Monday, July 26, 2021
Homeदेश-समाज'बीवी के सामने गर्लफ्रेंड को वीडियो कॉल करता था शौहर, गर्भ में ही मर...

‘बीवी के सामने गर्लफ्रेंड को वीडियो कॉल करता था शौहर, गर्भ में ही मर गया था बच्चा’: आयशा की आत्महत्या के पीछे की कहानी

आरिफ अपनी प्रेमिका पर जम कर रुपए लुटाता था और इसके लिए वो बीवी आयशा के अब्बा से दहेज़ की माँग करता था। आयशा के सामने ही वो वीडियो कॉल पर उससे बातें करता था और...

अहमदाबाद के साबरमती नदी में हँसते-हँसते कूद कर आत्महत्या कर लेने वाली आयशा ने उससे ठीक पहले एक वीडियो बनाया। उससे साफ़ झलक रहा था कि उसके वैवाहिक रिश्ते में सब ठीक नहीं है।

23 वर्ष की आयशा की शादी राजस्थान के जालौर निवासी आरिफ खान से 2018 में हुई थी। वहीं की एक लड़की से आयशा के शौहर आरिफ का अफेयर था और आयशा के सामने ही वो वीडियो कॉल पर उससे बातें करता था। खुलासा हुआ है कि आरिफ अपनी प्रेमिका पर जम कर रुपए लुटाता था और इसीलिए बीवी आयशा के अब्बा से दहेज़ की माँग करता था।

आयशा के वकील ज़फर का कहना है कि निकाह के 2 महीने बाद से ही दिक्कतें शुरू हो गई थीं और गरीब माता-पिता की इज्जत बचाने के लिए आयशा चुप थी। वो पढ़ाई के अलावा घर-परिवार के काम में भी निपुण थी। इसी तरह एक बार डेढ़ लाख रुपए की जिद के कारण आरिफ अपनी गर्भवती बीवी को मायके छोड़ गया था।

अवसाद की वजह से आयशा को ब्लीडिंग होने लगी और सर्जरी के बावजूद गर्भ में पल रहे बच्चे को नहीं बचाया जा सका। आयशा के पिता का कहना है कि आरिफ के पिता ने कभी उनका फोन नहीं उठाया।

गुजरात पुलिस जालौर में आरिफ के घर पहुँची तो परिवार वालों ने बताया कि वह एक शादी में गया था और वहीं से कहीं चला गया। इसके बाद मोबाइल लोकेशन के आधार पर आरिफ को सोमवार (मार्च 1, 2021) की रात पाली से अरेस्ट कर लिया गया।

आयशा ने आत्महत्या से पहले अपने पिता को फोन कॉल कर के सब बता दिया था। आयशा ने बताया था कि आरिफ उसे लेने नहीं आएगा। जब आयशा उसे फोन कर के उससे मिन्नतें कीं, तो आरिफ ने कहा कि मरना है तो मर जाओ और फिर वीडियो भेज देना।

आयशा अहमदाबाद के रिलीफ रोड पर स्थित एसवी कॉमर्स कॉलेज में इकोनॉमिक्‍स से MA की पढ़ाई कर रही थी। साथ ही एक प्राइवेट कंपनी में जॉब भी करती थी।

आयशा के अब्बा ने कहा है कि उनकी बेटी ने अपने शब्दों में शौहर आरिफ को माफ कर दिया लेकिन वो किसी को माफ नहीं करेंगे और उसे फाँसी की सजा दिलाकर रहेंगे। उन्होंने कहा, “चाहे कोई कुछ भी दे दे लेकिन मैं अपनी बेटी की मौत के लिए जिम्मेदार उसके हत्यारों को कभी भी माफ नहीं करूँगा।”

आयशा के आत्महत्या के बाद उसके शौहर का एक व्हाट्सएप्प स्टेटस वायरल हुआ था, जिसमें उसने लिखा था – “कौन छोड़ गया, ये महत्वपूर्ण नहीं है, बल्कि इम्पोर्टेन्ट ये है कि कौन साथ है।”

आत्महत्या से पहले बनाए गए वीडियो में आयशा ने कहा था, “प्यार करते हैं आरिफ से। उसे परेशान थोड़े न करेंगे। उसे आज़ादी चाहिए, आज़ाद रहे वो। चलो, अपनी ज़िंदगी तो यहीं तक है। मैं खुश हूँ कि मैं अल्लाह से मिलूँगी। मैं उनसे पूछूँगी कि मुझसे क्या गलती हुई। अच्छे माँ-बाप मिले, दोस्त भी बहुत अच्छे मिले- फिर भी कमी कहाँ रह गई? सुकून के साथ जाना चाहती हूँ। और अल्लाह से मैं ये भी कहूँगी कि मुझे दोबारा इंसानों की शक्ल न दिखाए।”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

यूपी के बेस्ट सीएम उम्मीदवार हैं योगी आदित्यनाथ, प्रियंका गाँधी सबसे फिसड्डी, 62% ने कहा ब्राह्मण भाजपा के साथ: सर्वे

इस सर्वे में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को सर्वश्रेष्ठ मुख्यमंत्री बताया गया है, जबकि कॉन्ग्रेस की उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गाँधी सबसे निचले पायदान पर रहीं।

असम को पसंद आया विकास का रास्ता, आंदोलन, आतंकवाद और हथियार को छोड़ आगे बढ़ा राज्य: गृहमंत्री अमित शाह

असम में दूसरी बार भाजपा की सरकार बनने का मतलब है कि असम ने आंदोलन, आतंकवाद और हथियार तीनों को हमेशा के लिए छोड़कर विकास के रास्ते पर जाना तय किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,226FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe