Tuesday, May 21, 2024
Homeविविध विषयमनोरंजनकोर्ट की लिखाई में ‘श्रुतिसम भिन्नार्थक’ मिस्टेक! रिया सुशांत के साथ रहती थी या...

कोर्ट की लिखाई में ‘श्रुतिसम भिन्नार्थक’ मिस्टेक! रिया सुशांत के साथ रहती थी या छोड़ने को तैयार थी?

सुशांत सिंह राजपूत और रिया चक्रवर्ती के 'Live In' रिलेशनशिप की बातें अब पुरानी हो गईं। कोर्ट ने अब 'Leaving In' रिलेशनशिप का जिक्र किया है। तो क्या सच में रिया सुशांत को छोड़ने वाली थीं?

मुंबई की एक सेशन कोर्ट ने रिया चक्रवर्ती की जमानत याचिका पर सुनवाई करते हुए कुछ ऐसा लिखा, जिससे चर्चा हो रही है कि इसका अर्थ क्या होगा? या फिर क्या ये किसी प्रकार की गलती है? दरअसल, इस आदेश में लिखा हुआ है कि रिकॉर्ड्स से ऐसा पता चलता है कि दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत और आरोपित रिया चक्रवर्ती ‘Leaving In’ रिलेशनशिप में रहते थे। इसका मतलब क्या है, इस पर चर्चा हो रही है।

बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत और रिया चक्रवर्ती के ‘Live In’ रिलेशनशिप में रहने की बातें पहले से ही होती आई हैं। शादी से पहले एक घर में जब दो प्रेमी साथ रहते हैं तो इसे अक्सर ‘Live In’ का नाम दिया जाता है। हालाँकि, कोर्ट के आदेश में ये ‘Leaving In’ का अर्थ यही है या फिर ये है कि रिया अब सुशांत को छोड़ने वाली थी, ये स्पष्ट नहीं हो सका है। या फिर अंदेशा जताया गया है कि ये टाइपिंग मिस्टेक भी हो सकता है।

कोर्ट के आदेश में लिखा है कि रिया चक्रवर्ती सुशांत सिंह राजपूत को ड्रग्स देती थीं और शौविक के जरिए ज़ैद बिलतरा और अब्दुल बासित के जरिए ड्रग्स की व्यवस्था की गई थी। एनसीबी ने जो व्हाट्सप्प चैट और अन्य इलेक्ट्रॉनिक साक्ष्य जुटाए हैं, उससे ये पता चलता है। हालाँकि, अजुन केशवानी के घर से हार्ड ड्रग्स मिलने के मामले में कोर्ट ने कहा कि इसका रिया से कनेक्शन के मामले की जाँच अभी शुरुआती स्टेज में है।

कोर्ट ने एनडीपीएस एक्ट का हवाला देते हुए कहा कि आरोपित को जमानत नहीं दी जा सकती। कोर्ट ने आशंका जताई है कि अगर आरोपित रिया चक्रवर्ती को रिहा किया गया तो वो बाकी आरोपितों को सावधान कर देगी, जिससे उन लोगों को सबूत मिटाने में आसानी होगी। इसके साथ ही कोर्ट ने आदेश जारी किया कि इस मामले में रिया चक्रवर्ती को जमानत नहीं दी जा सकती है और उनकी याचिका निरस्त की जाती है।

इधर नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) की मुंबई जोनल यूनिट ने सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले से जुड़े ड्रग नेक्सस से संबंधित 6 और लोगों को गिरफ्तार किया है। करमजीत सिंह, ड्वेन फर्नांडिस, संकेत पटेल, अंकुश अरनेजा, संदीप गुप्ता और आफताब फतेह अंसारी को गिरफ्तार किया गया है।  इन सभी 6 को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए अतिरिक्त मुख्य मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट की अदालत में पेश किया गया।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

J&K के बारामुला में टूट गया पिछले 40 साल का रिकॉर्ड, पश्चिम बंगाल में सर्वाधिक 73% मतदान: 5वें चरण में भी महाराष्ट्र में फीका-फीका...

पश्चिम बंगाल 73% पोलिंग के साथ सबसे आगे है, वहीं इसके बाद 67.15% के साथ लद्दाख का स्थान रहा। झारखंड में 63%, ओडिशा में 60.72%, उत्तर प्रदेश में 57.79% और जम्मू कश्मीर में 54.67% मतदाताओं ने वोट डाले।

भारत पर हमले के लिए 44 ड्रोन, मुंबई के बगल में ISIS का अड्डा: गाँव को अल-शाम घोषित चला रहे थे शरिया, जिहाद की...

साकिब नाचन जिन भी युवाओं को अपनी टीम में भर्ती करता था उनको जिहाद की कसम दिलाई जाती थी। इस पूरी आतंकी टीम को विदेशी आकाओं से निर्देश मिला करते थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -