Thursday, August 5, 2021
Homeविविध विषयमनोरंजननाम: करीना कपूर खान, किताब: प्रेगनेंसी बाइबल - ईसाई समूह नाराज, महाराष्ट्र में शिकायत...

नाम: करीना कपूर खान, किताब: प्रेगनेंसी बाइबल – ईसाई समूह नाराज, महाराष्ट्र में शिकायत दर्ज

करीना कपूर की 'प्रेगनेंसी बाइबल' पर उठे विवाद पर पुलिस ने पुष्टि की है कि अभी मामले में बस शिकायत हुई है, कोई एफआईआर दर्ज नहीं की गई। शिकायतकर्ता को कहा गया है कि वह मुंबई में शिकायत करवाएँ क्योंकि किताब बीड में प्रकाशित नहीं हुई।

बॉलीवुड एक्ट्रेस करीना कपूर खान की किताब ‘प्रेगनेंसी बाइबल’ के लॉन्च के बाद एक ईसाई समूह ने इस पर अपनी आपत्ति जाहिर की है। समूह मुख्यत: ‘बाइबल’ शब्द का गलत इस्तेमाल करने पर एक्ट्रेस से नाराज है। इसी कारण उन्होंने महाराष्ट्र के बीड के एक थाने में शिकायत भी करवा दी है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, समूह का नाम अल्फा ओमेगा क्रिश्चियन महासंघ है। इस समूह का कहना है कि किताब के नाम से ईसाइयों की धार्मिक भावना आहत हुई है। समूह के अध्यक्ष आशीष शिंदे ने शिवाजी नगर थाने में शिकायत करवाते हुए माँग की कि लेखक के विरुद्ध ईशनिंदा के आरोप में कार्रवाई हो।

शिंदे ने कहा कि बाइबल उन लोगों के लिए एक पवित्र शब्द है जिसका इस्तेमाल किताब पर किया गया। इससे ईसाइयों की धार्मिक भावना आहत हुई। शिंदे की माँग है कि खान के ख़िलाफ़ आईपीसी धारा 295ए के तहत मुकदमा दर्ज करके कार्रवाई हो।

बता दें कि करीना कपूर की किताब पर उठे विवाद पर पुलिस ने पुष्टि की है कि अभी मामले में बस शिकायत हुई है, कोई एफआईआर दर्ज नहीं की गई। शिकायतकर्ता को कहा गया है कि वह मुंबई में शिकायत करवाएँ क्योंकि किताब बीड में प्रकाशित नहीं हुई।

शिवाजी नगर थाना प्रभारी निरीक्षक साईनाथ थोम्ब्रे ने कहा, “हमें शिकायत मिली है लेकिन यहाँ कोई मामला दर्ज नहीं किया जा सकता क्योंकि घटना यहाँ (बीड में) नहीं हुई है। मैंने उन्हें मुंबई में शिकायत दर्ज कराने की सलाह दी है।”

बता दें कि करीना कपूर खान की ‘प्रेग्नेंसी बाइबिल: द अल्टीमेट मैनुअल फॉर मॉम्स-टू-बी’ नामक पुस्तक करीना कपूर खान और अदिति शाह भीमजयानी द्वारा लिखित है। इसमें बताया गया कि सेलेब्रिटी ने अपनी दोनों गर्भावस्थाओं के दौरान कैसा अनुभव किया। कथित तौर पर, पुस्तक फेडरेशन ऑफ ऑब्स्टेट्रिक एंड गायनेकोलॉजिकल सोसाइटीज ऑफ इंडिया (FOGSI) द्वारा सत्यापित की गई है, जो देश में स्त्री रोग विशेषज्ञों और प्रसूति विशेषज्ञों की आधिकारिक संस्था है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘5 अगस्त की तारीख बहुत विशेष’: PM मोदी ने हॉकी में ओलंपिक मेडल, राम मंदिर भूमिपूजन और 370 हटाने का किया जिक्र

हॉकी में ओलंपिक मेडल, राम मंदिर भूमिपूजन, आर्टिकल 370 हटाने का जिक्र कर प्रधानमंत्री मोदी ने 5 अगस्त को बेहद खास बताया है।

आर्टिकल 370 के खात्मे का भारत स्वप्न, जिसे मोदी सरकार ने पूरा किया: जानिए इससे कितना बदला जम्मू-कश्मीर और लद्दाख

आर्टिकल 370 हटाने के मोदी सरकार के ऐतिहासिक फैसले से न केवल जम्मू-कश्मीर में जमीन पर बड़े बदलाव आए हैं, बल्कि दशकों से उपेक्षित लद्दाख ने भी विकास के नए रास्ते देखे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
113,121FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe