Wednesday, June 19, 2024
Homeदेश-समाज'हाँ मारा, क्या कर लोगे': पेड़ से लटका मिला 17 साल का आलोक, परिजनों...

‘हाँ मारा, क्या कर लोगे’: पेड़ से लटका मिला 17 साल का आलोक, परिजनों का दावा- मुस्लिम लड़की से अफेयर में हत्या

"उन्होंने मेरे पापा से स्पष्ट कहा कि हाँ हमने मारा है, क्या कर लोगे। उन्होंने कहा कि जो दो बचे हैं उन्हें भी बचा कर रखना, वरना उन्हें भी मार डालेंगे।"

दिल्ली के शालीमार बाग़ के एक नवयुवक आलोक कुमार का शव संदिग्ध परिस्थितियों में पेड़ से लटका हुआ मिला। परिजनों ने एक मुस्लिम लड़की के परिवार वालों पर उसकी हत्या का आरोप लगाया है। 17 वर्षीय आलोक कुमार के शव को पुलिस ने रविवार (19 सितंबर, 2021) को बरामद किया, जिसके बाद पोस्टमॉर्टम की प्रक्रिया पूरी की गई और शव को परिजनों को सौंप दिया गया। पुलिस ने इस घटना को शुरुआती तौर पर आत्महत्या बताया है।

मृतक के परिजनों ने आरोप लगाया है कि मुस्लिम परिवार ने लड़के को मार कर उसके शव को पेड़ से लटका दिया। बताया जा रहा है कि आलोक कुमार का मुस्लिम लड़की के साथ प्रेम सम्बन्ध था। इन आरोपों पर दिल्ली पुलिस जाँच करने की बात कह रही है। रविवार को इस घटना के विरोध में विश्व हिन्दू परिषद (VHP) समेत कई हिन्दू संगठन भी परिजनों के साथ सड़क पर उतरे और न्याय की माँग की।

स्थिति को संवेदनशील होता देखते हुए इलाके में पर्याप्त मात्रा में पुलिस बल की तैनाती की गई है। पुलिस ने मृतक के पिता का बयान भी दर्ज कर लिया है। आलोक कुमार अपने परिवार के साथ हैदरपुर इलाके में रहते थे। वो इलाके में बोतल बंद पानी का कारोबार करते थे। ‘दैनिक जागरण’ की खबर के अनुसार, उनका उसी इलाके में एक मुस्लिम लड़की के साथ प्रेम सम्बन्ध था। उक्त लड़की के परिजन इस रिश्ते के खिलाफ थे।

आलोक के पिता हरिराम का कहना है कि उनका बीटा शुक्रवार के दिन से ही लापता था। ऐसे में परिजन लगातार खोजबीन कर रहे थे। तभी उसी इलाके में एक होटल के नजदीक पेड़ से लटका हुआ शव मिला। परिजनों ने इसे हत्या करार दिया। पिता के अनुसार, उक्त लड़की ने आलोक को अपने घर पर बुलाया था और मोबाइल छोड़ कर आने को कहा था। लड़की के परिजन आलोक पर दबाव बना रहे थे कि वो अपने परिवार को छोड़ दे और लड़की से शादी कर ले।

हरिराम का कहना है कि उनका बेटा अपने परिवार को छोड़ने के लिए तैयार नहीं था। आरोप है कि उसी दिन लड़की के अब्बा ने सबक सिखाने की धमकी भी दी थी, जिस दिन आलोक गायब हुए। पुलिस ने पोस्टमॉर्टम की प्रारंभिक रिपोर्ट में आत्महत्या की बात पता चलने का बयान दिया है। अंतिम रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई का आश्वासन दिया गया है। आलोक के साथ मारपीट का एक वीडियो भी सामने आया है।

इस वीडियो में कुछ लोग उसका बीच-बचाव कर रहे हैं। पुलिस पता लगा रही है कि ये वीडियो कब का है और इसका की मौत से कोई कनेक्शन है या नहीं। आलोक की बहन ने मुस्लिम लड़की के जीजा और खाला सहित कई लोगों पर हत्या का आरोप लगाया है। आलोक की बहन ने बताया कि भाई के गायब होने के बाद जब पिता उक्त मुस्लिम परिवार के पास जानकारी के लिए पहुँचे तो उनके साथ भी मारपीट की गई।

मृतक आलोक कुमार की बहन का बयान

आलोक कुमार की बहन ने बताया, “लड़की के परिवार वालों ने मारपीट की थी। उन्होंने मेरे पापा से स्पष्ट कहा कि हाँ हमने मारा है, क्या कर लोगे। उन्होंने कहा कि जो दो बचे हैं उन्हें भी बचा कर रखना, वरना उन्हें भी मार डालेंगे। हम पहले उस जगह पर भी ढूँढने गए थे, जहाँ बाद में उसका शव मिला। लेकिन, तब वहाँ कुछ नहीं था। मेरे पिता ने कई बार खोजबीन की। उस लड़की के परिजनों ने ही मेरे भाई को मारा है।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

किताब से बहती नदी, शरीर से उड़ते फूल और खून बना दूध… नालंदा की तबाही का दोष हिन्दुओं को देने वाले वामपंथी इतिहासकारों का...

बख्तियार खिजली को क्लीन-चिट देने के लिए और बौद्धों को सनातन से अलग दिखाने के लिए वामपंथी इतिहासकारों ने नालंदा विश्वविद्यालय को तबाह किए जाने का दोष हिन्दुओं पर ही मढ़ दिया। इसके लिए उन्होंने तिब्बत की एक किताब का सहारा लिया, जो इस घटना के 500 साल बाद लिखी गई थी और जिसमें चमत्कार भरे पड़े थे।

कनाडा का आतंकी प्रेम देख भारत ने याद दिलाया कनिष्क ब्लास्ट, 23 जून को पीड़ितों को दी जाएगी श्रद्धांजलि: जानिए कैसे गई थी 329...

भारत ने एयर इंडिया के विमान कनिष्क को बम से उड़ाने की बरसी याद दिलाते हुए कनाडा में वर्षों से पल रहे आतंकवाद को निशाने पर लिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -