Tuesday, September 28, 2021
Homeविविध विषयअन्यजिसका भी नाम 'नीरज' है, वो ₹501 का मुफ्त पेट्रोल ले जाए: ओलंपिक स्वर्ण...

जिसका भी नाम ‘नीरज’ है, वो ₹501 का मुफ्त पेट्रोल ले जाए: ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता के सम्मान में पेट्रोल पंप का ऐलान

इस पेट्रोल पंप के मालिक अयूब पठान ने ये बोर्ड लगाया है। उन्होंने रविवार (8 अगस्त, 2021) को ये घोषणा की। ये ऑफर आज सोमवार भर के लिए है।

टोक्यो ओलंपिक में ‘जेवलिन थ्रो’ में स्वर्ण पदक जीत कर भारत का नाम रोशन करने वाले नीरज चोपड़ा का खुमार पूरे देश में छाया हुआ है। अब गुजरात में ‘इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन लिमिटेड’ के एक पेट्रोल पंप ने घोषणा की है कि जिस भी व्यक्ति का नाम नीरज है, उसे मुफ्त में रुपए की पेट्रोल दी जाएगी। दक्षिणी गुजरात के भरूच जिले के नेत्रंग में स्थित एक पेट्रोल पंप ने ये ऐलान किया है। एक बोर्ड पर इस ऑफर को लिख कर पेट्रोल पंप पर लगा दिया गया है।

इस पेट्रोल पंप के मालिक अयूब पठान ने ये बोर्ड लगाया है। उन्होंने रविवार (8 अगस्त, 2021) को ये नोटिस बोर्ड लगाया। ये ऑफर आज सोमवार भर के लिए है। सुबह 9 बजे से लेकर शाम 5 बजे तक नीरज नाम का जो भी व्यक्ति अपनी गाड़ी में पेट्रोल भरवाने आएगा, टोक्यो ओलंपिक में स्वर्ण पदक विजेता नीरज चोपड़ा के सम्मान में उसे 501 रुपए की मुफ्त पेट्रोल दी जाएगी। इसके लिए ग्राहकों को अपना पहचान पत्र दिखाना होगा।

बता दें कि 2008 में बीजिंग में हुए बीजिंग ओलंपिक में भारत के शूटर अभिनव बिंद्रा ने स्वर्ण पदक जीता था। उसके बाद ये पहले मौका है, जब भारत में ओलंपिक स्वर्ण पदक आया हो। हरियाणा स्थित पानीपत के खंडरा गाँव में जन्मे नीरज चोपड़ा ने ये कमाल किया। इसके बाद राष्ट्रपति कोविंद और प्रधानमंत्री मोदी से लेकर पूरे देश ने उन्हें बधाई दी। हरियाणा के खेल मंत्री अनिल विज ने उनके घर जाकर उनके माता-पिता को सम्मानित किया।

बता दें कि नीरज चोपड़ा के गाँव के कई लोगों ने उनके लिए शिवरात्रि का व्रत रखा था और भोला बाबा से प्रार्थना की थी कि उनका ‘निज्जू’ सबसे दूर भाला फेंके। लोगों का पहले ही कहना था कि अगर वो गोल्ड लेकर आते हैं तो पूरे गाँव की तस्वीर बदल जाएगी। युवा इसीलिए खुश हैं क्योंकि प्रदेश सरकार बड़े स्टेडियम या कोई अन्य सौगात गाँव को दे सकती है। किसी ने शिवरात्रि का व्रत रखा तो किसी ने उनकी सफलता के लिए शिवलिंग पर जल चढ़ाया।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

महंत नरेंद्र गिरि के मौत के दिन बंद थे कमरे के सामने लगे 15 CCTV कैमरे, सुबूत मिटाने की आशंका: रिपोर्ट्स

पूरा मठ सीसीटीवी की निगरानी में है। यहाँ 43 कैमरे लगाए गए हैं। इनमें से 15 सीसीटीवी कैमरे पहली मंजिल पर महंत नरेंद्र गिरि के कमरे के सामने लगाए गए हैं।

अवैध कब्जे हटाने के लिए नैतिक बल जुटाना सरकारों और उनके नेतृत्व के लिए चुनौती: CM योगी और हिमंता ने पेश की मिसाल

तुष्टिकरण का परिणाम यह है कि देश के बहुत बड़े हिस्से पर अवैध कब्जा हो गया है और उसे हटाना केवल सरकारों के लिए कानून व्यवस्था की चुनौती नहीं बल्कि राष्ट्रीय सभ्यता के लिए भी चुनौती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
124,827FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe