Thursday, August 5, 2021
Homeविविध विषयमनोरंजनसुशांत की ऑटॉप्सी में जानबूझकर हुई देरी, पेट में जहर घुलने का किया गया...

सुशांत की ऑटॉप्सी में जानबूझकर हुई देरी, पेट में जहर घुलने का किया गया इंतजार: सुब्रमण्यम स्वामी

सुब्रमण्यम स्वामी ने अपने एक ट्वीट में संदीप सिंह का उल्लेख करते हुए लिखा, "संदिग्ध संदीप सिंह से भी सवाल-जवाब होने चाहिए कि वो कितनी बार दुबई गया और क्यों गया? "हत्यारों और उनकी शैतानी मानसिकता की पहुँच धीरे-धीरे सामने आ रही है। ऑटॉप्सी को जानबूझकर लेट किया गया, ताकि सुशांत सिंह के पेट में जहर घुल जाए।"

दिवंगत बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह की मौत का मामला सीबीआई के पास पहुँचने के बाद अब इस केस में बहुत तेजी से कई खुलासे हो रहे हैं। इसी कड़ी में, भारतीय जनता पार्टी के नेता सुब्रमण्यम स्वामी भी इस मामले पर लगातार टिप्पणियाँ कर रहे हैं।

मगंलवार (अगस्त 25, 2020) को भी सुब्रमण्यम स्वामी ने एक ट्वीट किया और सुशांत सिंह राजपूत के दोस्त और फिल्ममेकर संदीप सिंह से पूछताछ की माँग उठाई। इसके अलावा बीजेपी नेता स्वामी ने सुशांत सिंह को जहर दिए जाने की बात भी अपने ट्वीट में की।

सुब्रमण्यम स्वामी ने अपने एक ट्वीट में संदीप सिंह का उल्लेख करते हुए लिखा, “संदिग्ध संदीप सिंह से भी सवाल-जवाब होने चाहिए कि वो कितनी बार दुबई गया और क्यों गया?”

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने सुशांत सिंह को जहर दिए जाने का आरोप लगाते हुए कहा, “हत्यारों और उनकी शैतानी मानसिकता की पहुँच धीरे-धीरे सामने आ रही है। ऑटॉप्सी को जानबूझकर लेट किया गया, ताकि सुशांत सिंह के पेट में जहर घुल जाए।” उन्होंने यह भी कहा कि जो जिम्मेदार हैं, उन पर नकेल कसने की जरूरत है।

इससे पहले भी स्वामी ने सुशांत की मौत के मामले में दुबई कनेक्शन और पोस्टमार्टम लेट होने का मुद्दा उठाया था। सोमवार को ट्वीट करते हुए उन्होंने लिखा था, “जैसे एम्स के डाक्टर्स को सुनंदा पुष्कर के पेट में असली जहर मिला था। वैसा श्रीदेवी और सुशांत के केस में नहीं हुआ। सुशांत ने मौत के दिन दुबई के ड्रग डीलर अयाश खान ने उनसे मुलाकात की थी? आखिर क्यों?”

गौरतलब है कि सुशांत केस में सीबीआई लगातार अपनी जाँच को आगे बढ़ा रही है। ऐसे में सुब्रमण्यम स्वामी भी लगातार इस केस पर अपना मत साझा कर रहे हैं। उनके अलावा सुशांत सिंह राजपूत के भाई नीरज सिंह भी माँग कर रहे हैं कि सिद्धार्थ पिथानी और संदीप सिंह को थर्ड डिग्री देकर पूछताछ की जाए। बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत का निधन 14 जून को हुआ था। सीबीआई उनकी मौत की जाँच कर रही है। 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अफगानिस्तान: पहले कॉमेडियन और अब कवि, तालिबान ने अब्दुल्ला अतेफी को घर से घसीट कर निकाला और मार डाला

अफगानिस्तान के उपराष्ट्रपति अमरुल्लाह सालेह ने भी अब्दुल्ला अतेफी की हत्या की निंदा की और कहा कि अफगानिस्तान की बुद्धिमत्ता खतरे में है और तालिबान इसे ख़त्म करके अफगानिस्तान को बंजर बनाना चाहता है।

‘5 अगस्त की तारीख बहुत विशेष’: PM मोदी ने हॉकी में ओलंपिक मेडल, राम मंदिर भूमिपूजन और 370 हटाने का किया जिक्र

हॉकी में ओलंपिक मेडल, राम मंदिर भूमिपूजन, आर्टिकल 370 हटाने का जिक्र कर प्रधानमंत्री मोदी ने 5 अगस्त को बेहद खास बताया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
113,121FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe