अब तक 9 बड़े अवॉर्ड्स जीत चुके हैं और उनके हाथ में अभी 5 फ़िल्में हैं, जो रिलीज होने वाली हैं। इनमें ‘PS 2’ भी है। जयम रवि की फिल्म ‘Tik Tik Tik’ (2016) और ‘Thani Oruvan’ (2015) खासी सफल रही थीं। भगवान अय्यप्पा के दर्शन के लिए वो आम भक्तों की तरफ ही पहुँचे।

‘PS 1’ की रिलीज से पहले भी जयम रवि सबरीमाला मंदिर पहुँचे थे। आपको याद होगा, किस तरह वामपंथी कार्यकर्ताओं ने सबरीमाला मंदिर को लेकर हंगामा मचाया था और ये फैलाया था कि यहाँ के नियम महिला विरोधी हैं। जबकि, ऐसा नहीं है। बच्चियाँ इस मंदिर में जाती हैं और बुजुर्ग महिलाएँ भी दर्शन कर सकती हैं। मामला सुप्रीम कोर्ट में पहुँचा था और उसने इस नियम को हटा दिया। हालाँकि, हर मंदिर के अलग-अलग नियम होते हैं और कई ऐसे मंदिर भी हैं जहाँ पुरुषों के लिए मनाहियाँ हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नेचुरल फार्मिंग क्या है, बजट में क्यों इसे 1 करोड़ किसानों से जोड़ने का ऐलान: गोबर-गोमूत्र के इस्तेमाल से बढ़ेगी किसानों की आय

प्राकृतिक खेती एक रसायनमुक्त व्यवस्था है जिसमें प्राकृतिक संसाधनों का इस्तेमाल किया जाता है, जो फसलों, पेड़ों और पशुधन को एकीकृत करती है।

नारी शक्ति को मोदी सरकार ने समर्पित किए ₹3 लाख करोड़: नौकरी कर रहीं महिलाओं और उनके बच्चों के लिए भी रहने की सुविधा,...

बजट में महिलाओं की हिस्सेदारी कार्यबल में बढ़ाने पर काम किया गया है। इसके अलावा कामकाजी महिलाओं के लिए छात्रावास स्थापित करने का भी ऐलान हुआ।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -