बंधक बना नाबालिग से रेप, मीट खाने को किया मजबूर, भांजे के साथ सद्दाम गिरफ्तार

19 जुलाई को सद्दाम शादी का झांसा देकर पीड़िता को अंबाला के एक होटल में ले गया और जबर्दस्ती की। तीन दिन तक होटल में रखने के बाद उसे अपनी बहन के घर ले गया, जहाँ पीड़िता को जबरन मीट खिलाया गया।

शादी का झांसा देकर नाबालिग को अगवा करने और उसके साथ दुष्कर्म करने के आरोपी सद्दाम को पुलिस ने हरियाणा के पानीपत से गिरफ्तार किया। सद्दाम ने लड़की को करीब 12 दिनों तक बंधक बनाकर रखा और हवस का शिकार बनाया। इतना ही नहीं पीड़िता को सद्दाम की बहन ने मीट खाने के लिए मजबूर किया। मंगलवार की सुबह पुलिस ने अंबाला कैंट से पीड़िता को बरामद किया था।

पीड़िता के घर पहुॅंच महिला आयोग की सदस्य नम्रता गौड़ ने मामले के बाबत जानकारी ली। पीड़िता दसवीं कक्षा की छात्रा है। उसने बताया कि उसके माता-पिता के काम पर जाने के बाद सद्दाम उसके घर आता था। करीब 15 दिन पहले सद्दाम ने उसे मोबाइल फोन दिया। लेकिन, उसकी मॉं ने यह देख लिया मोबाइल छीनकर फेंक दिया। 19 जुलाई को सद्दाम बहला-फुसलाकर उसे अंबाला के एक होटल में ले गया और जबर्दस्ती की।

तीन दिन तक होटल में रखने के बाद सद्दाम उसे अपनी बहन के घर ले गया। यहॉं सद्दाम की बहन ने उसे मीट खाने के लिए मजबूर किया। साथ ही धमकी दी कि यदि उसने सद्दाम को फॅंसाया तो तो वह उनके परिजनों को नहीं छोड़ेगी।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

वकील मनोज शर्मा ने बताया कि सद्दाम आजाद नगर में सैलून चलाता है। उनके मुताबिक लड़की के परिजनों ने पुलिस से शिकायत की थी। लेकिन, पुलिस ने अपहरण की बजाए गुमशुदगी का मामला दर्ज किया। साथ ही शिकायत में लड़की की उम्र 19 साल दर्ज कर दी। उन्होंने इसकी शिकायत पुलिस महानिदेशक, आईजी, एसपी और महिला आयोग की अध्यक्ष से की।

इसके बाद महिला आयोग से नम्रता गौड़ थाने पहुॅंची और लापरवाही के लिए पुलिस को फटकार लगाई। गौड़ ने कहा कि यदि पुलिस पहले ही दिन हरकत में आती तो लड़की को सद्दाम के हवस का शिकार नहीं बनती।

पुलिस ने इस मामले में सद्दाम के भांजे फरमान और राहिल खान को भी गिरफ्तार किया है। पुलिस का कहना है कि पीड़िता के माँ-बाप को अपनी बेटी के सद्दाम के साथ संबंध की पहले से खबर थी। पुलिस का दावा है कि वह जल्द ही कुछ और खुलासे करेगी। पुलिस का यह भी कहना है कि पीड़िता के पिता ने ही उसकी उम्र 19 साल बताई थी। वह नाबालिग है यह बात उसने 28 जुलाई को बताई।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

शरजील इमाम
शरजील इमाम वामपंथियों के प्रोपेगंडा पोर्टल 'द वायर' में कॉलम भी लिखता है। प्रोपेगंडा पोर्टल न्यूजलॉन्ड्री के शरजील उस्मानी ने इमाम का समर्थन किया है। जेएनयू छात्र संघ की काउंसलर आफरीन फातिमा ने भी इमाम का समर्थन करते हुए लिखा कि सरकार उससे डर गई है।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

144,507फैंसलाइक करें
36,393फॉलोवर्सफॉलो करें
164,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: