Sunday, July 3, 2022
Homeविविध विषयमनोरंजन'नींद की बीमारी दूर करने के लिए फूँकता था गाँजा, अमेरिका में शुरू किया...

‘नींद की बीमारी दूर करने के लिए फूँकता था गाँजा, अमेरिका में शुरू किया ड्रग्स लेना’: आर्यन खान ने NCB को बताया, फिर भी मिली क्लीन-चिट

एनसीबी की जाँच के दौरान आर्यन ने खुद ड्रग्स लेने की बात को स्वीकारते हुए कहा था कि उन्होंने गांजा पीना ग्रेजुएशन के दिनों से शुरू किया था। ये बात शुक्रवार को एनसीबी द्वारा फाइल की गई चार्जशीट में भी है जिसमें क्रूज से पकड़े गए 20 लोगों में 14 के नाम हैं।

मुंबई ड्रग केस में एनसीबी से क्लिन चिट पाने के बाद आर्यन खान से जुड़ी एक दिलचस्प जानकारी मीडिया में सामने आई है। रिपोर्ट्स के अनुसार, एनसीबी की जाँच के दौरान आर्यन ने खुद ड्रग्स लेने की बात को स्वीकारते हुए कहा था कि उन्होंने गांजा पीना ग्रेजुएशन के दिनों से शुरू किया था। ये बात शुक्रवार को एनसीबी द्वारा फाइल की गई चार्जशीट में भी है जिसमें क्रूज से पकड़े गए 20 लोगों में 14 के नाम हैं। चार्जशीट में से जिन 6 आरोपितों का नाम सबूतों के अभाव में हटाया गया है उनमें एक आर्यन खान हैं।

आर्यन खान ने एनसीबी को दी अपनी स्टेटमेंट में कहा था कि उन्होंने साल 2018 में अमेरिका में रहते हुए गांजा फूँकना शुरू किया था। उस समय वह ग्रेजुएशन कर रहे थे और उन्हें स्लीपिंग डिसॉर्डर हो गया था। इसके बाद उन्होंने इंटरनेट पर आर्टिकल पढ़े जिसमें लिखा था कि इस बीमारी से छुटकारा पाने में गांजा फूँकना मददगार साबित हो सकता है। अपने बयान में आर्यन खान ने ये बात भी मानी थी कि जो चैट उनके फोन में मिली है अनन्या पांडे से ड्रग माँगने वाली वो उन्हीं की हैं। आर्यन ने जाँच एजेंसी को बताया था कि वो बांद्रा में ड्रग डीलर को जानते हैं लेकिन उसका नाम और सही जगह उन्हें नहीं मालूम। उनकी पहचान डीलर से एक अचित नाम के दोस्त के जरिए हुई थी।

बता दें कि पूछताछ में आर्यन खान द्वारा किए गए तमाम बयानों के बाद एनसीबी की ओर से उन्हें क्लिनचिट मिली और कहा गया कि आर्यन के पास से एनसीबी को कोई ड्रग्स नहीं मिले थे या कोई अन्य सबूत ऐसा नहीं था जो साबित करे कि उन्होंने बाकी आरोपितों के साथ मिलकर साजिश रची। एनसीबी के अनुसार, आर्यन खान ड्रग केस में सहआरोपित अरबाज मर्चेंट के बयानों की जाँच से पता चला कि उसने कहीं भी ये बात नहीं कही कि जो 6 ग्राम चरस उसके पास थी उसका आर्यन खान द्वारा किया जाना था। इसके उलट एनसीबी को पता चला कि आर्यन खान ने तो अरबाज मर्चेंट को समझाया था कि वो क्रूज पर ड्रग लेकर न जाएँ।

गौरतलब है कि 2 अक्टूबर 2021 को मुंबई से गोवा जा रहे कार्डिलिया क्रूज में एनसीबी ने छापेमारी करके आर्यन खान को गिरफ्तार किया था। इस मामले में 19 अन्य भी आरोप थे। जब समीर वानखेड़े के नेतृत्व में छापेमारी हुई तो पाया गया कि अरबाज ने अपने जूतों में चरस को छिपा रखा था जिसका सेवल आर्यन करने वाले थे। इस गिरफ्तारी के बाद आर्यन को एनसीबी कस्टडी में रखा गया। 7 अक्टूबर को उन्हें न्यायिक हिरासत में भेजा गया और फिर करीब महीना भर वह ऑर्थर रोड जेल में रहे। 28 अक्टूबर आर्यन की सशर्त बेल हुई और 7 माह बाद आर्यन को केस में क्लीनचिट दे दी गई।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

दोस्त सलमान, शाहवेज, अलीजान और इमरान ने यश रस्तोगी को मार डाला, शव टुकड़े-टुकड़े कर नाले में फेंक दिया: मेरठ पुलिस बोली – ब्लैकमेल...

यूपी के मेरठ में LLB छात्र यश रस्तोगी की गला दबा कर और चाकुओं से वार कर के हत्या कर दी गई। दोस्त सलमान, शाहवेज, अलीजान और इमरान गिरफ्तार।

भाजपा MLA राहुल नार्वेकर बने महाराष्ट्र के नए स्पीकर, मिले 164 मत: ‘जय श्रीराम, जय शिवाजी’ के नारों से गूँजा सदन

महाराष्ट्र विधानसभा के दो दिवसीय विशेष सत्र में भाजपा के विधायक राहुल नार्वेकर को सदन का स्पीकर चुना गया है। उन्हें 164 मत मिले।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
202,752FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe