Thursday, January 20, 2022
Homeदेश-समाजदिल्ली की मदीना मस्जिद में 10 साल के बच्चे की लाश मिली, ईंट से...

दिल्ली की मदीना मस्जिद में 10 साल के बच्चे की लाश मिली, ईंट से दबाकर रखा गया था: रिपोर्ट

10 साल का फरहान मस्जिद में कुरान पढ़ने जाता था। वह रोज़ की तरह कुरान पढ़ने निकला, लेकिन रात होने के बावजूद घर नहीं लौटा। बाद में मस्जिद की ऊपरी मंजिल पर उसकी लाश मिली।

दिल्ली के खजूरी ख़ास के सी ब्लॉक स्थित मदीना मस्जिद के भीतर एक बच्चे की लाश मिलने से हड़कंप मच गया। फरहान नाम के बच्चे का शव मस्जिद की सबसे ऊपरी मंजिल पर ईंट से दबाकर रखा गया था। बच्चे की उम्र 10 वर्ष बताई जा रही है। पुलिस ने घटना की जानकारी मिलते ही शव को कब्ज़े में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। मामले की पड़ताल चल रही है।

आज तक में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक़ दिल्ली के थाना खजूरी ख़ास क्षेत्र अंतर्गत सी ब्लॉक की गली नंबर 11 में शमीम का परिवार रहता है। शमीम का 10 वर्षीय बेटा फरहान नज़दीक की मस्जिद में कुरान पढ़ने जाता था। शमीम के चार बच्चों में फरहान सबसे छोटा था। वह रोज़ की तरह कुरान पढ़ने के लिए मस्जिद की तरफ निकला, लेकिन रात होने के बावजूद वापस नहीं लौटा। परिजनों को इस बात से चिंता हुई तब उन्होंने पुलिस को इस मामले की सूचना दी। 

इसके बाद रात के ही वक्त पुलिस और फरहान के परिवार वालों ने उसकी खोजबीन शुरू कर दी। रिपोर्ट के मुताबिक़ खोजबीन के दौरान जब वे मदीना मस्जिद की सबसे ऊपरी मंजिल पर पहुँचे तो वहाँ उन्होंने देखा कि फरहान का शव ईंट के नीच दबा कर रखा गया है। पुलिस ने शव को कब्ज़े में लेकर तत्काल प्रभाव से पोस्टमार्टम के लिए जीटीबी अस्पताल भेज दिया गया।

पुलिस ने इस संबंध में हत्या का मामला दर्ज कर लिया है और पूरे प्रकरण की जाँच शुरू कर दी है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही स्पष्ट हो पाएगा कि बच्चे की मृत्यु का असल कारण क्या है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नसीरुद्दीन के भाई जमीर उद्दीन शाह ने की हिंदू-मुस्लिम के बीच शांति की वकालत, भड़के इस्लामी कट्टरपंथियों ने उन्हें ट्विटर पर घेरा

जमीर उद्दीन शाह वही व्यक्ति हैं जिन्होंने गोधरा दंगे पर गुजरात की तत्कालीन मोदी सरकार के खिलाफ झूठ फैलाया था।

‘उस समय माहौल बहुत खौफनाक था…’: वे घाव जो आज भी कैराना के हिंदुओं को देते हैं दर्द, जानिए कैसे योगी सरकार बनी सुरक्षा...

योगी सरकार की क्राइम को लेकर जीरो टॉलरेस की नीति ही वह सुरक्षा कवच है जो कैराना के हिंदुओं को भरोसा दिलाती है कि 2017 से पहले का वह दौर नहीं लौटेगा, जिसकी बात करते हुए वे आज भी सहम जाते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
152,380FollowersFollow
413,000SubscribersSubscribe