Saturday, May 18, 2024
Homeविविध विषयअन्य'मुझे एक बार भी कॉल नहीं किया': वर्ल्ड कप में शमी ने चटकाए धुआँधार...

‘मुझे एक बार भी कॉल नहीं किया’: वर्ल्ड कप में शमी ने चटकाए धुआँधार विकेट्स तो छलका बीवी का दर्द, बोलीं – उसे फादर होने का ही एहसास नहीं

ICC वनडे वर्ल्ड कप 2023 में मोहम्मद शमी शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं। पूरा देश उन्हें शुभकामनाएँ दे रहा है। इसी बीच उनकी बीवी हसीन जहाँ ने भी कहा कि मोहम्मद शमी को फादर होने का अहसास नहीं है। उन्होंने कभी बच्ची के बारे में पूछने के लिए फोन नहीं किया। हसीन जहाँ ने कहा कि अच्छे खिलाड़ी की तरह वे अच्छे हसबैंड और फादर भी होते।

ICC वनडे वर्ल्ड कप 2023 में मोहम्मद शमी शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं। न्यूजलैंड के खिलाफ 15 नवंबर 2023 को हुए सेमीफाइनल मैच में 7 विकेट लेकर उन्होंने नया रिकॉर्ड बनाया है। इसके बाद देश भर में मोहम्मद शमी की वाहवाही हो रही है। पूरा देश उन्हें शुभकामनाएँ दे रहा है। इसी बीच उनकी बीवी हसीन जहाँ ने भी शमी को लेकर अपनी प्रतिक्रिया दी है।

यूपी तक से बातचीत में हसीन जहाँ ने कहा, “मेरे मालिक मेरे रब ही हैं। अब जो मेरी किस्मत में होगा, वो देखा जाएगा। तो फ्यूचर को लेकर मैं इतना भी चिंतित नहीं रहती हूँ।” हसीन जहाँ ने कहा कि क्रिकेटर मोहम्मद शमी का उनके पास कभी फोन नहीं आता है।”

हसीन जहाँ ने कहा, “एक फादर होने का अहसास होना चाहिए… उसने मेरे साथ जो भी दुश्मनी क्रिएट करके रखा है, लेकिन फिर उसे ये अहसास होता कि वह एक फादर है…. ये चीजें मैंने कभी अहसास नहीं किया है और ना उसने (शमी) ने करवाया है। मेरी बच्ची ने तो कभी अहसास किया ही नहीं कि हाँ मेरे फादर हैं या फादर की रिस्पॉन्सिब्लिटी वो उठाए। काश वो एक अच्छा प्लेयर होने के साथ-साथ एक अच्छा हसबैंड, एक अच्छा फादर और एक अच्छा इंसान भी होता।”

बताते चलें कि वर्ल्ड कप 2023 के सेमीफाइनल्स में मोहम्मद शमी के धुआँधार प्रदर्शन के बाद जहां पूरा देश उनकी गेंदबाजी की तारीफ करते नहीं थक रहा, वहीं उनकी बीवी हसीन जहां का भी एक वीडियो इंस्टाग्राम पर सामने आया है। इस वीडियो में वो एक गाने पर लिप्सिंग करते और शर्माते हुए नजर आ रही हैं।

इस वीडियो के कैप्शन में लिखा है- “प्योर लव।” जिस गाने पर शमी की बीवी ने वीडियो बनाया है। उसके लिरिक्स हैं- “तेरे नाम से ही मुझको दुनिया वाले जानेंगे। तेरी सूरत देखकर ही लोग मुझे पहचानेंगे।” हसीन जहां की रील देखने के बाद अब मोहम्मद शमी के फैंस ताबड़तोड़ कमेंट कर रहे हैं। 

शौहर-बीवी के बीच है विवाद

दरअसल, मोहम्मद शमी और उनकी बीवी हसीन जहाँ के बीच साल 2018 से ही विवाद है। हसीन जहाँ ने शमी पर न सिर्फ अपनी प्रताड़ना, बल्कि मैच फिक्सिंग का भी आरोप लगाया था। उस समय शमी ने कहा था कि उन्हें नहीं पता कि उनकी बीवी को कौन भड़का रहा है। मैच फिक्सिंग के आरोपों पर शमी ने कहा था कि वे देश से गद्दारी के बजाए मरना पसंद करेंगे।

बाद में शमी और हसीन जहाँ अलग-अलग हो गए थे। कोलकाता की अलीपुर जिला अदालत ने 23 जनवरी 2023 को अपने निर्णय में मोहम्मद शमी को आदेश दिया था कि वो हर महीने हसीन जहाँ को 50 हजार रुपए गुजारा भत्ता के तौर पर दें। इसके बाद हसीन ने दोबारा शमी की गिरफ्तारी के लिए सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया।

अपनी याचिका में उन्होंने दावा किया कि भारतीय गेंदबाज मोहम्मद शमी वेश्याओं के साथ संबंध बनाते हैं। विदेशी दौरों पर होटल रूम में वेश्याओं को लेकर आते हैं। हसीन जहाँ के अनुसार, शमी ने वेश्याओं के संपर्क में रहने और उनसे अवैध संबंध बनाने के लिए अपने दूसरे मोबाइल फोन का इस्तेमाल किया। उस फोन को कोलकाता की लाल बाजार पुलिस ने जब्त कर लिया है।

हसीन जहाँ ने अपनी याचिका में यह भी कहा था, “शमी अभी भी वेश्याओं के साथ यौन गतिविधियों में शामिल हैं। पिछले 4 साल से इस मामले में सुनवाई आगे नहीं बढ़ी है। शमी निचली अदालत में पेश नहीं हुए और जमानत के लिए आवेदन भी नहीं किया।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

स्वाति मालीवाल बन गई INDI गठबंधन में गले की फाँस? राहुल गाँधी की रैली के लिए केजरीवाल को नहीं भेजा गया न्योता, प्रियंका कह...

दिल्ली में आयोजित होने वाली राहुल गाँधी की रैली में शामिल होने के लिए AAP प्रमुख अरविंद केजरीवाल को न्योता नहीं दिया गया है।

‘अनुच्छेद 370 को हमने कब्रिस्तान में गाड़ दिया, इसे वापस नहीं लाया जा सकता’: PM मोदी बोले- अलगाववाद को खाद-पानी देने वाली कॉन्ग्रेस ने...

पीएम मोदी ने कहा, "आजादी के बाद गाँधी जी की सलाह पर अगर कॉन्ग्रेस को भंग कर दिया गया होता, तो आज भारत कम से कम पाँच दशक आगे होता।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -