Friday, May 24, 2024
Homeविविध विषयअन्य'भोजपुरी भाषा का प्रयोग वर्जित' वाला स्कूल बोर्ड देख कर भड़के खेसारी लाल यादव,...

‘भोजपुरी भाषा का प्रयोग वर्जित’ वाला स्कूल बोर्ड देख कर भड़के खेसारी लाल यादव, पूछा- काहे हो?

"काहे अइसन का बात भइल की भोजपुरी भाषा ना बोलल जाई, जवन लिखले बा ओकर सच में दिमाग खराब हो गईल बा।"

भोजपुरी फिल्मों के जाने-माने एक्टर खेसारी लाल यादव एक बार फिर से सुर्खियों में हैं। इस बार वो अपने एक ट्वीट की वजह से चर्चा में हैं। दरअसल उन्होंने एक तस्वीर के साथ ट्वीट किया है। इसमें एक स्कूल का बोर्ड लगा है। 

इस तस्वीर में लिखा है, “सूचना : विद्यालय परिसर में भोजपुरी भाषा का प्रयोग वर्जित है।” इस फोटो को शेयर करते हुए खेसारी लाल यादव ने भोजपुरी में सवाल करते हुए लिखा है – “काहे हो” (क्यों)। इसके साथ उन्होंने गुस्से वाला इमोजी भी लगाया है।

खेसारी लाल यादव के इस ट्वीट के वायरल होते ही लोगों ने प्रतिक्रियाएँ देनी शुरू कर दीं। एक यूजर ने इस पर कमेंट करते हुए लिखा, “कहाँ का स्कूल है। प्रिंसिपल पर तुरंत कार्रवाई हो।”

रिजवान अंसारी ने लिखा, “काहे कि हमनी के खुद अपना भाषा के कदर ना कइनी सन केतना लोग बोले ला? सब केहू हिन्दी इंगलिस के पीछे पागल हो गइल बा और भोजपुरी पीछे छूट गइल ओकरा बाद त सबके पता बा।” (क्योंकि हमें खुद अपनी भाषा की कद्र नहीं है। सब कोई हिंदी इंगलिश के पीछे पागल हो गए हैं और उसके बाद का तो सबको पता ही है।)

निम्मी सिंह ने लिखा, “काहे अइसन का बात भइल की भोजपुरी भाषा ना बोलल जाई, जवन लिखले बा ओकर सच में दिमाग खराब हो गईल बा।” (क्यों ऐसी क्या बात हो गई कि भोजपुरी भाषा नहीं बोली जाएगी। जिसने ऐसा लिखा है, उसका दिमाग सच में खराब हो गया है।)

प्रवीण राय ने लिखा, “स्कूल विदेश में बा। इसकी मान्यता तुरंत रद्द हो, जब हर स्टेट में अपनी अपनी भाषा है तो फिर भोजपुरी से काहे हिल त बाड़ जा।”

एक अन्य यूजर ने लिखा, “भोजपुरी भाषा से ही हम बोलना शुरु करते हैं। कैसे इसे छोड़ सकते हैं, जिसको अच्छा नहीं लगता वे ना बोलें, मुझे अच्छा लगता है और यही बोलते हैं। यहाँ तो अब जैसे रिवाज़ चलता आ रहा जिससे शुरुआत करते हैं, उसी को भूल जाते हैं।”

वहीं विशाल कुमार राव ने लिखा, “जातिवाद बढ़ाओगे तो बैन तो होगा ही… केवल जाति पे गाना गाते हो… तुम एक भी गाना बता दो ना अपना जो अपने बेटी के साथ सुन सकते हो।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नाम – कृष्णा मोहिनी, जगह – द्वारका, एजेंडा – प्राइड मार्च वाला: Colors के सीरियल में LGBTQIA+ प्रोपेगंडा के लिए बच्चे का इस्तेमाल, लड़का...

सीरियल में जब बच्चा पूछता है कि 'प्राइड मार्च' क्या होता है, तो एक शख्स समझाता है कि वो लड़की पैदा हुई थी लेकिन उसे लड़के जैसा रहना पसंद है तो उसने खुद को लड़का बना दिया।

पहले दोस्ती की, फिर फ्लैट में ले गई… MP अनवारुल अजीम की हत्या में शिलांती रहमान पकड़ी गई, कसाई से कटवाया फिर हल्दी लगाकर...

बांग्लादेशी सांसद की हत्या मामला में वो महिला हिरासत में ले ली गई है जिसने उन्हें हनीट्रैप में फँसाकर फ्लैट में बुलवाया था। महिला का नाम शिलांती रहमान है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -