Tuesday, August 3, 2021
Homeविविध विषयमनोरंजननिकल जाओ यहाँ से, चले जाओ पाकिस्तान: पल्लवी जोशी ने नसीरुद्दीन और आमिर से...

निकल जाओ यहाँ से, चले जाओ पाकिस्तान: पल्लवी जोशी ने नसीरुद्दीन और आमिर से कहा

हाल ही में सोनी राजदान ने बयान दिया था कि जब भी वह कुछ बोलती हैं तो उन्हें देशद्रोही कहा जाता है। इसलिए कभी-कभी वह सोचती हैं कि उन्हें पाकिस्तान ही चले जाना चाहिए, वह वहाँ पर ज्यादा खुश रहेंगी।

पल्लवी जोशी आने वाली फिल्म ‘द ताशकंद फाइल्स’ में मुख्य भूमिका में नजर आएँगी। इसी फिल्म की प्रचार और तैयारी के दौरान उन्होंने उन सभी सितारों को लेकर रिएक्ट किया, जिन्होंने पिछले दिनों देश में ‘असुरक्षा का माहौल’ फैलने पर ‘देश छोड़ने’ की बात की थी। आमिर खान, नसीरुद्दीन शाह और आलिया भट्ट की माँ सोनी राजदान इस तरह के बयान देकर सुर्खियों में आ चुके हैं।

NBT को दिए एक इंटरव्यू में एक्ट्रेस पल्लवी जोशी ने आमिर और नसीरुद्दीन शाह के बारे में पूछे जाने पर कहा, “आप लोग जाइए पाकिस्तान, अगर आप वहाँ खुश हैं तो जरूर जाइए। अगर आप यहाँ अपने आप को असुरक्षित महसूस करते हैं तो जरूर जाइए। निकल जाइए यहाँ से।”

अपने इंटरव्यू में पल्लवी जोशी ने कहा, “मैं जानती हूँ कि देश में असुरक्षित महसूस करने वाली बात नसीरुद्दीन शाह ने कही थी। उन्हें लगता है कि वह भारत में सुरक्षित नहीं है। ऐसे में उन्हें वहाँ जाना चाहिए जहाँ वे सुरक्षित हैं। यह उनके विचार हैं, इसमें हम कुछ नहीं कह सकते।” पल्लवी जोशी की फिल्म ‘द ताशकंद फाइल्स’ में अभिनेता नसीरुद्दीन शाह भी हैं।

देश में असुरक्षित महसूस करने और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता की हानि को लेकर आमिर खान ने भी काफी चर्चा बटोरी थी। अपनी फिल्मों के प्रचार के लिए अनाप-शनाप बयान देने के लिए मशहूर आमिर खान ने कहा था कि देश का माहौल देखकर उन्हें लगने लगा है कि वो भारत से बाहर चले जाएँ। इसके अलावा, कुछ दिन पहले ही आलिया भट्ट की माँ और महेश भट्ट की पत्नी सोनी राजदान ने भी कहा था कि वह पाकिस्तान में ज्यादा खुश रहेंगी।

अपनी फिल्म ‘नो फादर्स इन कश्मीर’ के प्रमोशन के लिए उन्होंने पाकिस्तान जाकर रहने तक की बात बोल डाली थी। सोनी राजदान ने बयान दिया था कि जब भी वह कुछ बोलती हैं तो ट्रॉल का हिस्सा बन जाती हैं। उन्हें देशद्रोही कहा जाता है। इसलिए कभी-कभी वह सोचती हैं कि उन्हें पाकिस्तान ही चले जाना चाहिए, वह वहाँ पर ज्यादा खुश रहेंगी। 

फ्रीडम ऑफ स्पीच की बात करते हुए पल्लवी जोशी ने कहा, “जैसे मुझे अपने पूरे विचार रखने की आजादी है, वैसे उनको भी विचार रखने की आजादी है, जो उन्होंने रखे हैं और इसके बाद जिस तरह से लोगों ने उनके विचारों पर प्रतिक्रिया दी है, उन लोगों को भी अपने विचारों को रखने की आजादी है। फ्रीडम ऑफ एक्सप्रेशन तो सबके लिए सब जगह है। अब ऐसा तो हो नहीं सकता कि मैं अपने विचार रखूँ और उसको लेकर लोग अपने विचार मुझे न सुनाएँ।” 

पल्लवी जोशी जल्द ही फिल्म ‘द ताशकंद फाइल्स’ में नजर आने वाली हैं। फिल्म देशभर के सिनेमाघरों में 12 अप्रैल को रिलीज हो रही है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सागर धनखड़ मर्डर केस में सुशील कुमार मुख्य आरोपित: दिल्ली पुलिस ने 20 लोगों के खिलाफ फाइल की 170 पेज की चार्जशीट

दिल्ली पुलिस ने छत्रसाल स्टेडियम में पहलवान सागर धनखड़ हत्याकांड में चार्जशीट दाखिल की है। सुशील कुमार को मुख्य आरोपित बनाया गया है।

यूपी में मुहर्रम सर्कुलर की भाषा पर घमासान: भड़के शिया मौलाना कल्बे जव्वाद ने बहिष्कार का जारी किया फरमान

मौलाना कल्बे जव्वाद ने आरोप लगाया है कि सर्कुलर में गौहत्या, यौन संबंधी कई घटनाओं का भी जिक्र किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,696FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe