Tuesday, June 25, 2024
Homeदेश-समाजकर्नाटक में PWD इंजीनियर के घर एसीबी ने मारा छापा, ड्रेनेज पाइप से निकली...

कर्नाटक में PWD इंजीनियर के घर एसीबी ने मारा छापा, ड्रेनेज पाइप से निकली नोटों की गड्डियाँ; ₹54 लाख कैश बरामद: देखें वीडियो

पीडब्ल्यूडी विभाग के इंजीनियर शांता गौड़ा बिरादर के घर पर एसीबी की टीम ने छापा मारा था। इस छापेमारी में जाँच टीम को करीब 40 लाख रुपए नकद और काफी सोना मिला है।

कर्नाटक से हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। यहाँ कलबुर्गी जिले पीडब्ल्यूडी विभाग के एक जूनियर इंजीनियर के घर पर एंटी करप्शन ब्यूरो की टीम ने जब छापा मारा तो उन्हें घर के घर के ड्रेनेज पाइपों से 500-500 रुपए के नोटों की गड्डियाँ मिलीं। बाल्टी में भर-भरकर नोट निकाले गए। रिपोर्ट के मुताबिक, आरोपित इंजीनियर के घर से जाँच एजेंसी को करीब 54 लाख रुपए कैश मिले हैं।

भ्रष्टचार के आरोपित सरकारी अधिकारियों के राज्यव्यापी कार्रवाई अभियान के तहत कलबुर्गी जिले के पीडब्ल्यूडी विभाग के इंजीनियर शांता गौड़ा बिरादर के घर पर एसीबी की टीम ने छापा मारा था। हालाँकि, एक अन्य रिपोर्ट में जाँच टीम को करीब 40 लाख रुपए नकद और काफी सोना मिला है। दरअसल, एसीबी को इस बात के इनपुट मिले थे कि आरोपित इंजीनियर घर के पाइप लाइन में नोट छिपा रखे हैं। इसी के आधार पर जब अधिकारियों की टीम ने छापा मारा तो पाइपों से नोटों के बंडल निकलते देख अधिकारी भी दंग रह गए।

फिलहाल इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है, जिसमें देखा जा सकता है कि छत के पाइप लाइन को काट-काटकर नोट निकाले जा रहे है और उन गड्डियों को बाल्टी में भरा जा रहा है।

कई जगह मारे गए छापे

एसीबी की टीम कर्नाटक के राज्यभर में एंटी करप्शन ब्यूरो ने 15 अधिकारियों के ठिकानों पर छापेमारी की। इस अभियान के तहत एसीबी के करीब 400 अधिकारियों को काम पर लगाया गया है। इसमें 8 एसपी, 100 अधिकारी और 300 एसीबी के कर्मचारी काम में लगे हुए थे। जिन अधिकारियों के ठिकानों पर छापे मारे गए, उनमें एक्जीक्यूटिव इंजीनियर केएस लिंगेगौडा, मांड्या के एक्जिक्यूटिव इंजीनियर के श्रीनिवास, डोडाबल्लापुरा के राजस्व निरीक्षक लक्ष्मी नरसिंहमैया, बेंगलुरू निर्मिति केंद्र के पूर्व परियोजना प्रबंधक वासुदेव, बेंगलुरू नंदिनी डेयरी के महाप्रंधक जी कृष्णा रेड्डी, कृषि विभाग के संयुक्त निदेशक टीएस रूद्रे शाप्पा समेत अन्य शामिल हैं।

इसमें से टीएस रूद्रे शाप्पा के घर से जाँच टीम को 15 लाख रुपए कैश और 7 किलो सोना मिला है, जिसकी कीमत करीब 3.5 करोड़ रुपए आँकी गई है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

शिखर बन जाने पर नहीं आएँगी पानी की बूँदे, मंदिर में कोई डिजाइन समस्या नहीं: राम मंदिर निर्माण समिति के चेयरमैन नृपेन्द्र मिश्रा ने...

श्रीराम मंदिर निर्माण समिति के मुखिया नृपेन्द्र मिश्रा ने बताया है कि पानी रिसने की समस्या शिखर बनने के बाद खत्म हो जाएगी।

दर-दर भटकता रहा एक बाप पर बेटे की लाश तक न मिली, यातना दे-दे कर इंजीनियरिंग छात्र की हत्या: आपातकाल की वो कहानी, जिसमें...

आज कॉन्ग्रेस पार्टी संविधान दिखा रही है। जब राजन के पिता CM, गृह मंत्री, गृह सचिव, पुलिस अधिकारी और सांसदों से गुहार लगा रहे थे तब ये कॉन्ग्रेस पार्टी सोई हुई थी। कहानी उस छात्र की, जिसकी आज तक लाश भी नहीं मिली।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -