Tuesday, October 19, 2021
Homeविविध विषयमनोरंजनआयुष्मान खुराना ने किया रिया चक्रवर्ती का समर्थन, कंगना रनौत ने कहा - 'चापलूस...

आयुष्मान खुराना ने किया रिया चक्रवर्ती का समर्थन, कंगना रनौत ने कहा – ‘चापलूस आउटसाइडर’

"चापलूस आउटसाइडर्स बॉलीवुड के माफिया गैंग का समर्थन इसलिए कर रहे हैं क्योंकि उनके भीतर सामान्य प्रतिभा ही है।" रिया चक्रवर्ती का समर्थन किए जाने पर आयुष्मान खुराना को...

सुशांत सिंह राजपूत की कथित आत्महत्या मामले में अब आयुष्मान खुराना भी चर्चा का हिस्सा बन रहे हैं। आयुष्मान खुराना ने एक कमेन्ट कर के रिया चक्रवर्ती का समर्थन किया था, जिसके बाद कंगना रनौत और कमाल आर खान ने उन पर निशाना साधा है। केआरके ने कहा है कि आयुष्मान द्वारा रिया का समर्थन किए जाने के पीछे 3 कारण हैं। उन्होंने पहला कारण ये गिनाया कि आयुष्मान को बॉलीवुड में सर्वाइव करना है।

केआरके ने दूसरा कारण गिनाया कि आयुष्मान खुराना यशराज फिल्म्स के अभिनेता हैं, इसीलिए वो रिया का समर्थन कर रहे हैं। उन्होंने तीसरा कारण गिनाया कि सुशांत सिंह राजपूत सिनेमा इंडस्ट्री में उनके प्रतिद्वंद्वी थे। केआरके ने कहा कि खुराना को चिंता करने की ज़रूरत नहीं है, उनकी भी फिल्में रिलीज होंगी और तब जनता उन्हें उचित जवाब देगी।

वहीं कंगना रनौत ने भी खुराना द्वारा रिया चक्रवर्ती का समर्थन किए जाने पर नाराज़गी जताई। टीम कंगना ने कहा कि ‘चापलूस आउटसाइडर्स’ बॉलीवुड के माफिया गैंग का समर्थन इसीलिए कर रहे हैं क्योंकि उनके भीतर सामान्य प्रतिभा ही है और उन्हें किसी से कोई परेशानी नहीं है क्योंकि वो लोग कंगना और सुशांत के कारण उपजे विवादों का फायदा उठाने में लगे रहते हैं। ये लोग खुलेआम इन दोनों का मजाक उड़ाते हैं।

दरअसल, आयुष्मान खुराना ने रिया चक्रवर्ती के पोस्ट पर हार्ट वाली इमोजी डाल कर उनका समर्थन किया था। साथ ही उन्होंने ब्रोकन हार्ट वाली इमोजी भी कमेन्ट में डाली थी। इसके बाद लोगों ने गुस्सा जताया था कि वो आउटसाइडर होते हुए भी ऐसी हरकत कर रहे हैं। उनके अलावा राकुल प्रीत सिंह, साकिब सलीम और टाइगर श्रॉफ ने भी रिया का समर्थन किया। आयुष्मान और रिया ‘ओ हीरिये’ गाने में साथ काम भी कर चुके हैं।

उधर सुशांत आत्महत्या मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के अधिकारियों ने रिया के साथ ही उनके भाई शोविक से भी काफी लंबी पूछताछ की है। शोविक को करीब 18 घंटे की लंबी पूछताछ के बाद रविवार (अगस्त 9, 2020) को सुबह 6.40 पर छोड़ा गया। इस केस में यह अब तक की सबसे लंबी पूछताछ बताई जा रही है।  ईडी की पूछताछ में फर्जी शेल कंपनी का खुलासा हुआ है। जानकारी के मुताबिक जाँच में 10 करोड़ रुपए से ज्यादा का मामला सामने आया है। 

इस मामले में कूदते हुए संजय राउत ने आरोप लगाया कि भाजपा राज्य में शिवसेना की सरकार को गिरा नहीं पा रही है, इसीलिए पार्टी ने समाचार चैनलों के साथ मिल कर ‘गॉसिपिंग’ कर इसे बड़ा मुद्दा बना दिया है ताकि सरकार को बदनाम किया जा सके। उन्होंने लिखा कि सुशांत सिंह राजपूत का बिहार से कोई संबंध नहीं था और वो पूरी तरह मुंबईकर बन गए थे। उन्होंने आरोप लगाया कि संघर्ष के दिनों में बिहार उनके साथ नहीं था, उन्हें सारा वैभव मुंबई ने दिया।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

धर्मांतरण कराने आए ईसाई समूह को ग्रामीणों ने बंधक बनाया, छत्तीसगढ़ की गवर्नर का CM को पत्र- जबरन धर्म परिवर्तन पर हो एक्शन

छत्तीसगढ़ के दुर्ग में ग्रामीणों ने ईसाई समुदाय के 45 से ज्यादा लोगों को बंधक बना लिया। यह समूह देर रात धर्मांतरण कराने के इरादे से पहुँचा था।

सूरत में मंदिरों-घर की छत पर लाउडस्पीकर, सुबह-शाम हनुमान चालीसा; शनिवार को सत्संग भी: धर्म के लिए हिंदू हुए लामबंद

सूरत में आठ महीने पहले लाउडस्पीकर पर हनुमान चालीसा की हुई शुरुआत ने कैसे हिंदुओं को जोड़ा, इसका संदेश कितना गहरा हुआ, पढ़िए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,980FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe