Wednesday, May 22, 2024
Homeदेश-समाजकॉन्ग्रेस वर्कर ने की नशा तस्करी की शिकायत, AAP समर्थकों ने किया हमला: धारदार...

कॉन्ग्रेस वर्कर ने की नशा तस्करी की शिकायत, AAP समर्थकों ने किया हमला: धारदार हथियार से 30 वार कर सड़क किनारे तड़पता छोड़ा

दिलबाग सिंह के पिता ने बताया, "मेरे बेटे ने नशा तस्करों की शिकायत पुलिस से की थी। इस बात से वो रंजिश रखते थे। उन्होंने मेरे बेटे को बहुत मारा।"

पंजाब के तरनतारन (Tarantaran, Punjab) में सत्ताधारी आम आदमी पार्टी (AAP) के समर्थकों ने बुधवार (13 अप्रैल 2022) को कॉन्ग्रेस (Congress) के एक कार्यकर्ता पर तलवार से हमला कर दिया। बताया जा रहा है कि उस पर लगभग 30 वार किए गए हैं। गंभीर अवस्था में घायल व्यक्ति को अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। इस मामले में SSP के हस्तक्षेप के बाद केस दर्ज किया गया है। विवाद का कारण नशे के तस्करी की शिकायत करना बताया जा रहा है। वहीं, कुछ मीडिया संस्थान इसे राजनैतिक रंजिश भी बता रहे हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यह मामला गाँव ठट्ठियाँ महंता का है। यहाँ के दिलबाग सिंह कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता हैं। पंजाब विधानसभा चुनाव के दौरान उनका आम आदमी पार्टी के कुछ समर्थकों से विवाद हुआ था। घटना के दिन दिलबाग सिंह सुबह 11 बजे के आसपास अपनी 3 साल की बेटी का एडमिशन करवाने नौशहरा पन्नुआ के एक प्राइवेट स्कूल में बाईक से गए थे। इस दौरान उन पर लगभग 5 से 7 हमलावरों ने धारदार हथियारों से हमला कर दिया। उनके हाथ, पैर और सिर को निशाना बनाते हुए लगभग 30 वार किए गए।

हमले के बाद घायल को सड़क के किनारे तड़पता छोड़कर हमलावर फरार हो गए। गंभीर हालात में उन्हें अमृतसर के अमनदीप अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। SSP रणजीत सिंह ढिल्लों ने पीड़ित का बयान दर्ज कर आरोपितों के खिलाफ FIR दर्ज करने के आदेश दिए हैं। वहीं, पीड़ित दिलबाग सिंह के घर वालों ने आम आदमी पार्टी के समर्थकों पर हमले का आरोप लगाया है। उनके मुताबिक दिलबाग सिंह को पहले भी धमकियाँ मिल रही थीं।

दिलबाग ने नशे के तस्करों के खिलाफ की थी शिकायत

न्यूज़ 18 से बात करते हुए दिलबाग सिंह के पिता ने बताया, “मेरे बेटे ने नशा तस्करों की शिकायत पुलिस से की थी। इस बात से वो रंजिश रखते थे। उन्होंने मेरे बेटे को बहुत मारा।” वहीं पुलिस के मुताबिक, “आरोपित अजीत सिंह, भिन्दर, राजू तीन सगे भाई हैं। डेढ़ साल पहले भी इनकी लड़ाई हुई थी। उस केस में पंचायत ने दोनों का समझौता कराके राजीनामा लिखवा दिया था। अब फिर मारपीट हुई है। मामला दर्ज कर के आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ध्वस्त कर दिया जाएगा आश्रम, सुरक्षा दीजिए’: ममता बनर्जी के बयान के बाद महंत ने हाईकोर्ट से लगाई गुहार, TMC के खिलाफ सड़क पर...

आचार्य प्रणवानंद महाराज द्वारा सन् 1917 में स्थापित BSS पिछले 107 वर्षों से जनसेवा में संलग्न है। वो बाबा गंभीरनाथ के शिष्य थे, स्वतंत्रता के आंदोलन में भी सक्रिय रहे।

‘ये दुर्घटना नहीं हत्या है’: अनीस और अश्विनी का शव घर पहुँचते ही मची चीख-पुकार, कोर्ट ने पब संचालकों को पुलिस कस्टडी में भेजा

3 लोगों को 24 मई तक के लिए हिरासत में भेज दिया गया है। इनमें Cosie रेस्टॉरेंट के मालिक प्रह्लाद भुतडा, मैनेजर सचिन काटकर और होटल Blak के मैनेजर संदीप सांगले शामिल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -