Tuesday, June 25, 2024
Homeविविध विषयमनोरंजन293 टिकट बिके, ओपनिंग डे पर ₹40000 की भी कमाई नहीं... दर्शकों को ही...

293 टिकट बिके, ओपनिंग डे पर ₹40000 की भी कमाई नहीं… दर्शकों को ही धमका चुके हैं अर्जुन कपूर, अब रिलीज होते ही फ्लॉप हो गई फिल्म

वहीं 'बॉलीवुड हंगामा' के आँकड़े की मानें तो पहले दिन मात्र 500 लोग ही इस फिल्म को देखने पहुँचे और इसका बॉक्स ऑफिस कलेक्शन 30-35,000 रुपए के आसपास रहा।

अर्जुन कपूर की फिल्म ‘The Lady Killer’ बॉक्स ऑफिस पर रिलीज होते ही फ्लॉप घोषित कर दी गई है। इस फिल्म में भूमि पेडनेकर ने बतौर अभिनेत्री काम किया है। शुक्रवार (3 नवंबर, 2023) को रिलीज हुई ‘द लेडी किलर’ के बारे में बताया गया है कि पहले दिन इसके 300 टिकट भी नहीं बिके, फिल्म के बॉक्स ऑफिस कलेक्शन की तो बात ही छोड़ दीजिए। इसके ट्रेलर में दिखाया गया था कि ये फिल्म मर्डर मिस्ट्री के इर्दगिर्द घूमेगी।

साथ ही चर्चाओं को जन्म देने के लिए अर्जुन कपूर और भूमि पेडनेकर के बीच बोल्ड दृश्य भी दिखाए गए थे। स्थिति ये थी कि खुद फिल्म के अभिनेता-अभिनेत्री ने ही अपने सोशल मीडिया हैंडलों से इसके ट्रेलर को शेयर नहीं किया। इसका प्रमोशन तक नहीं किया गया और सोशल मीडिया पर इसे रिलीज कर दिया गया। पहले दिन इसके मात्र 293 टिकट ही बिके। वहीं कलेक्शन की बात करें तो ये 38,000 रुपए के आसपास रहा, जो कि बॉलीवुड स्टार्स के हिसाब से बहुत कम है।

वहीं ‘बॉलीवुड हंगामा’ के आँकड़े की मानें तो पहले दिन मात्र 500 लोग ही इस फिल्म को देखने पहुँचे और इसका बॉक्स ऑफिस कलेक्शन 30-35,000 रुपए के आसपास रहा। रिलीज के 5 दिन पहले ही इसका ट्रेलर आया था। बताया जा रहा है कि फिल्म बजट से ज़्यादा जा रही थी, इसीलिए इसे जल्दी-जल्दी बना कर जैसे-तैसे रिलीज कर दिया गया। ‘The Lady Killer’ को रिलीज के लिए स्क्रीन्स तक नहीं मिले, मतलब इसकी रिलीज सिर्फ एक औपचारिकता भर थी।

बता दें कि अर्जुन कपूर कभी दर्शकों को ही गीदड़-भभकी दे चुके हैं। आमिर खान की ‘लाल सिंह चड्ढा’ के पिटने के बाद उन्होंने एक बयान देते हुए कहा था, “मुझे लगता है कि हमने बॉयकॉट के बारे में चुप रहकर गलती की और यह हमारी शालीनता थी लेकिन लोगों ने इसका फायदा उठाना शुरू कर दिया है। मुझे लगता है कि हमने यह सोचकर गलती की है कि ‘हमारा काम खुद बोलेगा’। आप जानते हैं कि आपको हमेशा अपना हाथ गंदा करने की आवश्यकता नहीं है, लेकिन मुझे लगता है कि हमने इसे बहुत सहन किया और अब लोगों ने इसे एक आदत बना लिया है।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

क्या है भारत और बांग्लादेश के बीच का तीस्ता समझौता, क्यों अनदेखी का आरोप लगा रहीं ममता बनर्जी: जानिए केंद्र ने पश्चिम बंगाल की...

इससे पहले यूपीए सरकार के दौरान भारत और बांग्लादेश के बीच तीस्ता के पानी को लेकर लगभग सहमति बन गई थी। इसके अंतर्गत बांग्लादेश को तीस्ता का 37.5% पानी और भारत को 42.5% पानी दिसम्बर से मार्च के बीच मिलना था।

लोकसभा में ‘परंपरा’ की बातें, खुद की सत्ता वाले राज्यों में दोनों हाथों में लड्डू: डिप्टी स्पीकर पद पर हल्ला कर रहा I.N.D.I. गठबंधन,...

कर्नाटक, तेलंगाना और हिमाचल प्रदेश में कॉन्ग्रेस ने अपने ही नेता को डिप्टी स्पीकर बना रखा है विधानसभा में। तमिलनाडु में DMK, झारखंड में JMM, केरल में लेफ्ट और पश्चिम बंगाल में TMC ने भी यही किया है। दिल्ली और पंजाब में AAP भी यही कर रही है। लोकसभा में यही I.N.D.I. गठबंधन वाले 'परंपरा' और 'परिपाटी' की बातें करते नहीं थक रहे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -