Thursday, July 29, 2021
Homeविविध विषयअन्यअयोध्या में भगवान श्रीराम की सबसे ऊँची 221 मीटर की प्रतिमा, अधिकृत होगी 28...

अयोध्या में भगवान श्रीराम की सबसे ऊँची 221 मीटर की प्रतिमा, अधिकृत होगी 28 हेक्टेयर भूमि

सरयू नदी के पास भगवान राम की क़रीब 221 मीटर ऊँची प्रतिमा बनाई जाएगी। इसके अलावा प्रतिमा के आसपास प्रदर्शनी दीर्घा के साथ-साथ वहाँ आने वाले भक्तों के लिए...

अयोध्या में भगवान श्रीराम की सबसे ऊँची प्रतिमा के लिए 28.284 हेक्टेयर भूमि अधिग्रहीत की जाएगी। अयोध्या के डीएम अनुझ झा ने इसके लिए ज़मीन चिन्हित करके इसका प्रस्ताव पर्यटन विभाग को भेज दिया है।

ख़बर के अनुसार, सरयू नदी के पास भगवान राम की क़रीब 221 मीटर ऊँची प्रतिमा बनाई जाएगी। इसके अलावा प्रतिमा के आसपास प्रदर्शनी दीर्घा के साथ-साथ वहाँ आने वाले भक्तों के लिए सुविधाएँ भी मुहैया कराई जाएँगी।

सर्किल रेट के तहत ज़मीन की क़ीमत लगभग 38 करोड़ रुपए आँकी गई है। लेकिन यह नियम है कि ग्रामीण क्षेत्र की भूमि का मुआवज़ा सर्किल रेट से चार गुना और शहरी क्षेत्र का मुआवज़ा सर्किल रेट से दोगुना दिया जाना है।

इस प्रतिमा के लिए ज़मीन अधिग्रहण में क़रीब 80 करोड़ से अधिक ख़र्च हो सकता है। फ़िलहाल, देश में लोकसभा चुनाव की प्रक्रिया जारी है इसलिए ज़मीन अधिग्रहण की प्रक्रिया चुनाव के बाद आगे बढ़ाई जाएगी। वहीं सरकार ने पहले ही यह साफ़ कर दिया है कि खातेदार की सहमति से ही उसकी भूमि का अधिग्रहण होगा।

भगवान श्रीराम की प्रतिमा 151 मीटर ऊँची होगी, 50 मीटर ऊँचे पैडस्टल और 20 मीटर ऊँचे छत्र के बाद प्रतिमा की कुल ऊँचाई 221 मीटर हो जाएगी। 50 मीटर ऊँचे पैडस्टल के अंदर ही अत्याधुनिक म्यूज़ियम भी बनाना तय हुआ है। इस म्यूज़ियम में अयोध्या का इतिहास, इक्ष्वाकु वंश का इतिहास दिखाया जाएगा। इसके अलावा यहाँ आने वाले भक्त राजा मनु से लेकर श्रीराम तक के बारे पूरी जानकारी से अवगत हो सकेंगे।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

झारखंड: दिनदहाड़े खुली सड़क पर जज की हत्या, पोस्‍टमॉर्टम र‍िपोर्ट में हथौड़े से मारने के म‍िले न‍िशान, देखें Video

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में जज के सिर पर हथौड़े से मारने वाले निशान पाए गए हैं। इसके अलावा जिस ऑटो ने उन्हें टक्कर मारी वह भी चोरी का था।

रंजनगाँव का गणपति मंदिर: गणेश जी ने अपने पिता को दिया था युद्ध में विजय का आशीर्वाद, अष्टविनायकों में से एक

पुणे के इस स्थान पर भगवान गणेश ने अपनी पिता की उपासना से प्रसन्न होकर उन्हें दर्शन दिया था। इसके बाद भगवान शिव ने...

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,723FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe