Monday, June 17, 2024
Homeदेश-समाज'हमारी हिट लिस्ट में हो, ज्यादा दिन दिल्ली में छिपे नहीं रह सकते': पत्रकार...

‘हमारी हिट लिस्ट में हो, ज्यादा दिन दिल्ली में छिपे नहीं रह सकते’: पत्रकार आदित्य राज कौल को फिर से ‘ISIS’ की धमकी

वरिष्ठ पत्रकार कौल ने इस बात पर अफसोस जताया कि उनकी शिकायत के 5 दिन के बाद भी अब तक इस मामले में प्राथमिकी दर्ज नहीं की गई है। उन्होंने कहा, "दुःख की बात है कि मैं सांसद या राजनेता नहीं हूँ, इसलिए इस खतरे पर गौतम गंभीर की तरह ध्यान नहीं दिया जाता है।"

वरिष्ठ पत्रकार आदित्य राज कौल को एक बार फिर से खुद को ISIS समूह से हत्या की धमकी मिली है। करीब एक हफ्ते पहले भी पत्रकार कौल और भाजपा सांसद गौतम गंभीर को जान से मारने की धमकी दी जा चुकी है।

इस मामले में रविवार (28 नवंबर, 2021) को आदित्य राज कौल ने ट्विटर पर कहा, “मध्यरात्रि में मुझे ‘ISIS कश्मीर’ ईमेल अकाउंट से एक ईमेल मिला है, जिसमें पठानकोट में इंडियन आर्मी कैंप के बाहर विस्फोट की जिम्मेदारी ली गई है और फिर से मुझे धमकी दी गई है।”

आदित्य राज कौल के द्वारा शेयर किया गया स्क्रीनशॉट

पठानकोट में धमाके की जिम्मेदारी लेने के साथ ही संगठन ने यह भी दावा किया है कि वो कश्मीर में राजनेताओं और पत्रकारों पर हमला करेगा। ईमेल में जिस पठानकोट विस्फोट का जिक्र किया गया है, वह संभवत: सेना के कैंप के पास हैंड-ग्रेनेड विस्फोट को संदर्भित करता है। हालाँकि, उस घटना में किसी को कोई नुकसान नहीं पहुँचा था। वहीं एक अन्य मेल में समूह ने कौल को यह भी धमकी दी कि वो लंबे समय तक दिल्ली में छिपे नहीं रह सकते हैं।

आदित्य राज कौल के द्वारा शेयर किया गया स्क्रीनशॉट

वरिष्ठ पत्रकार कौल ने इस बात पर अफसोस जताया कि उनकी शिकायत के बावजूद अब तक इस मामले में प्राथमिकी दर्ज नहीं की गई है। उन्होंने कहा, “दुःख की बात है कि मैं सांसद या राजनेता नहीं हूँ, इसलिए इस खतरे पर गौतम गंभीर की तरह ध्यान नहीं दिया जाता है। 5 दिन की कायराना धमकी के बाद भी पुलिस ने मेरे मामले में अभी तक प्राथमिकी दर्ज नहीं की है। यकीन नहीं होता कि वे मुझ पर हमला होने का इंतजार कर रहे हैं।”

इससे पहले कौल को इसी समूह से जान से मारने की धमकी मिल चुकी थी। ISIS संगठन की ओर से उनका सिर कलम करने की धमकियाँ भी उन्हें दी गई थी। इसके बाद पत्रकार ने उत्तर प्रदेश पुलिस और दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल से मामले में शिकायत की थी। कौल की ही तरह पूर्व क्रिकेटर और अब भाजपा सांसद गौतम गंभीर को भी परिवार समेत धमकियाँ मिली थीं। धमकी के बाद उनके आवास के बाहर सुरक्षा बढ़ा दी गई थी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बकरों के कटने से दिक्कत नहीं, दिवाली पर ‘राम-सीता बचाने नहीं आएँगे’ कह रही थी पत्रकार तनुश्री पांडे: वायर-प्रिंट में कर चुकी हैं काम,...

तनुश्री पांडे ने लिखा था, "राम-सीता तुम्हें प्रदूषण से बचाने के लिए नहीं आएँगे। अगली बार साफ़-स्वच्छ दिवाली मनाइए।" बकरीद पर बदल गए सुर।

पावागढ़ की पहाड़ी पर ध्वस्त हुईं तीर्थंकरों की जो प्रतिमाएँ, उन्हें फिर से करेंगे स्थापित: गुजरात के गृह मंत्री का आश्वासन, महाकाली मंदिर ने...

गुजरात के गृह मंत्री हर्ष संघवी ने कहा कि किसी भी ट्रस्ट, संस्था या व्यक्ति को अधिकार नहीं है कि इस पवित्र स्थल पर जैन तीर्थंकरों की ऐतिहासिक प्रतिमाओं को ध्वस्त करे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -