Wednesday, June 19, 2024
Homeविविध विषयअन्यहार गए कोहली, मोदी के अंध-विरोधियों ने Pak के 'महान कप्तान' को दिलाई जीत

हार गए कोहली, मोदी के अंध-विरोधियों ने Pak के ‘महान कप्तान’ को दिलाई जीत

मोदी-विरोध के चक्कर में कई भारतीयों ने भी इमरान खान को वोट दे डाला। डॉक्टर सैयद उज्मा ने लिखा कि उसने इमरान खान को इसीलिए वोट किया क्योंकि पाकिस्तान में अल्पसंख्यक सुरक्षित हैं।

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) ने बतौर कप्तान दुनिया भर के 4 बड़े खिलाड़ियों के परफॉरमेंस को लेकर वोटिंग कराई, जिसमें मुख्य मुकाबला तीनों फॉर्मेट में भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली और कभी पाकिस्तान को वर्ल्ड कप दिला चुके इमरान खान के बीच था। इमरान अब पाकिस्तान के प्रधानमंत्री हैं। कई भारतीयों ने भी उनके लिए वोट किया। ICC के पोल में अंततः इमरान खान 47.3% वोटों के साथ विजयी घोषित किए गए।

कई भारतीय नागरिकों ने भी अंध मोदी-विरोध में इमरान खान को वोट दे दिया। ICC के ट्विटर हैंडल पर हुए इस पोल में 536,346 लोगों ने हिस्सा लिया, जिसमें से विराट कोहली को 46.2% वोट मिले, जो इमरान खान से 1.1% कम हैं। एक समय ऐसा था, जब दोनों ही 46-46 प्रतिशत पर बैठे हुए थे लेकिन अंतिम समय में रिफ्रेश करने के बाद ये आँकड़े आखिरी 5 मिनट में तेज़ी से बदल गए। एक क्षण पहले तक विराट कोहली 47% के साथ आगे थे और इमरान खान को मात्र 46% वोट मिले थे।

ICC के पोल के अंतिम परिणाम

डॉक्टर सैयद उज्मा ने लिखा कि उसने इमरान खान को इसीलिए वोट किया क्योंकि पाकिस्तान में अल्पसंख्यक सुरक्षित हैं। उसने दावा किया कि वहाँ अल्पसंख्यकों को सुरक्षा और सम्मान मिलता है। कई लोगों ने स्क्रीनशॉट्स शेयर कर के दावा किया कि मोदी-विरोध के चक्कर में कइयों ने इमरान खान को वोट दे डाला। वहीं कुछ लोगों का दावा है कि जब पोल खत्म होते समय कोहली आगे थे तो अंतिम परिणामों में इमरान कैसे विजेता हो गए?

वहीं पाकिस्तान के कई मीडिया चैनलों ने भी इमरान खान को जिताने के लिए अभियान चलाया। उन्होंने पल-पल की रिपोर्ट चलाई। एक व्यक्ति ने इसका स्क्रीनशॉट शेयर करते हुए कहा कि वो इससे पहले भारतीय मीडिया को ही सबसे खराब समझता था। अमित तिवारी नाम के एक ट्विटर यूजर ने भी इमरान खान को वोट दे डाला। उसे अपने बायो में ‘टीम बाण’ लिख रखा था, जिसे भाजपा विरोधी प्रयोग में लाते हैं।

वहीं पाकिस्तान में कई सोशल मीडिया इन्फ्लुएंसर्स ने इसके लिए बॉट्स का भी इस्तेमाल किया। पाकिस्तान का पीएम होने के कारण इमरान न हारें, इसके लिए खूब प्रयास किए गए। इन दोनों के अलावा एबी डेवीलियर्स भी पोल का हिस्सा थे, जिन्हें मात्र 6% वोट मिले। वहीं ऑस्ट्रेलिया की महिला क्रिकेटर मेघन लैनिंग कहीं दौड़ में भी नहीं थीं और उन्हें मात्र 0.5% वोट मिले। पाकिस्तानियों ने कोहली के कई वीडियो शेयर कर के उनका मजाक भी बनाया।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

14 फसलों पर MSP की बढ़ोतरी, पवन ऊर्जा परियोजना, वाराणसी एयरपोर्ट का विस्तार, पालघर का पोर्ट होगा दुनिया के टॉप 10 में: मोदी कैबिनेट...

पालघर के वधावन पोर्ट की क्षमता अब 298 मिलियन टन यूनिट की जाएगी। इससे भारत-मिडिल ईस्ट कॉरिडोर भी मजबूत होगा। 9 कंटेनर टर्मिनल होंगे।

किताब से बहती नदी, शरीर से उड़ते फूल और खून बना दूध… नालंदा की तबाही का दोष हिन्दुओं को देने वाले वामपंथी इतिहासकारों का...

बख्तियार खिजली को क्लीन-चिट देने के लिए और बौद्धों को सनातन से अलग दिखाने के लिए वामपंथी इतिहासकारों ने नालंदा विश्वविद्यालय को तबाह किए जाने का दोष हिन्दुओं पर ही मढ़ दिया। इसके लिए उन्होंने तिब्बत की एक किताब का सहारा लिया, जो इस घटना के 500 साल बाद लिखी गई थी और जिसमें चमत्कार भरे पड़े थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -