Monday, July 15, 2024
Homeदेश-समाजओडिशा में हनुमान जयंती शोभायात्रा में फिर पत्थरबाजी, आगजनी के बाद लगा कर्फ्यू, 1...

ओडिशा में हनुमान जयंती शोभायात्रा में फिर पत्थरबाजी, आगजनी के बाद लगा कर्फ्यू, 1 की मौत: पुलिस का खुलासा – हिंसा के लिए पहले से रची गई थी साजिश

संबलपुर में हो रही सांप्रदायिक हिंसा के बीच शुक्रवार (14 अप्रैल, 2023) को भगवान हनुमान की शोभायात्रा निकाली जा रही थी।

ओडिशा के संबलपुर में हनुमान जयंती शोभायात्रा पर फिर पथराव हुआ है। शुक्रवार (14 अप्रैल, 2023) को हुई हिंसा में एक व्यक्ति की मौत हो गई। हालाँकि प्रशासन इस हत्या में सांप्रदायिक एंगल की बात नकार रहा है। वहीं, शनिवार को कई दुकानों और घरों में आग लगने की घटना सामने आई। इससे पहले बुधवार (12 अप्रैल, 2023) को भी शोभायात्रा के दौरान हिंसा हुई थी। इसको लेकर पुलिस ने कहा है कि हिंसा के लिए पहले से प्लानिंग की गई थी।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, संबलपुर में हो रही सांप्रदायिक हिंसा के बीच शुक्रवार (14 अप्रैल, 2023) को भगवान हनुमान की शोभायात्रा निकाली जा रही थी। इस शोभायात्रा के दौरान एक बार फिर पत्थरबाजी हुई। इसके बाद हिंसा शुरू हो गई। घटना को लेकर डीआईजी बृजेश कुमार राय ने कहा है कि शुक्रवार रात को संबलपुर में कई दुकानों में आग लगा दी गई। भयंकर तोड़फोड़ की घटनाएँ भी हुईं हैं। इस हिंसा के बाद इलाके में शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए प्रशासन ने जिले में धारा 144 लागू कर दी है। साथ ही इंटरनेट सेवा भी बंद कर दी गई है।

शोभायात्रा से लौट रहे व्यक्ति की हत्या

संबलपुर में हनुमान जंयती की शोभायात्रा से लौट रहे एक व्यक्ति की हत्या कर दी गई। मृतक की पहचान चंद्र मिर्धा के रूप में हुई। इस हत्या को लेकर प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि करीब 14-15 लोगों ने युवक पर हमला किया था। हमलावरों के हाथ में तलवार और हॉकी स्टिक थी। चंद्र मिर्धा बाइक पर था। पहले ईंट से हमला किया गया। इससे वह बाइक से गिर गया। इसके बाद उस पर तलवार से हमलावर ने उसकी हत्या कर दी गई। हालाँकि, पुलिस इस हत्या को सांप्रदायिक हिंसा का मानने से इनकार कर रही है।

हिंसा के लिए की गई थी प्लानिंग

संबलपुर में बुधवार (12 अप्रैल, 2023) को हुई हिंसा को लेकर एसपी बी गंगाधर ने कहा है कि शुरुआती जाँच में सामने आया है कि हिंसा के लिए पहले से तैयारी की गई थी। इसके लिए कुछ लोगों ने अपने घरों पर पत्थर व अन्य सामान इकट्ठा किया था। पुलिस ने कई घरों में तलाशी ली है। इस दौरान हिंसा फैलाने के उद्देश्य से रखे गए सामान जब्त किए गए हैं। अगर आरोपितों के घर गैर-कानूनी रूप से बनाए गए हैं तो इन पर कार्रवाई होगी। घर पर बुलडोजर चलाया जाएगा। पथराव में शामिल 100 आरोपितों की पहचान हुई है।

इसमें से 26 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। वहीं, 14 अप्रैल को हुई हिंसा के मामले में 53 लोग गिरफ्तार किए जा चुके हैं। इस तरह हनुमान जयंती शोभायात्रा के दौरान हुई हिंसा में कुल मिलाकर अब तक 79 लोग गिरफ्तार किए गए हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बैकफुट पर आने की जरूरत नहीं, 2027 भी जीतेंगे’: लोकसभा चुनावों के बाद हुई पार्टी की पहली बैठक में CM योगी ने भरा जोश,...

लोकसभा चुनावों के बाद पहली बार भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की लखनऊ में आयोजित बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कार्यकर्ताओं में जोश भरा।

जिसने चलाई डोनाल्ड ट्रंप पर गोली, उसने दिया था बाइडेन की पार्टी को चंदा: FBI लगा रही उसके मकसद का पता

पेंसिल्वेनिया के मतदाता डेटाबेस के मुताबिक, डोनाल्ड ट्रंप पर हमला करने वाला थॉमस मैथ्यू क्रूक्स रिपब्लिकन के मतदाता के रूप में पंजीकृत था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -