Sunday, May 29, 2022
Homeविविध विषयमनोरंजन'फैशन शो में आने के लिए लिए ₹29 लाख ले लिए, लेकिन पहुँचीं ही...

‘फैशन शो में आने के लिए लिए ₹29 लाख ले लिए, लेकिन पहुँचीं ही नहीं’: सोनाक्षी सिन्हा के खिलाफ कोर्ट ने जारी किया वॉरंट, धोखाधड़ी का मामला

प्रमोद का कहना था कि उन्होंने 30 सितंबर, 2018 में इंडिया फैशन एंड ब्यूटी अवॉर्ड कार्यक्रम में अवॉर्ड देने के लिए सोनाक्षी से एक करार किया था।

धोखाधड़ी के मामले में आरोपित बॉलीवुड अभिनेत्री सोनाक्षी सिन्हा और उनके सलाहकार अभिषेक सिन्हा के खिलाफ उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद जिले के चीफ ज्युडिशियल मजिस्ट्रेट ने वॉरंट जारी किया है। इस मामले में अब कोर्ट अगली सुनवाई 25 मार्च, 2022 को करेगा। एक्ट्र्र्रेस पर एक इवेंट में शामिल होने के नाम पर 29.92 लाख रुपए की धोखाधड़ी करने के आरोप हैं।

गौरतलब है कि यह मामला साल 2018 का है। जहाँ शिवपुरी गाँव के रहने वाले प्रमोद शर्मा ने 24 नवंबर, 2018 को मुरादाबाद के एसएसपी से सोनाक्षी सिन्हा के ख़िलाफ शिक़ायत की थी। प्रमोद का कहना था कि उन्होंने 30 सितंबर, 2018 में इंडिया फैशन एंड ब्यूटी अवॉर्ड कार्यक्रम में अवॉर्ड देने के लिए सोनाक्षी से एक करार किया था।

सोनाक्षी पर आरोप है कि फैशन शो में आने के लिए एक्ट्रेस को 29 लाख 90 हजार और उनके सलाहकार अभिषेक ने 6 लाख 50 हजार रुपए लिए थे। लेकिन ऐन वक्त पर वो इस कार्यक्रम में पहुँचे ही नहीं। जब उनसे इसका कारण पूछा गया तो उन्होंने कोई जबाव नहीं दिया। इस कार्यक्रम के लिए प्रमोद ने टैलेंट फुल ऑन कंपनी से करार किया था।

ख़बर के अनुसार, वादी ने एक पत्र लिखकर न्याय की माँग की थी, लेकिन इस मामले को गंभीरता से न लेते हुए क्षेत्राधिकारी टाल-मटोल करते रहे। इससे आहत होकर प्रमोद शर्मा ने 13 फरवरी को ज़हर खाकर आत्महत्या करने की कोशिश की। इस क़दम के बाद राज्य की पुलिस ने आईपीसी की घारा-420, 120 बी, 406, 34 के तहत FIR दर्ज कर ली थी।

FIR में सोनाक्षी सिन्हा, अभिषेक सिन्हा, मालविका पंजाबी, धूमिल कक्कड़, एडगर सकारिया के नाम शामिल हैं, जिन्हें इस मामले में आरोपित बनाया गया था। जानकारी के अनुसार, इस FIR को हाईकोर्ट में चुनौती दी गई थी, जिसके बाद सोनाक्षी सिन्हा की गिरफ़्तारी पर रोक लग गई थी। लेकिन अब एक बार फिर से उनकी मुश्किलें बढ़ सकती हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नूपुर शर्मा का सिर कलम करने वाले को ₹20 लाख इनाम का ऐलान, बताया ‘गुस्ताख़-ए-रसूल’: मुस्लिमों को उकसा रहा AltNews वाला जुबैर

तहरीक-ए-लब्बैक (TLP) वही समूह है जिसने कुछ दिनों सियालकोट में पहले श्रीलंकाई नागरिक की हत्या कर दी थी। अब नूपुर शर्मा का सिर कलम करने पर रखा इनाम।

‘शरिया लॉ में बदलाव कबूल नहीं’: UCC के विरोध में देवबंद के मौलवियों की बैठक, कहा – ‘सब सह कर हम 10 साल से...

देवबंद में आयोजित 'जमीयत उलेमा ए हिन्द' की बैठक में UCC का विरोध किया गया। मौलवियों ने सरकार पर डराने का आरोप लगाया। कहा - ये देश हमारा है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
189,861FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe