Thursday, July 25, 2024
Homeविविध विषयमनोरंजन'वो लोग हमारी चुप्पी का फायदा उठा रहे, बहुत बर्दाश्त किया': बॉलीवुड के बॉयकॉट...

‘वो लोग हमारी चुप्पी का फायदा उठा रहे, बहुत बर्दाश्त किया’: बॉलीवुड के बॉयकॉट पर भड़के अर्जुन कपूर, पब्लिक को ही धमकाया

"अब इंडस्ट्री के लोगों को एक साथ आने और इसके बारे में खुलकर बात करने की जरूरत है। क्योंकि लोग उनके बारे में क्या लिखते हैं, वो सच्चाई से बहुत दूर होता है।"

सोशल मीडिया पर बॉलीवुड फिल्मों के बहिष्कार का चलन काफी जोर पकड़ रहा था। रिलीज से पहले ही दर्शकों का एक वर्ग उन अभिनेताओं की फिल्मों को टारगेट कर रहा है जिन्हें देश में डर लगता था या जो बहुसंख्यक हिन्दुओं के खिलाफ बयानबाजी करते थे। लोग फिल्म या उसमें मौजूद कलाकारों के पूर्ण बहिष्कार की माँग कर रहे हैं। हाल ही में लाल सिंह चड्ढा और रक्षा बंधन जैसी फिल्मों का दर्शकों ने वो हाल किया कि आमिर खान अभी सदमें में बताए जा रहे हैं। वहीं अब अर्जुन कपूर इस बायकॉट के इस ट्रेंड से भड़के हुए हैं। उन्होंने कहा इस ट्रेंड को खत्म करने के लिए इंडस्ट्री के लोगों को एक साथ आने की जरूरत है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, अर्जुन कपूर ने एक हाल ही में दिए एक इंटरव्यू में कहा, “मुझे लगता है कि हमने बायकॉट के बारे में चुप रहकर गलती की और यह हमारी शालीनता थी लेकिन लोगों ने इसका फायदा उठाना शुरू कर दिया है। मुझे लगता है कि हमने यह सोचकर गलती की है कि ‘हमारा काम खुद बोलेगा’। आप जानते हैं कि आपको हमेशा अपना हाथ गंदा करने की आवश्यकता नहीं है, लेकिन मुझे लगता है कि हमने इसे बहुत सहन किया और अब लोगों ने इसे एक आदत बना लिया है।”

अर्जुन ने आगे कहा, “अब इंडस्ट्री के लोगों को एक साथ आने और इसके बारे में खुलकर बात करने की जरूरत है। क्योंकि लोग उनके बारे में क्या लिखते हैं, वो सच्चाई से बहुत दूर होता है। जब हम ऐसी फिल्में करते हैं, जो बॉक्स ऑफिस पर अच्छा परफॉर्म करती हैं, तो उस समय लोग उन्हें हमारे नाम की वजह से नहीं बल्कि फिल्म की वजह से पसंद करते हैं। हालाँकि, यह अब बहुत ज्यादा हो रहा है और यह गलत है।”

अर्जुन कपूर ने कहा, “सीधे फिल्म का बहिष्कार करना या कुछ भी बोल देना बिल्कुल भी सही नहीं है, ये सिर्फ बात का बतंगड़ बनाने वाली बात है। कम से कम फिल्म के बारे में सुनकर ये तो देख लीजिए कि सारी चीजें सही तरीके से प्रस्तुत हुई हैं या नहीं बेवजह बात को तूल देना और नकारात्मकता डालना सही नहीं है। क्योंकि सैकड़ों लोगों ने यह फिल्म बनाई है, इसलिए फिल्म देखिए और कॉन्टेक्स्ट पर जाइए।”

अर्जुन कपूर ने कहा, “लोगों को शायद ये पता भी नहीं होता है कि आखिर बायकॉट हो क्यों रहा है, लेकिन बातें चालू हो जाती हैं तो लोग उसमें बह जाते हैं। अंधों की तरीके से बहने से बेहतर है कि फिल्म देखें, अपने विचार रखें और तब आगे की चीजें तय करें। उन्होंने ये भी कहा कि आजकल बायकॉट करना एक ट्रेंड सा बन गया है।

गौरतलब है कि अर्जुन कपूर हाल ही में मोहित सूरी की फिल्म ‘एक विलेन 2’ में नजर आए थे। इस फिल्म में अर्जुन के साथ जॉन अब्राहम, दिशा पाटनी और तारा सुतारिया भी थे। ये फिल्म साल 2014 में आई फिल्म ‘एक विलेन’ का दूसरा पार्ट है। हालाँकि, यह फिल्म भी बॉक्स ऑफिस पर पिट गई थी।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘तुमलोग वापस भारत भागो’: कनाडा में अब सांसद को ही धमकी दे रहा खालिस्तानी पन्नू, हिन्दू मंदिर पर हमले का विरोध करने पर भड़का

आर्य ने कहा है कि हमारे कनाडाई चार्टर ऑफ राइट्स में दी गई स्वतंत्रता का गलत इस्तेमाल करते हुए खालिस्तानी कनाडा की धरती में जहर बोते हुए इसे गंदा कर रहे हैं।

मुजफ्फरनगर में नेम-प्लेट लगाने वाले आदेश के समर्थन में काँवड़िए, सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद बोले – ‘हमारा तो धर्म भ्रष्ट हो गया...

एक कावँड़िए ने कहा कि अगर नेम-प्लेट होता तो कम से कम ये तो साफ हो जाता कि जो भोजन वो कर रहे हैं, वो शाका हारी है या माँसाहारी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -