Thursday, February 22, 2024
Homeविविध विषयमनोरंजनकंगना के खिलाफ गैर-जमानती वारंट के लिए कोर्ट पहुँचे जावेद अख्तर, बॉलीवुड में गुटबाजी...

कंगना के खिलाफ गैर-जमानती वारंट के लिए कोर्ट पहुँचे जावेद अख्तर, बॉलीवुड में गुटबाजी के जिक्र पर मानहानि का किया था केस

कंगना ने 3 नवंबर 2020 को ‘रिपब्लिक टीवी’ को बताया था कि जावेद अख्तर ने उन्हें अपने घर बुलाकर कहा था, “तुम्हें आत्महत्या करनी पड़ेगी, क्योंकि वह तुम्हें जेल में बंद कर देंगे। उन्होंने (ऋतिक रोशन) तुम्हारे खिलाफ़ सारे सबूत इकट्ठा कर लिए हैं। तुम्हें आत्महत्या करनी पड़ेगी, क्योंकि तेरा मुँह काला हो जाएगा तो तू जाएगी कहाँ?”

बॉलीवुड क्वीन कंगना रनौत (Kangana Ranaut) और गीतकार जावेद अख्तर (Javed Akhtar) के बीच रार थमने का नाम नहीं ले रहा है। कंगना के खिलाफ मानहानि का केस दायर करने वाले जावेद अख्तर ने अभिनेत्री के खिलाफ गैर-जमानती वारंट (NBW) जारी करने के लिए सोमवार (13 दिसंबर 2021) को एक कोर्ट में याचिका दायर की। अख्तर ने पिछले साल ही एक्ट्रेस के खिलाफ मानहानि की शिकायत दर्ज कराई थी।

इस मामले में 15 नवंबर को कंगना ने कोर्ट में याचिका दायर कर दो आधारों पर छूट माँगी थी। उन्होंने वकील के जरिए कोर्ट को बताया था कि पहला अस्वस्थ होने के कारण वो कोर्ट में पेश नहीं हो सकती हैं और दूसरा उन्होंने कहा था कि इस मामले में मुख्य मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट (सीएमएम) कोर्ट के उस फैसले को चुनौती देने की तैयारी में हैं, जिसमें इस मामले को दूसरे कोर्ट में ट्रांसफर करने की उनकी माँग को खारिज कर दिया था।

इस पर जावेद अख्तर के वकील जय भारद्वाज ने अदालत में बताया था कि अभिनेत्री अस्वस्थ नहीं, बल्कि अपनी आगामी फिल्मों की शूटिंग में व्यस्त हैं। ये उनके 15 नवंबर के इंस्टाग्राम (Instagram) पोस्ट से आसानी से समझा जा सकता है। सबूत के तौर पर वकील ने कंगना के इंस्टाग्राम हैंडल के प्रिंटआउट भी सौंपा।

भारद्वाज ने कहा कि कंगना रनौत ने अभी तक सीएमएम कोर्ट के आदेश के खिलाफ अपील नहीं की है। अभिनेत्री ने यह कहते हुए सीएमएम अदालत का दरवाजा खटखटाया था कि उन्हें अंधेरी मजिस्ट्रेट अदालत में कोई भरोसा नहीं है और इस मामले को दूसरी अदालत में स्थानांतरित किया जाना चाहिए। कंगना रनौत आखिरी बार 20 सितंबर को अंधेरी मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट आर आर खान के समक्ष पेश हुई थीं।

गौरतलब है कि गीतकार जावेद अख्तर ने पिछले साल 3 नवंबर 2021 को अभिनेत्री के खिलाफ एक आपराधिक मानहानि का मुकदमा दायर किया था। इसमें उन्होंने दावा किया था कि कंगना ने एक टीवी चैनल को दिए साक्षात्कार में ऐसा बयान दिया था, जिसके कारण उनकी बदनामी हुई थी। अख्तर ने दावा किया था कि अभिनेत्री ने पिछले साल जून में अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत द्वारा कथित आत्महत्या के बाद बॉलीवुड में मौजूद ‘एक गुट’ का जिक्र करते हुए उनका नाम घसीटा था।

कंगना का बयान

कंगना ने 3 नवंबर 2020 को ‘रिपब्लिक टीवी’ को बताया था कि जावेद अख्तर ने उन्हें अपने घर बुलाकर कहा था, “तुम्हें आत्महत्या करनी पड़ेगी, क्योंकि वह तुम्हें जेल में बंद कर देंगे। उन्होंने (ऋतिक रोशन) तुम्हारे खिलाफ़ सारे सबूत इकट्ठा कर लिए हैं। वह समझ चुके हैं कि केस पूरी तरह उनके हाथों में है। तुम्हें आत्महत्या करनी पड़ेगी, क्योंकि तेरा मुँह काला हो जाएगा तो तू जाएगी कहाँ?”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अलवर में जहाँ कटती थी गाय उस मंडी को चलाता था वारिस, बना रखा था IPS का फर्जी कार्ड: रिपोर्ट में बताया- सप्लाई के...

मकानों को ध्वस्त किया गया है, बिजली के पोल गिरा कर ट्रांसफॉर्मर हटाए गए हैं और खेती भी नष्ट की गई है। खुद कलक्टर अर्पिता शुक्ला ने दौरा किया।

खनौरी बॉर्डर पर पुलिस वालों को घेरा, पराली में भारी मात्रा में मिर्च डाल कर लगा दी आग… किसानों ने लाठी-गँड़ासे किया हमला, जम...

किसानों द्वारा दाता सिंह-खनौरी बॉर्डर पर पुलिसकर्मियों को घेर कर पुलिस नाके के आसपास भारी मात्रा में मिर्च पाउडर डाल कर आग लगा दी गई।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
418,000SubscribersSubscribe