Wednesday, July 28, 2021
Homeदेश-समाजतबलीगी जमात वालों ने अस्पताल के क्वारंटाइन में भी डॉक्टरों पर थूका, बदतमीजी जारी...

तबलीगी जमात वालों ने अस्पताल के क्वारंटाइन में भी डॉक्टरों पर थूका, बदतमीजी जारी है

कुछ देर पहले ही एक अन्य खबर में उत्तर-पूर्वी दिल्ली के ताहिरपुर में स्थित राजीव गाँधी सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल में उस समय अफरा-तफरी का माहौल पैदा हो गया जब कोरोना वायरस से संदिग्ध एक मरीज ने क्वारंटाइन किए जाने पर अस्पताल की खिड़की से कूदकर जान देने की कोशिश की। यह मरीज निजामुद्दीन मरकज के तबलीगी जमात में शामिल होने के लिए आया था।

तबलीगी जमात निजामुद्दीन के 167 लोग कल 5 बसों में तुगलकाबाद क्वारंटाइन सेंटर ले जाए गए। इनमें से 70 लोगों को डीजल शेड ट्रेनिंग स्कूल हॉस्टल क्वारंटाइन सेंटर में रखा गया और 70 को आरपीएफ बैरक क्वारंटाइन सेंटर में ले जाया गया था।

लेकिन उत्तर रेलवे के CPRO दीपक कुमार का कहना है कि ये लोग सुबह से किसी की नहीं सुन रहे थे और खाने की चीजों की अनुचित माँग कर रहे थे। उन्होंने क्वारंटाइन सेंटर में कर्मचारियों के साथ दुर्व्यवहार किया। यही नहीं, उन्होंने वहाँ पर मौजूद डॉक्टरों समेत अन्य काम करने वाले सभी लोगों पर थूकने लगे। वे हॉस्टल बिल्डिंग में भी घूमते रहे।

कुछ देर पहले ही एक अन्य खबर में उत्तर-पूर्वी दिल्ली के ताहिरपुर में स्थित राजीव गाँधी सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल में उस समय अफरा-तफरी का माहौल पैदा हो गया जब कोरोना वायरस से संदिग्ध एक मरीज ने क्वारंटाइन किए जाने पर अस्पताल की खिड़की से कूदकर जान देने की कोशिश की। यह मरीज निजामुद्दीन मरकज के तबलीगी जमात में शामिल होने के लिए आया था।

उत्तर रेलवे सीपीआरओ दीपक कुमार ने कहा कि इस घटना के बाद यह डीएम साउथ ईस्ट दिल्ली को उन्हें नियंत्रित करने या उन्हें किसी अन्य उपयुक्त स्थान पर स्थानांतरित करने के लिए आवश्यक सुरक्षा की व्यवस्था करने के लिए कह है। साथ ही, 5.30PM पर 4 दिल्ली पुलिस के सिपाही और 6 सीआरपीएफ के जवानों के साथ पीसीआर वैन को क्वारंटाइन केंद्रों पर तैनात किया गया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बद्रीनाथ नहीं, वो बदरुद्दीन शाह हैं…मुस्लिमों का तीर्थ स्थल’: देवबंदी मौलाना पर उत्तराखंड में FIR, कभी भी हो सकती है गिरफ्तारी

मौलाना के खिलाफ़ आईपीसी की धारा 153ए, 505, और आईटी एक्ट की धारा 66F के तहत केस किया गया है। शिकायतकर्ता का आरोप है कि उसके बयान से हिंदू भावनाएँ आहत हुईं।

बसवराज बोम्मई होंगे कर्नाटक के नए मुख्यमंत्री: पिता भी थे CM, राजीव गाँधी के जमाने में गवर्नर ने छीन ली थी कुर्सी

बसवराज बोम्मई के पिता एस आर बोम्मई भी राज्य के मुख्यमंत्री रह चुके हैं, जबकि बसवराज ने भाजपा 2008 में ज्वाइन की थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,571FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe