Thursday, August 5, 2021
Homeविविध विषयमनोरंजनसुशांत की तस्वीर लगा एकता कपूर ने जुटाना शुरू किया फंड, परिवार ने कहा...

सुशांत की तस्वीर लगा एकता कपूर ने जुटाना शुरू किया फंड, परिवार ने कहा – ‘डिप्रेशन का पोस्टर बॉय न बनाएँ’

फैंस का आरोप था कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत आत्महत्या, डिप्रेशन और मानसिक स्वास्थ्य की वजह से हुई, ऐसा जबरदस्ती साबित करने के लिए एकता कपूर ऐसा कर रहीं।

‘बालाजी टेलीफिल्म्स’ की मालकिन एकता कपूर पर सुशांत सिंह राजपूत के नाम पर रुपए ऐंठने के आरोप लगे हैं। एकता कपूर ने ZEE5 के सीईओ तरुण कटियाल के साथ मिल कर ‘पवित्र रिश्ता फण्ड’ की शुरुआत की, जिसमें सुशांत सिंह राजपूत की तस्वीर लगी हुई थी। बता दें कि सुशांत के पहले सीरियल ‘पवित्र रिश्ता’ को भी एकता कपूर ने ही बनाया था। इसकी घोषणा सुशांत की मौत के 1 महीने बाद ही कर दी गई थी, जिसे अब ऑनलाइन डाला गया।

तरुण ने कहा कि उनका उद्देश्य जागरूकता फैलाना है, ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों की मदद की जा सके। उन्होंने कहा कि जो लोग मानसिक बीमारी से ग्रस्त हैं, उनकी मदद के लिए इस फण्ड का इस्तेमाल किया जाएगा। हालाँकि, एकता कपूर के एक ‘मेन्टल हेल्थ अवेयरनेस इनिशिएटिव’ के कारण लोग नाराज़ हो गए और उन्होंने कहा कि वो अपने किसी फण्ड के लिए दिवंगत अभिनेता के नाम का इस्तेमाल कैसे कर सकती हैं, वो भी बिना परिवार की अनुमति लिए।

फैंस का आरोप था कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत आत्महत्या, डिप्रेशन और मानसिक स्वास्थ्य की वजह से हुई, ऐसा जबरदस्ती साबित करने वाले गैंग की मदद करने के लिए एकता कपूर जानबूझ कर इन चीजों को दिवंगत अभिनेता के नाम के साथ जोड़ रही हैं। एकता कपूर की वेबसाइट पर ‘पवित्र रिश्ता’ फण्ड को ‘मेन्टल वेलनेस’ से जोड़ते हुए सुशांत की तस्वीर लगा ‘हर रिश्ता है खास’ वाली टैगलाइन के साथ पेश किया गया।

इसमें लिखा गया कि मानसिक स्वास्थ्य से जुड़ी चिंताएँ उससे ज्यादा सामान्य हैं, जितना हम समझ रहे हैं। लिखा गया कि हम में से कई लोग इस पर बात करने से भी हिचकते हैं। वेबसाइट पर लिखे दावे के अनुसार, हम पेटदर्द या किसी शारीरिक चोट के बारे में तो खुल कर बात करते हैं लेकिन अपने मानसिक स्थिति को छिपा लेते हैं, उनसे भी जो हमारे क़रीबी हैं। मेन्टल हेल्थ को लेकर जागरूकता की कमी, गोपनीयता और धब्बा वाली मानसिकता रुकनी चाहिए।

उधर सुशांत सिंह राजपूत के जीजा विशाल कीर्ति ने उनके नाम पर बिजनेस चला कर सुर्खियाँ बटोरने वालों को करारा जवाब दिया है। उन्होंने कहा कि दिवंगत अभिनेता की बहन श्वेता और वो सुशांत के नाम पर किसी भी प्रकार के कॉमर्शिलाइजेशन के इच्छुक नहीं हैं। उन्होंने कहा कि अगर लोग सुशांत का नाम लेकर कुछ कर रहे हैं तो ये प्रॉफिट कमाने के इरादे से नहीं होना चाहिए। परिवार ने सुशांत के नाम का इस्तेमाल करते हुए किसी भी लाभकारी गतिविधि का समर्थन नहीं किया है।

वहीं एकता कपूर ने सोशल मीडिया पर फैन्स के गुस्से के बाद अपने फण्ड के एडवर्टाइजमेंट में से सुशांत सिंह राजपूत की तस्वीर हटा दी। बता दें कि एकता अपने इंस्टाग्राम प्रोफाइल पर भी सुशांत को लेकर दुःख जताती रही हैं। उनके बेटे ने भी सुशांत को श्रद्धांजलि दी थी। सुशांत के जीजा ने कहा कि अगर किसी ने उनके नाम पर बिजनेस चलाया तो उससे कोर्ट में निपटा जाएगा। उन्होंने कहा कि सुशांत को मेन्टल हेल्थ का पोस्टर बॉय नहीं बनाएँ।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अगर बायोलॉजिकल पुरुषों को महिला खेलों में खेलने पर कुछ कहा तो ब्लॉक कर देंगे: BBC ने लोगों को दी खुलेआम धमकी

बीबीसी के आर्टिकल के बाद लोग सवाल उठाने लगे हैं कि जब लॉरेल पैदा आदमी के तौर पर हुए और बाद में महिला बने, तो यह बराबरी का मुकाबला कैसे हुआ।

दिल्ली में कमाल: फ्लाईओवर बनने से पहले ही बन गई थी उसपर मजार? विरोध कर रहे लोगों के साथ बदसलूकी, देखें वीडियो

दिल्ली के इस फ्लाईओवर का संचालन 2009 में शुरू हुआ था। लेकिन मजार की देखरेख करने वाला सिकंदर कहता है कि मजार वहाँ 1982 में बनी थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
113,028FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe