Sunday, June 16, 2024
Homeविविध विषयअन्यसचिन तेंदुलकर के बेटे को कुत्ते ने काटा, जिस हाथ से बॉलिंग करते हैं...

सचिन तेंदुलकर के बेटे को कुत्ते ने काटा, जिस हाथ से बॉलिंग करते हैं अर्जुन उसमें ही घाव: गौतम गंभीर की टीम से है मुंबई इंडियंस का मुकाबला

वीडियो की शुरुआत में जब बाँया अर्जुन हाथ दिखा रहे होते हैं तो उनकी उँगलियों में सूजन साफ तौर पर देखी जा सकती है। बता दें कि अर्जुन बाएँ हाथ से गेंदबाजी करते हैं।

दिग्गज पूर्व क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर के बेटे अर्जुन तेंदुलकर कुत्ते के हमले का शिकार हो गए। इस बात की जानकारी अर्जुन ने ही दी है। इस चोट के चलते कयास लगाए जा रहे हैं कि वह IPL के आने वाले कुछ मैचों में खेलते हुए दिखाई नहीं देंगे।

अर्जुन तेंदुलकर IPL में मुंबई इंडियंस का हिस्सा हैं। मंगलवार (16 मार्च, 2023) को मुंबई इंडियंस का मुकाबला ‘लखनऊ सुपर जायंट्स (LSG)’ से है। इस मैच से पहले लखनऊ ने अर्जुन तेंदुलकर का एक वीडियो शेयर किया है। इस वीडियो में अर्जुन लखनऊ के खिलाड़ी मोहसिन खान और युद्धवीर सिंह से बातचीत करते दिखाई दे रहे हैं। इस दौरान ही उन्होंने बताया है कि कुत्ते ने उन्हें काट लिया।

वीडियो की शुरुआत में जब बाँया अर्जुन हाथ दिखा रहे होते हैं तो उनकी उँगलियों में सूजन साफ तौर पर देखी जा सकती है। बता दें कि अर्जुन बाएँ हाथ से गेंदबाजी करते हैं। ऐसे में यह स्पष्ट है कि उँगलियों में सूजन के चलते उन्हें गेंदबाजी करने में समस्या होगी। कहा जा रहा है कि इस चोट के चलते अर्जुन तेंदुलकर लखनऊ सुपर जायंट्स के खिलाफ होने वाले मैच में नहीं खेल पाएँगे। इसके अलावा आगामी कुछ मैचों में भी उनके खेलने पर संशय बना रहेगा।

बता दें कि अर्जुन तेंदुलकर ने IPL 2023 में ही मुंबई इंडियंस के लिए डेब्यू किया है। लेकिन इस सीजन उन्हें खेलने का अधिक मौका नहीं मिला। इसका सबसे बड़ा अर्जुन का व्यक्तिगत प्रदर्शन है। आईपीएल 2023 के 4 मैचों में अर्जुन महज 3 ही विकेट हासिल करने में कामयाब रहे। वहीं, मुंबई के पास बाएँ हाथ के अन्य तेज गेंदबाज भी हैं जो कि अर्जुन की अपेक्षा कहीं बेहतर प्रदर्शन कर रहे हैं। मौजूदा परिस्थितियों को देखते हुए यह कहा जा सकता है कि IPL 2023 के जारी सीजन में अर्जुन तेंदुलकर को अब शायद ही खेलने का मौका मिले।

हालाँकि, इसके बाद भी वह नेट प्रैक्टिस में तेज गेंदबाजी करते देखे जा रहे हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बाबरी अब मस्जिद नहीं ‘ढाँचा’, राम मंदिर ‘राष्ट्रीय गर्व’, अयोध्या ‘पवित्र स्थल’: NCERT ने 12वीं की किताब में किया बदलाव, सुप्रीम कोर्ट के फैसले...

अयोध्या को भारत के सबसे पवित्र स्थलों में से एक बताया गया है। राम जन्मभूमि को 'राष्ट्रीय गर्व' लिखा गया है। सन् 1528 में इसे तोड़ कर यहाँ ढाँचा बना।

दिल्ली पुलिस को पाइपलाइन की रखवाली के लिए लगाना चाहती है AAP सरकार, कमिश्नर को आतिशी ने लिखा पत्र: घोटाले का आरोप लगा BJP...

बीजेपी ने कहा कि अरविंद केजरीवाल ने जब से दिल्ली जल बोर्ड की कमान संभाली, उसके एक साल में जमकर धाँधली हुई और दिल्ली जल बोर्ड को बर्बाद कर दिया गया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -