Sunday, June 26, 2022
Homeविविध विषयमनोरंजनअदालत में शराब... कपिल शर्मा शो के खिलाफ FIR, कोर्ट के अपमान का आरोप,...

अदालत में शराब… कपिल शर्मा शो के खिलाफ FIR, कोर्ट के अपमान का आरोप, उधर बच्चन के पान मसाला एड पर भी बवाल

"ये शो काफी मैला है। उन्होंने महिलाओं पर भी आपत्तिनजक टिप्पणियाँ की थीं। ये अदालत की अवमानना है। गंदापन का ऐसा प्रदर्शन प्रतिबंधित किया जाना चाहिए।"

सेट पर शराब पीने वाले सीन का मामला सामने आने के बाद कपिल शर्मा के शो के खिलाफ FIR दर्ज की गई। उधर अमिताभ बच्चन के पान मसाला विज्ञापन पर बवाल मचा है। मध्य प्रदेश के शिवपुरी स्थित डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में ‘द कपिल शर्मा शो’ के खिलाफ FIR दर्ज कराई गई। सोनी टीवी पर आने वाले इस शो के खिलाफ FIR इसीलिए दर्ज की गई है, क्योंकि एक कोर्टरूम सीन को फिल्माने के समय अभिनेताओं को शराब पीते हुए दिखाया गया था।

आरोप है कि इससे अदालत व न्यायपालिका की गरिमा को ठेस पहुँची है। CJM कोर्ट में एक वकील ने ये मामला दर्ज कराया। इस मामले में 1 अक्टूबर, 2021 को सुनवाई होगी। वकील ने कहा, “ये शो काफी मैला है। उन्होंने महिलाओं पर भी आपत्तिनजक टिप्पणियाँ की थीं। एक दृश्य में तो उन्हें कोर्ट का दृश्य फिल्माते हुए देखा गया और अभिनेता शराब पी रहे थे। ये अदालत की अवमानना है। गंदापन का ऐसा प्रदर्शन प्रतिबंधित किया जाना चाहिए।”

दरअसल, जिस एपिसोड को लेकर विवाद हो रहा है उसका प्रसारण 19 जनवरी, 2021 को हुआ था। 24 अप्रैल, 2021 को इसका रिपीट टेलीकास्ट किया गया था। अधिवक्ता के अनुसार, कोर्टरूम सेट पर एक व्यक्ति को शराब के नशे में दिखाया गया है। उनके औसर, ये अदालत का अपमान है। बता दें कि लगभग 7 महीनो तक ऑफ एयर रहने के बाद 21 अगस्त को ही TKSS टीवी पर लौटा है।

उधर तम्बाकू के खिलाफ अभियान चलाने वाले एक राष्ट्रीय NGO ने अमिताभ बच्चन से अपील की है कि वो पान मसाला का विज्ञापन छोड़ें। NGO ने कहा कि इससे युवाओं में गलत सन्देश जा रहा है। ‘National Organisation for Eradication of Tobacco’ के अध्यक्ष शेखर सलकर ने पत्र लिख कहा कि चूँकि बच्चन सरकार के प्लस पोलियो अभियान के ब्रांड एम्बेसडर हैं, उन्हें जल्द से जल्द पान मसाला का विज्ञापन छोड़ना चाहिए।

उन्होंने कहा, “शाहरुख़ खान, अमिताभ बच्चन, रणवीर सिंह, अजय देवगन और हृतिक रौशन जैसे अभिनेता तम्बाकू उत्पादों के विज्ञापन में काम कर रहे हैं। इससे छात्र बड़ी संख्या में तम्बाकू का प्रयोग करने लगे हैं। सिगरेट कंपनियों ने छात्रों को निशाना बनाया है। ये चीजें कैंसर का कारण बन सकती हैं। पान भी ओरल कैसंर पैदा कर सकता है। WHO ने इस वैज्ञानिक अध्ययन को माना है, जिसमें कहा गया था कि पान से ओरल कैंसर हो सकता है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

गे बार के पास कट्टर इस्लामी आतंकी हमला, गोलीबारी में 2 की मौत: नॉर्वे में LGBTQ की परेड रद्द, पूरे देश में अलर्ट

नॉर्वे की राजधानी ओस्लो में गे बार के नजदीक हुई गोलीबारी को प्रशासन ने इस्लामी आतंकवाद करार दिया है। 'प्राइड फेस्टिवल' को रद्द कर दिया गया।

BJP के ईसाई नेता ने हवन-पाठ करके अपनाया सनातन धर्म: घरवापसी पर बोले- ‘मुझे हिंदू धर्म पसंद है, मेरे पूर्वज हिंदू थे’

विवीन टोप्पो ने हिंदू धर्म स्वीकारते हुए कहा कि उन्हें ये धर्म अच्छा लगता है इसलिए उन्होंने इसका अनुसरण करने का फैसला किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
199,313FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe