Friday, May 24, 2024
Homeदेश-समाजअयोध्या में बम ब्लास्ट की धमकी, सभी प्रमुख मंदिरों और एंट्री पॉइंट पर सख्त...

अयोध्या में बम ब्लास्ट की धमकी, सभी प्रमुख मंदिरों और एंट्री पॉइंट पर सख्त हुई सुरक्षा व्यवस्था

अयोध्या के सीओ आरके चतुर्वेदी ने कहा है कि सोशल मीडिया और व्हाट्सप्प पर आतंकी हमले की धमकी सूचना चल रही है, जिसके मद्देनजर नगर के सभी प्रवेश द्वारों पर जाँच की जा रही है।

भगवान राम की जन्मस्थली अयोध्या को बम से उड़ाने की धमकी मिली है, जिसके बाद प्रशासन के कान खड़े हो गए हैं। सोशल मीडिया के जरिए मिली धमकी को देखते हुए सुरक्षा एजेंसियाँ सतर्क हो गई हैं। पुलिस सघन तलाशी अभियान चला रही है और जिले के सभी एंट्री प्वाइंट्स, होटल और धर्मशालाओं की सुरक्षा व्यवस्था को कड़ी कर दिया गया है।

रिपोर्ट के मुताबिक, अयोध्या के सीओ आरके चतुर्वेदी ने कहा है कि सोशल मीडिया और व्हाट्सप्प पर आतंकी हमले की धमकी सूचना चल रही है, जिसके मद्देनजर नगर के सभी प्रवेश द्वारों पर जाँच की जा रही है। इस बीच बताया जा रहा है कि कथित तौर पर अयोध्या बम ब्लास्ट की धमकी देने वाला आरोपित गुजरात के अहमदाबाद का रहने वाला है। पुलिस अधिकारी के मुताबिक, सुरक्षा के लिहाज से शहर के सभी संवेदनशील इलाकों में मंदिरों की सुरक्षा को चाक-चौबंद किया गया है।

इसके अलावा अयोध्या में सीआरपीएफ और एटीएस का दस्ता एक्टिव मोड पर है। फिलहाल प्रशासन ने अभी तक इस तरह की किसी भी धमकी के मिलने की पुष्टि नहीं की है, लेकिन सुरक्षा एजेंसियों ने इनपुट के आधार पर जाँच तेज कर दिया है।

ब्लैक कमांडो की तैनाती की गई

रिपोर्ट में कहा गया है कि गुरुवार (2 दिसंबर 2021) को डायल-112 पर अज्ञात व्यक्ति की धमकी के बाद अयोध्याभर में ब्लैक कैट कमांडो के दस्ते को तैनात किया गया है।

गौरतलब है कि इससे पहले इसी साल जुलाई में अलकायदा के आतंकियों को गिरफ्तार किया था। एटीएस को पता चला था आतंकियों ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण स्थल की रेकी की थी। साथ ही काशी और मथुरा जैसे धार्मिक स्थलों के नक़्शे भी उनके पास से बरामद हुए थे। नक्शों में अलग-अलग बिंदु बना कर कुछ-कुछ चिह्नित भी किया गया था। टेलीग्राम और व्हाट्सएप्प के जरिए आतंकियों का ये नेटवर्क आपस में संपर्क में था। पुलिस को कुछ चैट हाथ लगे थे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नाम – कृष्णा मोहिनी, जगह – द्वारका, एजेंडा – प्राइड मार्च वाला: Colors के सीरियल में LGBTQIA+ प्रोपेगंडा के लिए बच्चे का इस्तेमाल, लड़का...

सीरियल में जब बच्चा पूछता है कि 'प्राइड मार्च' क्या होता है, तो एक शख्स समझाता है कि वो लड़की पैदा हुई थी लेकिन उसे लड़के जैसा रहना पसंद है तो उसने खुद को लड़का बना दिया।

पहले दोस्ती की, फिर फ्लैट में ले गई… MP अनवारुल अजीम की हत्या में शिलांती रहमान पकड़ी गई, कसाई से कटवाया फिर हल्दी लगाकर...

बांग्लादेशी सांसद की हत्या मामला में वो महिला हिरासत में ले ली गई है जिसने उन्हें हनीट्रैप में फँसाकर फ्लैट में बुलवाया था। महिला का नाम शिलांती रहमान है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -