Thursday, June 24, 2021
Home विविध विषय अन्य सलमान खान के ख़िलाफ़ पत्रकार से बदसलूकी के आरोप में कोर्ट ने दिए जाँच...

सलमान खान के ख़िलाफ़ पत्रकार से बदसलूकी के आरोप में कोर्ट ने दिए जाँच के आदेश

24 अप्रैल की सुबह सलमान साईकिल चला रहे थे और उनके 2 अंगरक्षक भी उनके साथ मौजूद थे। इस दौरान वह भी वहाँ कार से गुजरे। सलमान को देखकर उन्होंने बॉडीगार्ड्स की सहमति से उनकी वीडियो बनानी शुरू की। लेकिन.....

बॉलीवुड सुपरस्टार सलमान खान पर पत्रकार से बदसलूकी करने के आरोप में मुंबई की एक कोर्ट ने उनके ख़िलाफ़ पुलिस को जाँच के आदेश दिए हैं। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो उन पर इसी साल अप्रैल में एक पत्रकार से कथित तौर पर मारपीट करने का आरोप लगा था। जिसके बाद जून महीने में पत्रकार ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाकर सलमान खान और उनके 2 बॉडीगार्ड के ख़िलाफ़ FIR दर्ज करने की माँग की थी।

अब इसी मामले पर सुनवाई करते हुए अंधेरी के मेट्रोपॉलिटन कोर्ट ने डीएन नगर पुलिस को सलमान खान और उनके 2 बॉडीगार्ड्स के ख़िलाफ़ एफआईआर दर्ज करने के निर्देश दिए हैं और मामले की जाँच करने को कहा है। जानकारी के अनुसार इस साल के अप्रैल महीने में हुई इस घटना में पत्रकार ने सलमान खान को साईकिल चलाते देख उनकी वीडियो बनाने की कोशिश की थी, जिसके बाद ये घटना घटी।

नवभारत टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक अदालत ने पुलिस को आदेश दिए हैं कि पुलिस सलमान खान और उनके 2 बॉडीगार्ड्स के ख़िलाफ़ एक पत्रकार से मारपीट व बदसलूकी करने के आरोप की जाँच करें और 14 अक्टूबर तक कोर्ट में जाँच रिपोर्ट पेश करे।

गौरतलब है कि जिस पत्रकार ने बॉलीवुड के भाईजान के ख़िलाफ़ मामला दर्ज करवाया है, उसका नाम अशोक पांडेय हैं। अशोक ने अंधेरी के अतिरिक्त मुख्य मेट्रोपॉलिटन मैजिस्ट्रेट आर आर खान की अदालत में आईपीसी की धारा 323 (चोट पहुँचाने), 392 (लूटपाट) और 506 (आपराधिक धमकी) के तहत ‘शिकायत’ दर्ज कराई थी।

अशोक ने अपनी शिकायत में बताया था कि 24 अप्रैल की सुबह सलमान साईकिल चला रहे थे और उनके 2 अंगरक्षक भी उनके साथ मौजूद थे। इस दौरान वह भी वहाँ कार से गुजरे। सलमान को देखकर उन्होंने बॉडीगार्ड्स की सहमति से उनकी वीडियो बनानी शुरू की। लेकिन सलमान को यह चीज पसंद नहीं आई और उनके बॉडीगार्ड उनके(अशोक) के पास आकर उनसे मारपीट करने लगे। पत्रकार का आरोप है कि इस दौरान उसका फोन भी छीन लिया गया। और जब उसने पुलिस को शिकायत दर्ज कराई तो उन्होंने भी एफआईआर नहीं लिखी, जिस कारण उन्हें कोर्ट का सहारा लेना पड़ा।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

फतेहपुर के अंग्रेजी मीडियम स्कूल में हिंदू बच्चे पढ़ते थे नमाज: महिला टीचर ने खोली मौलाना उमर गौतम के धर्मांतरण गैंग की पोल

फतेहपुर के नूरुल हुदा इंग्लिश मीडियम स्कूल में मौलाना उमर के गिरोह की सक्रियता का खुलासा वहाँ की ही एक महिला टीचर ने किया है।

8 दल-14 नेता: PM मोदी का जम्मू-कश्मीर में ग्रासरूट डेमोक्रेसी पर जोर, जानिए राज्य का दर्जा और विधानसभा चुनाव कब

प्रधानमंत्री ने कहा कि वह 'दिल्ली की दूरी' और 'दिल की दूरी' को मिटाना चाहते हैं। परिसीमन के बाद विधानसभा चुनाव उनकी प्राथमिकता में है।

₹60000 करोड़, सबसे सस्ता स्मार्टफोन, 109 शहरों में वैक्सीनेशन सेंटर: नीता अंबानी ने बताया कोरोना काल का ‘धर्म’

रिलायंस इंडस्ट्रीज की AGM में कई बड़ी घोषणाएँ की गई। कोविड संकट से देश को उबारने के प्रति प्रतिबद्धता दिखाई गई।

मोदी ने भगा दिया वाला प्रोपेगेंडा और माल्या-चोकसी-नीरव पर कसता शिकंजा: भारत में आर्थिक पारदर्शिता का भविष्य

हमारा राजनीतिक विमर्श शोर प्रधान है। लिहाजा कई महत्वपूर्ण प्रश्न दब गए। जब इन आर्थिक भगोड़ों पर कड़ाई का नतीजा दिखने लगा है, इन पर बात होनी चाहिए।

कोरोना वैक्सीन पर प्रशांत भूषण की नई कारस्तानी: भ्रामक रिपोर्ट शेयर की, दावा- टीका लेने वालों की मृत्यु दर ज्यादा

प्रशांत भूषण एक बार फिर ट्वीट्स के जरिए कोरोना वैक्सीन पर लोगों को गुमराह कर डराने की कोशिश करते नजर आए हैं।

‘ममता के वकील भी पॉलिटिकल’: नंदीग्राम की सुनवाई से खुद को अलग करने पर जस्टिस चंदा ने फैसला सुरक्षित रखा

जस्टिस कौशिक चंदा ने उस याचिका पर फैसला सुरक्षित रख लिया है, जिसमें उनसे खुद को सुनवाई से अलग करने की माँग की गई है।

प्रचलित ख़बरें

TMC के गुंडों ने किया गैंगरेप, कहा- तेरी काली माँ न*गी है, तुझे भी न*गा करेंगे, चाकू से स्तन पर हमला: पीड़ित महिलाओं की...

"उस्मान ने मेरा रेप किया। मैं उससे दया की भीख माँगती रही कि मैं तुम्हारी माँ जैसी हूँ मेरे साथ ऐसा मत करो, लेकिन मेरी चीख-पुकार उसके बहरे कानों तक नहीं पहुँची। वह मेरा बलात्कार करता रहा। उस दिन एक मुस्लिम गुंडे ने एक हिंदू महिला का सम्मान लूट लिया।"

‘CM योगी पहाड़ी, गोरखपुर मंदिर मुस्लिमों की’: धर्मांतरण पर शिकंजे से सामने आई मुनव्वर राना की हिंदू घृणा

उन्होंने दावा किया कि योगी आदित्यनाथ को प्रधानमंत्री बनने की इतनी जल्दी है कि 1000 क्या, वो ये भी कह सकते हैं कि यूपी में 1 करोड़ हिन्दू धर्मांतरण कर के मुस्लिम बन गए हैं।

कन्नौज के मंदिर में घुसकर दिलशाद ने की तोड़फोड़, उमर ने बताया- ये सब किसी ने करने के लिए कहा था

आरोपित ने बताया है कि मूर्ति खंडित करने के लिए उसे किसी ने कहा था। लेकिन किसने? ये जवाब अभी तक नहीं मिला है। फिलहाल पुलिस उसे थाने ले जाकर पूछताछ कर रही है।

‘सत्यनारायण और भागवत कथा फालतू, हिजड़ों की तरह बजाते हैं ताली’: AAP नेता का वीडियो वायरल

AAP की गुजरात इकाई के नेता गोपाल इटालिया का एक वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें वे हिन्दू परंपराओं का अपमान करते दिख रहे हैं।

‘इस्लाम अपनाओ या मोहल्ला छोड़ो’: कानपुर में हिन्दू परिवारों ने लगाए पलायन के बोर्ड, मुस्लिमों ने घर में घुस की छेड़खानी और मारपीट

पीड़ित हिन्दू परिवारों ने कहा कि सपा विधायक आरोपितों की मदद कर रहे हैं। घर में घुस कर मारपीट की गई। लड़की के साथ बलात्कार का भी प्रयास किया गया।

जानिए कैसे श्याम प्रताप सिंह बन गया मौलाना मोहम्मद उमर, पूर्व PM का रिश्तेदार है परिवार: AMU से मिल चुका है सम्मान

जानिए कैसे श्याम प्रताप सिंह बन गया मौलाना मोहम्मद उमर गौतम, जिसने 1000 हिंदुओं को मुस्लिम बनाया। उसका परिवार दिवंगत पूर्व PM वीपी सिंह का रिश्तेदार है। उसका कहना था कि वो 'अल्लाह का काम' कर रहा है।
- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
105,757FollowersFollow
392,000SubscribersSubscribe