Thursday, July 25, 2024
Homeविविध विषयअन्य1983 विश्व कप विजेता टीम का रहे हिस्सा, बेटे ने भी खेला इंटरनेशनल मैच:...

1983 विश्व कप विजेता टीम का रहे हिस्सा, बेटे ने भी खेला इंटरनेशनल मैच: जानिए कौन हैं BCCI के नए अध्यक्ष, स्कॉटलैंड से भारत आया था परिवार

रोजर बिन्नी अपने जमाने में ऑलराउंडर खिलाड़ी रह चुके हैं। उन्होंने भारत को 1983 में वर्ल्ड कप खिताब भी जिताया है। क्रिकेट बोर्ड के नए अध्यक्ष एंग्लो-इंडियन हैं।

रोजर बिन्नी को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) का नया अध्यक्ष चुन लिया गया है। मुंबई में मंगलवार (18 अक्टूबर 2022) को बीसीसीआई की वार्षिक आम बैठक (AGM) में यह फैसला लिया गया। अब रोजर बिन्नी बीसीसीआई के 36वें अध्यक्ष के तौर पर पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली की जगह लेंगे। उनके अलावा जय शाह को लगातार दूसरी बार सर्वसम्मति से बोर्ड का सचिव चुना गया। इन दोनों के अलावा जिन अन्य पदाधिकारियों को निर्विरोध चुना गया, उनमें कोषाध्यक्ष आशीष शेलार, उपाध्यक्ष राजीव शुक्ला और संयुक्त सचिव देवजीत सैकिया शामिल हैं।

नए अध्यक्ष एंग्लो-इंडियन

रोजर बिन्नी अपने जमाने में ऑलराउंडर खिलाड़ी रह चुके हैं। उन्होंने भारत को 1983 में वर्ल्ड कप खिताब भी जिताया है। क्रिकेट बोर्ड के नए अध्यक्ष एंग्लो-इंडियन हैं। उनका पूरा नाम रोजर माइकल हम्फ्री बिन्नी (Roger Michael Humphrey Binny) है। उनका जन्म भारत में हुआ है और वह यही पले-बढ़े। उनका परिवार मूल रूप से स्‍कॉटलैंड का रहने वाला है, जो बाद में भारत में आकर बसे थे। बेंगलुरु में रहने वाले रोजर बिन्नी कई पदों पर रहे हैं।

वह एक ऑलराउंडर होने के साथ शानदार आउट स्विंगर गेंदबाज भी रहे हैं। उनके बेटे स्टुअर्ट बिन्नी भी भारत के लिए इंटरनेशन मैच खेल चुके हैं। वहीं, उनकी बहू मयंती लैंगर भी स्पोर्ट्स एंकरिंग का बड़ा नाम हैं। बीसीसीआई के नए अध्यक्ष ने अपने दोस्त की बहन से शादी की। उनकी तीन संतान है। लॉरा, लीसा बेटियाँ हैं और स्टुअर्ट बिन्नी बेटे, जिन्हें क्रिकेट को जानने वाला हर कोई जानता है।

बेटे स्टुअर्ट के चयन को लेकर विवाद

तीन साल तक बीसीसीआई (BCCI) में सेलेक्टर के पद पर रहे रोजर अपने बेटे स्टुअर्ट के चयन को लेकर विवादों में आए थे। उस वक्त उन्होंने कहा था कि जब उनके बेटे का नाम चयन समिति के पास आया था, तब वह मीटिंग से बाहर चले गए थे। हालाँकि, दूसरी ओर यह भी कहा गया कि स्टुअर्ट बिन्नी का क्रिकेटिंग करियर तब तक ही रहा, जब तक उनके पिता रोजर चयन समिति में शमिल रहे। उस समय संदीप पाटिल चीफ सेलेक्टर थे।

बात करें रोजर बिन्नी के रिकॉर्ड की तो इंटरनेशनल स्तर पर 1979-87 के दौरान भारत के लिए उन्होंने 27 टेस्ट और 72 वनडे इंटरनेशनल मैचों में भाग लिया था। 1979 में पाकिस्तान के खिलाफ बेंगलुरु टेस्ट से उन्होंने इंटरनेशनल मैच में अपना डेब्यू किया था। बताया जाता है कि बिन्नी ने अपने टेस्ट करियर में 3.63 के औसत से 47 विकेट लिए हैं। वहीं, वनडे इंटरनेशनल में उनके नाम पर 29.35 के एवरेज से 77 विकेट दर्ज हैं। इसके अलावा बैटिंग में भी उनका कोई जवाब नहीं है।

उनके नाम पर टेस्ट में 830 और वनडे इंटरनेशनल में 629 रन दर्ज हैं। बता दें कि बिन्नी को गोल्फ खेलना, प्रकृति से प्रेम करना और खाली समय में अपने खेतों में जाकर समय बिताना बेहद पसंद है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘दरबार हॉल’ अब कहलाएगा ‘गणतंत्र मंडप’, ‘अशोक हॉल’ बना ‘अशोक मंडप’: महामहिम द्रौपदी मुर्मू का निर्णय, राष्ट्रपति भवन ने बताया क्यों बदला गया नाम

राष्ट्रपति भवन ने बताया है कि 'दरबार' का अर्थ हुआ कोर्ट, जैसे भारतीय शासकों या अंग्रेजों के दरबार। बताया गया है कि अब जब भारत गणतंत्र बन गया है तो ये शब्द अपनी प्रासंगिकता खो चुका है।

जिसका इंजीनियर भाई एयरपोर्ट उड़ाने में मरा, वो ‘मोटू डॉक्टर’ मारना चाह रहा था हिन्दू नेताओं को: हाई कोर्ट से माँग रहा था रहम,...

कर्नाटक हाई कोर्ट ने आतंकी मोटू डॉक्टर को राहत देने से इनकार कर दिया है। उस पर हिन्दू नेताओं की हत्या की साजिश में शामिल होने का आरोप है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -