Sunday, October 17, 2021
Homeदेश-समाजसफदरजंग हॉस्पिटल के दो रेजिडेंट डॉक्‍टर कोरोना पॉजीटिव, दिल्ली में अब तक पाँच...

सफदरजंग हॉस्पिटल के दो रेजिडेंट डॉक्‍टर कोरोना पॉजीटिव, दिल्ली में अब तक पाँच डॉक्टर पाए गए संक्रमित

कोरोना पॉजीटिव पाए गए दोनों डॉक्टर्स में से एक पुरुष डॉक्टर हैं, जो कि कोरोना यूनिट में ही ड्यूटी कर रहे थे और एक अन्य रेजिडेंट डॉक्टर है, जोकि बायोकेमिस्ट्री विभाग की 3-वर्षीय पीजी छात्रा है। वहीं अधिकारियों के अनुसार कोरोना पॉजिटिव पाई गई महिला डॉक्टर की पिछली ट्रेवल हिस्ट्री भी पाई गई है। 

देश में लॉकडाउन के बीच कोरोना के खिलाफ देश वासियों की जंग जारी है। ऐसे में दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल के दो डाक्टरों के कोरोना पाॉजीटिव पाए जाने की खबर ने हड़कंप मचा दिया है। जानकारी के मुताबिक कोरोना पॉजिटिव पाए गए दोनों अस्‍पताल में रेजिडेंट डॉक्‍टर हैं। इसी के साथ दिल्ली में कोरोना पॉजीटिव पाए जाने वाले डॉक्टरों की संख्या 5 हो गई है, जिसनें स्वास्थ्य विभाग के साथ दिल्ली सरकार को भी चिंता में डाल दिया है।

जानकारी के मुताबिक कोरोना पॉजीटिव पाए गए दोनों डॉक्टर्स में से एक पुरुष डॉक्टर हैं, जो कि कोरोना यूनिट में ही ड्यूटी कर रहे थे और एक अन्य रेजिडेंट डॉक्टर है, जोकि बायोकेमिस्ट्री विभाग की 3-वर्षीय पीजी छात्रा है। वहीं अधिकारियों के अनुसार कोरोना पॉजिटिव पाई गई महिला डॉक्टर की पिछली ट्रेवल हिस्ट्री भी पाई गई है।

इससे पहले एक मामला दिलशाद गार्डन स्थित दिल्‍ली स्‍टेट कैंसर हॉस्पिटल से भी सामने आया था, जहाँ से एक कैंसर विशेषज्ञ डॉक्‍टर को कोराना पॉजिटिव पाया गया था। हालाँकि, संक्रमित डॉक्‍टर की कोई ट्रैवल हिस्‍ट्री भी नहीं मिली थी। इसके बाद कैंसर अस्‍पताल में आने वाले मरीजों के बारे में पता लगाया जा रहा है। वहीं अस्पताल के पूरे स्टाफ सहित उनके परिजनों को भी क्वारंटाइन कर दिया गया है। कैंसर हॉस्पिटल का मामला होने के कारण इसे बेहद गंभीर माना जा रहा है यही कारण है कि दिल्ली सरकार ने तत्काल कैंसर हॉस्पिटल को बंद कर दिया गया है, साथ ही इस अस्पताल को पूरी तरह से सैनेटाइज किया जा रहा है।

इससे पहले नॉर्थईस्ट दिल्ली के एक मोहल्ला क्लीनिक के डॉक्टर को कोरोना पॉजीटिव पाया गया था। इसके बाद बाबरपुर इलाके के मोहल्ला क्लीनिक के भी डॉक्टर को जाँच के बाद कोरोना संक्रमित पाया गया, जिसके बाद तत्काल दोनों डॉक्टरों से 14 दिन में मिलने वाले मरीजों की हिस्ट्री को निकालकर सभी को आइसोलेशन में भेज दिया गया। आइसोलेट किए गए सभी लोगों के लगातार टेस्ट किए जा रहे हैं।

देश की राजधानी में पाँच डॉक्टरों के कोरोना पॉजीटिव पाया जाना चिंताजनक भी है और डरा देने वाला भी। ऐसे समय में डॉक्टरों का कोरोना पॉजीटिव पाया जाना बेहद परेशान करने वाला है कि जिन हाथों में कोरोना की रोकथाम करने की जिम्मेदारी है वही हाथ कोरोना के शिकार हो रहे हैं। देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना से मरने वालों की संख्या दो, जबकि इससे संक्रमित लोगों की संख्या 120 हो गई है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बेअदबी करने वालों को यही सज़ा मिलेगी, हम गुरु की फौज और आदि ग्रन्थ ही हमारा कानून’: हथियारबंद निहंगों को दलित की हत्या पर...

हथियारबंद निहंग सिखों ने खुद को गुरू ग्रंथ साहिब की सेना बताया। साथ ही कहा कि गुरु की फौजें किसानों और पुलिस के बीच की दीवार हैं।

सरकारी नौकरी से निकाला गया सैयद अली शाह गिलानी का पोता, J&K में रिसर्च ऑफिसर बन कर बैठा था: आतंकियों के समर्थन का आरोप

अलगाववादी नेता रहे सैयद अली शाह गिलानी के पोते अनीस-उल-इस्लाम को जम्मू कश्मीर में सरकारी नौकरी से निकाल बाहर किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,107FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe