‘योगी की छाती पर चढ़ कमलेश तिवारी को मारा, अब मोदी की छाती पर चढ़ तुझे मारेंगे’

हिन्दू समाज पार्टी के अध्यक्ष कमलेश तिवारी की शुक्रवार को हत्या कर दी गई थी। संदिग्ध हत्यारों की पहचान अशफाक और मोईनुद्दीन के तौर पर की गई है। अब उत्तर प्रदेश नवनिर्माण सेना के अध्यक्ष अमित जानी को धमकी दी गई है।

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में हिंदूवादी नेता कमलेश तिवारी की दिनदहाड़े हत्या के बाद अब एक और हिंदूवादी नेता को जान से मारने की धमकी मिली है। जानकारी के मुताबिक नोएडा में हिंदूवादी नेता और उत्तर प्रदेश नवनिर्माण सेना के अध्यक्ष अमित जानी को धमकी दी गई है। बताया जा रहा है कि बुर्के में आई एक महिला ने अमित जानी के सेक्टर-15 स्थित कॉरपोरेट हाउस में गार्ड को धमकी भरा लिफाफा दिया था। अमित ने इसकी सूचना पुलिस को दी। इसके बाद पुलिस अधिकारी मौके पर पहुँचकर जाँच शुरू कर दी है।

नोएडा सेक्टर-20 पुलिस स्टेशन में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। यूपी पुलिस ने इस संबंध में बताया कि अमित जानी की तरफ से पुलिस को दी गई शिकायत में कहा गया है कि रविवार (अक्टूबर 20, 2019) शाम को वह सेक्टर-15 स्थित कॉरपोरेट हाउस में थे। तभी ऑटो से एक महिला आई, जो कि बुर्के में थी। उसने गेट पर आकर घंटी बजाई। गार्ड ने दरवाजा खोला तो महिला ने एक लिफाफा देते हुए कहा कि इसे अमित जानी को दे देना। गार्ड ने अमित जानी को लिफाफा दिया।

अमित का कहना है कि जब उन्होंने लिफाफा देखा तो उसमें उन्हें एक धमकी भरा पत्र मिला। उसमें लिखा था, “कमलेश तिवारी के बाद अब तुम्हारा नंबर है। योगी की छाती पर चढ़कर कमलेश को मारा था, अब मोदी की छाती पर चढ़कर तुझे मारेंगे।” इसकी जानकारी अमित जानी ने पुलिस को दी।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

अमित जानी ने भी इस धमकी भरे पत्र की जानकारी देते हुए सुरक्षा की माँग की है। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा है, “कमलेश तिवारी के बाद तेरा नंबर है, पत्र लिखकर मुझे धमकाया गया है, मेरा निवेदन है कि मुझे मेरे खर्चे पर ही सही, लेकिन सुरक्षा उपलब्ध कराई जाए।”

उल्लेखनीय है कि हिन्दू समाज पार्टी के अध्यक्ष कमलेश तिवारी की शुक्रवार (अक्टूबर 18, 2019) को हत्या कर दी गई थी। इस हत्याकांड के सिलसिले में सूरत के रहने वाले फैजान पठान, मौलाना मोहसिन शेख और राशिद अहमद पठान गिरफ्तार किए गए हैं। संदिग्ध हत्यारों की पहचान अशफाक और मोईनुद्दीन के तौर पर की गई है।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

"हिन्दू धर्मशास्त्र कौन पढ़ाएगा? उस धर्म का व्यक्ति जो बुतपरस्ती कहकर मूर्ति और मन्दिर के प्रति उपहासात्मक दृष्टि रखता हो और वो ये सिखाएगा कि पूजन का विधान क्या होगा? क्या जिस धर्म के हर गणना का आधार चन्द्रमा हो वो सूर्य सिद्धान्त पढ़ाएगा?"

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

115,259फैंसलाइक करें
23,607फॉलोवर्सफॉलो करें
122,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: