Tuesday, July 23, 2024
Homeदेश-समाजयूनिस ने भागवत कथा सुनने जा रही युवतियों से की छेड़छाड़, ज़मानत पर छूटते...

यूनिस ने भागवत कथा सुनने जा रही युवतियों से की छेड़छाड़, ज़मानत पर छूटते ही की फायरिंग

पहली बार यूनिस ने जब युवतियों से छेड़छाड़ की थी तब तो ग्रामीणों ने उसे पकड़ लिया था लेकिन दूसरी बार जब वह मारपीट करने पहुँचा तो इस बार वह हथियारों से लैस था। ग्रामीणों की भीड़ फायरिंग की आवाज़ सुन कर इकट्ठी हुई लेकिन उसे पकड़ा नहीं जा सका।

उत्तर प्रदेश के आगरा से एक व्यक्ति द्वारा भागवत कथा सुनने जा रही युवतियों के साथ छेड़छाड़ करने का मामला सामने आया है। गुरुवार (मई 2, 2019) को आगरा के मलपुरा थाना क्षेत्र के अंतर्गत भागवत कथा चल रही थी। उसमे भाग लेने आईं युवतियों के साथ यूनिस नमक युवक ने छेड़छाड़ की। एक युवक ने जब यूनिस की इस हरकत का विरोध किया तो यूनिस ने उसकी पिटाई भी कर दी। सूचना पाकर मौके पर पहुँची पुलिस ने यूनिस को गिरफ़्तार कर लिया। गिरफ़्तार कर उसे थाने ले जाया गया और शुक्रवार को जेल भेज दिया गया। हालाँकि, उसी दिन उसे ज़मानत भी मिल गई।

आरोप है कि ज़मानत मिलने के बाद उक्त युवक और उग्र हो गया और उसने रिटायर्ड स्टेशन मास्टर के घर पहुँच कर उनसे मारपीट की। विरोध करने पर उसने फायरिंग भी की। सूचना पर पुलिस फिर पहुँची लेकिन आरोपित तब तक फरार हो गया था। उसके घर पर दबिश देने के बाद पुलिस ने उसके छोटे भाई को गिरफ़्तार किया। पीड़ित स्टेशन मास्टर ने थाने में शिकायत दर्ज कराई है। यूनिस के पिता का नाम रमजानी है। ज़मानत मिलने के बाद उसने अपने साथियों सहित लाठी-डंडे लेकर गाँव में हमला बोल दिया था।

‘हिंदुस्तान’ के स्थानीय संस्करण में छपी ख़बर

एसओ मलपुरा विजय कुमार ने पत्रकारों को बताया कि मामले में FIR दर्ज हुई है। आरोपी के भाई को पुलिस पूछताछ करने के लिए पकड़ कर लाई है। उससे पूछताछ की जा रही है। जाँच के बाद कार्रवाई की जाएगी। पहली बार यूनिस ने जब युवतियों से छेड़छाड़ की थी तब तो ग्रामीणों ने उसे पकड़ लिया था लेकिन दूसरी बार जब वह मारपीट करने पहुँचा तो इस बार वह हथियारों से लैस था। ग्रामीणों की भीड़ फायरिंग की आवाज़ सुन कर इकट्ठी हुई लेकिन उसे पकड़ा नहीं जा सका। ग्रामीणों ने तब पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना दी।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘एंजेल टैक्स’ खत्म होने का श्रेय लूट रहे P चिदंबरम, भूल गए कौन लेकर आया था: जानिए क्या है ये, कैसे 1.27 लाख StartUps...

P चिदंबरम ने इसके खत्म होने का श्रेय तो ले लिया, लेकिन वो इस दौरान ये बताना भूल गए कि आखिर ये 'एंजेल टैक्स' लेकर कौन आया था। चलिए 12 साल पीछे।

पत्रकार प्रदीप भंडारी बने BJP के राष्ट्रीय प्रवक्ता: ‘जन की बात’ के जरिए दिखा चुके हैं राजनीतिक समझ, रिपोर्टिंग से हिला दी थी उद्धव...

उन्होंने कर्नाटक स्थित 'मणिपाल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी' (MIT) से इलेक्ट्रॉनिक एवं कम्युनिकेशंस में इंजीनियरिंग कर रखा है। स्कूल में पढ़ाया भी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -