Sunday, August 1, 2021
Homeविविध विषयमनोरंजन'मैं उन्हें पसंद नहीं करता था, फिर साथ बैठ कर पीने लगे': पहले तलाक...

‘मैं उन्हें पसंद नहीं करता था, फिर साथ बैठ कर पीने लगे’: पहले तलाक के बाद ‘असभ्य’ सलमान ने कुछ यूँ की थी आमिर की मदद

"फिर सलमान खान मेरे जीवन में तब आए, जब मेरी स्थिति ठीक नहीं थी। मेरा तलाक हुआ था। तभी सलमान ने मेरे से मिलने की इच्छा जाहिर की।"

बॉलीवुड अभिनेता आमिर खान और उनकी दूसरी पत्नी किरण राव ने 15 सालों की शादी को ख़त्म करते हुए तलाक की घोषणा कर दी है। हालाँकि, आमिर खान के लिए ये पहली बार नहीं है जब वो तलाक ले रहे हों। 2002 में अपनी पहली पत्नी रीना दत्ता के साथ भी उनका तलाक हो गया था। तब सलमान खान ने उन्हें इससे उबरने में मदद की थी। इसके लगभग दो दशक बाद आमिर खान ने फिर से तलाक लिया है।

आमिर खान ने खुद इसका खुलासा किया था कि कैसे रीना दत्ता से अलग होने के बाद सलमान खान ने उनकी मदद की थी। ‘कॉफी विथ करण’ के एक एपिसोड में उन्होंने बताया था कि उनके जीवन में एक ऐसा समय भी था जब वो सलमान खान से दूरी बना कर रहते थे, लेकिन उनके तलाक के बाद जब सलमान खान ने इससे उबरने में मदद की तो उसके बाद दोनों के बीच के फैसले मिट गए।

आमिर खान ने बताया था, “फिल्म ‘अंदाज़ अपना अपना’ में सलमान खान के साथ काम करने का मेरा अनुभव काफी बुरा रहा था। तब मैं उन्हें पसंद नहीं करता था। मेरी नजर में वो असभ्य और अविवेकी थे। उनके साथ काम कर के ऐसा कड़वा अनुभव हुआ कि मैं उनसे दूर ही रहना चाहता था। फिर सलमान खान मेरे जीवन में तब आए, जब मेरी स्थिति ठीक नहीं थी। मेरा तलाक हुआ था। तभी सलमान ने मेरे से मिलने की इच्छा जाहिर की।”

आमिर खान ने बताया कि जब वो मिले तो दोनों के बीच एक बॉन्डिंग बन गई और वो साथ पीने लगे। आमिर के शब्दों में समझें तो इसके बाद एक सही मित्रता की शुरुआत हुई और तब वो लगातार बढ़ती ही रही। बता दें कि ‘अंदाज़ अपना अपना’ फिल्म 1994 में आई थी, जब आमिर और सलमान नए-नए आए थे, लेकिन एक जाना-पहचाना चेहरा बन चुके थे। दोनों की पहली फ़िल्में ब्लॉकबस्टर हो चुकी थीं।

इधर आमिर खान के बेस्ट फ्रेंड आमीन हाजी ने कहा है अभी भी आमिर खान और किरण राव कारगिल में अपने बेटे आज़ाद के साथ हैं। तलाक के दिन ही सुबह किरण राव ने उन्हें तीनों की साथ में एक तस्वीर भेजी थी। उन्होंने कहा, “कभी-कभी दो अच्छे लोग साथ नहीं रह सकते। ये दोनों परिपक्व हैं। दोनों एक टीम के रूप में काफी अच्छे हैं और व्यक्तिगत व प्रोफेशनल रूप से भी साथ हैं। आमिर और किरण ने भरोसा दिया है कि वो एक-दूसरे से मिलते रहेंगे और उनके बीच कुछ नहीं बदला है।”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पाकिस्तानी मंत्री फवाद चौधरी चीन को भूले, Covid के लिए भारत को ठहराया जिम्मेदार, कहा- विश्व ‘इंडियन कोरोना’ से परेशान

पाकिस्तान के मंत्री फवाद चौधरी ने कहा कि दुनिया कोरोना महामारी पर जीत हासिल करने की कगार पर थी, लेकिन भारत ने दुनिया को संकट में डाल दिया।

ये नंगे, इनके हाथ अपराध में सने, फिर भी शर्म इन्हें आती नहीं… क्योंकि ये है बॉलीवुड

राज कुंद्रा या गहना वशिष्ठ तो बस नाम हैं। यहाँ किसिम किसिम के अपराध हैं। हिंदूफोबिया है। खुद के गुनाहों पर अजीब चुप्पी है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,314FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe