Saturday, October 16, 2021
Homeदेश-समाजवैक्सीनेशन नीति में बदलाव के तहत ₹4,567 करोड़ का एडवांस: SII के CEO अदार...

वैक्सीनेशन नीति में बदलाव के तहत ₹4,567 करोड़ का एडवांस: SII के CEO अदार पूनावाला ने PM मोदी का किया शुक्रिया

पूनावाला का ये ट्वीट वित्त मंत्रालय की उस घोषणा के बाद आया जिसमें केंद्र द्वारा सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया और हैदराबाद की भारत बायोटेक को वैक्सीन प्रोडक्शन के लिए ₹4,567 करोड़ देने की मंजूरी दी गई है। यह राशि दोनों कंपनियों को एडवांस में दिया गया है।

कोरोना वैक्सीन के उत्पादन की गति में रफ्तार देने के मोदी सरकार के प्रयासों की सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) के सीईओ ने जमकर तारीफ की है। SII के सीईओ अदार पूनावाला ने मंगलवार (अप्रैल 20, 2021) को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण का धन्यवाद किया। उन्होंने एक ट्वीट में लिखा, “भारत में कोविड वैक्सीन के प्रोडक्शन के लिए ‘निर्णायक नीतिगत परिवर्तन’ और ‘तीव्र वित्तीय सहायता’ के लिए मैं वैक्सीन इंडस्ट्री की ओर से पीएम नरेंद्र मोदी और वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण का शुक्रिया करता हूँ।”

पूनावाला का ये ट्वीट वित्त मंत्रालय की उस घोषणा के बाद आया जिसमें केंद्र द्वारा सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया और हैदराबाद की भारत बायोटेक को वैक्सीन प्रोडक्शन के लिए ₹4,567 करोड़ देने की मंजूरी दी गई है। यह राशि दोनों कंपनियों को एडवांस में दिया गया है।

Covishield और Covaxin दोनों ही भारत के टीकाकरण अभियान के लिए बेहद महत्वपूर्ण हैं। बता दें कि सरकार ने वैक्सीन के लिए ये फंड ऐसे समय में दिया है जब एक मई से 18 साल से अधिक उम्र के सभी लोगों को कोरोना की वैक्सीन लगाए जाने की घोषणा कर दी गई है। अब तक पहले चरण के तहत फ्रंटलाइन वर्कर्स और 60 साल से अधिक उम्र के लोगों को वैक्सीन देने की इजाजत दी गई थी। उसके बाद दूसरे चरण में 45 साल और उससे अधिक उम्र के लोगों को वैक्सीन लगाई जा रही है।

पिछले हफ्ते, पूनावाला ने एक ट्वीट के माध्यम से, संयुक्त राज्य अमेरिका से कोविड-19 से लड़ने के लिए टीकों के उत्पादन के लिए आवश्यक कच्चे माल से निर्यात प्रतिबंध हटाने का अनुरोध किया था

वित्त मंत्री सीतारमण ने SII और BBL को 4567 करोड़ रुपए के पैकेज की घोषणा की

टीकाकरण के प्रयासों को बढ़ावा देने के लिए वित्त मंत्रालय ने सोमवार (अप्रैल 19, 2021) को सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) और भारत बायोटेक (BBL) को 4,567.50 करोड़ रुपए की मंजूरी दी। SII को 3,000 करोड़ रुपए प्रदान किए गए हैं, जबकि BBL को भारत में टीकाकरण उत्पादन को बढ़ाने के लिए 1567.50 रुपए की मंजूरी दी गई है।

18 साल से ऊपर के सभी के लिए टीकाकरण

19 अप्रैल को, भारत सरकार ने कोविड-19 टीकाकरण की चरण 3 रणनीति की घोषणा की जिसमें 18 वर्ष से अधिक आयु का भारत का प्रत्येक नागरिक टीका के लिए पात्र होगा। सरकार ने कहा कि टीकाकरण कार्यक्रम के चरण-3 में, राष्ट्रीय वैक्सीन रणनीति का उद्देश्य उदारीकृत वैक्सीन मूल्य निर्धारण और वैक्सीन कवरेज को बढ़ाना है। देश भर में इसे बढ़ाने के लिए टीके के उत्पादन और इसकी उपलब्धता की आवश्यकता होगी।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बांग्लादेश में 10 साल की हिंदू बच्ची की मौत, जुमे की नमाज के बाद हुआ था गैंगरेप: मौसी और नानी से भी दुष्कर्म, उलटे...

10 साल की मासूम के साथ कट्टरपंथियों की भीड़ ने रेप किया था। अब खबर है कि ज्यादा खून बह जाने से उसकी जान चली गई।

गहलोत सरकार में मदरसों की बल्ले-बल्ले, मिलेगा 25-25 लाख रुपए का ‘दीवाली बोनस’, BJP का तंज – ‘जनता के टैक्स का सदुपयोग’

राजस्थान में मुख्यमंत्री मदरसा आधुनिकीकरण योजना के तहत मदरसों के लिए मुस्लिमों को 25 लाख रुपए तक की राशि सरकार देगी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
128,973FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe