Wednesday, August 4, 2021
Homeदेश-समाजअलकायदा आतंकियों के पास से मिला अयोध्या, काशी और मथुरा का नक्शा: राम मंदिर...

अलकायदा आतंकियों के पास से मिला अयोध्या, काशी और मथुरा का नक्शा: राम मंदिर की रेकी की थी, ATS को मिले बड़े सबूत

आतंकियों ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण स्थल की रेकी की थी। साथ ही काशी और मथुरा जैसे धार्मिक स्थलों के नक़्शे भी उनके पास से बरामद हुए हैं। नक्शों में अलग-अलग बिंदु बना कर कुछ-कुछ चिह्नित भी किया गया है।

जब से सुप्रीम कोर्ट का फैसला रामलला विराजमान के हक़ में आया है और राम मंदिर निर्माण के लिए ट्रस्ट का गठन हुआ, तभी ये राम मंदिर आतंकियों के निशाने पर है। अब उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के काकोरी से गिरफ्तार दोनों अलकायदा आतंकियों के पास से भी राम मंदिर व इसके आसपास के इलाके का नक्शा मिला है। इन आतंकियों के पास से कई अन्य शहरों के नक़्शे भी बरामद हुए हैं।

आतंकियों ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण स्थल की रेकी की थी। साथ ही काशी और मथुरा जैसे धार्मिक स्थलों के नक़्शे भी उनके पास से बरामद हुए हैं। नक्शों में अलग-अलग बिंदु बना कर कुछ-कुछ चिह्नित भी किया गया है। टेलीग्राम और व्हाट्सएप्प के जरिए आतंकियों का ये नेटवर्क आपस में संपर्क में था। पुलिस को कुछ चैट हाथ लगे हैं। पिछले 24 घंटों में एक दर्जन से भी अधिक संदिग्धों को गिरफ्तार कर उनसे पूछताछ जारी है।

बम बनाने के लिए इन आतंकियों ने माचिस की तीलियों में लगे बारूद का इस्तेमाल किया था। कानपुर से ये आतंकी मोबाइल फोन खरीद कर लाए थे और नई सड़क इलाके में रहने वाले अपने एक साथी के साथ बैठक की थी। नेटवर्क में और लोगों को जोड़ने के लिए मिनहाज और मुशीर नाम के आतंकी की बैठक हुई। संभल से भी दो लोग हिरासत में लिए गए हैं। पुलिस ने दोनों के खिलाफ पर्याप्त सबूत जुटा लिए हैं।

अलकायदा के गजवातुल हिंद से जुड़े दोनों आतंकियों ने स्वतंत्रता दिवस (15 अगस्त) के आसपास देश के कई इलाकों को दहलाने की साजिश रची थी। पता चला है कि अब तक सरगना से इन आतंकियों को फंड्स नहीं मिले थे, ऐसे में इन्होंने खुद से वेबसाइट देख कर बम बनाना सीखा और 2000 रुपए लगा कर कूकर बम बनाया था। ATS इन दोनों को आज रिमांड पर ले सकती है। ATS अब शकील नाम के एक आतंकी की तलाश में है।

ये भी खुलासा हुआ है कि इनमें से एक मिनहाज की बीवी और उसकी कार के बारे में भी कई तरह की संदिग्ध बातें सामने आई हैं। उसके घर से ही विस्फोटक के साथ प्रेशर कूकर और पिस्टल बरामद हुए हैं। मिनहाज की बीवी इंटीग्रल यूनिवर्सिटी में कार्यरत है। उसके घर से इस यूनिवर्सिटी का एक वाहन पास भी जब्त किया गया है। लखनऊ में चलने वाली इंटीग्रल यूनिवर्सिटी एक अल्पसंख्यक शैक्षिक संस्थान है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

दिल्ली में कमाल: फ्लाईओवर बनने से पहले ही बन गई थी उसपर मजार? विरोध कर रहे लोगों के साथ बदसलूकी, देखें वीडियो

दिल्ली के इस फ्लाईओवर का संचालन 2009 में शुरू हुआ था। लेकिन मजार की देखरेख करने वाला सिकंदर कहता है कि मजार वहाँ 1982 में बनी थी।

राणा अयूब बनीं ट्रोलिंग टूल, कश्मीर पर प्रोपेगेंडा चलाने के लिए आ रहीं पाकिस्तान के काम: जानें क्या है मामला

पाकिस्तान के सूचना मंत्रालय से जुड़े लोग ऑन टीवी राणा अयूब की तारीफ करते हैं। वह उन्हें मोदी सरकार का पर्दाफाश करने वाली ;मुस्लिम पत्रकार' के तौर पर जानते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,975FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe