Sunday, October 17, 2021
Homeदेश-समाजBJP जिलाध्यक्ष की गोली मार कर हत्या, निकले थे मॉर्निंग वॉक पर: CM योगी...

BJP जिलाध्यक्ष की गोली मार कर हत्या, निकले थे मॉर्निंग वॉक पर: CM योगी ने पुलिस को दिया 24 घंटे का अल्टीमेटम

संजय खोखर 3 वर्षों तक बागपत में भाजपा के जिलाध्यक्ष रहे थे। उनके कार्यकाल में ही पार्टी ने बड़ौत व बागपत विधानसभा सीटों पर जीत दर्ज की थी।

उत्तर प्रदेश के बागपत जिले में मॉर्निंग वॉक पर निकले पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष संजय खोखर की हत्या कर दी गई है। ये घटना मंगलवार (अगस्त 11, 2020) की सुबह हुई। तीन अपराधियों ने इस वारदात को अंजाम दिया और फिर फरार हो गए। संजय खोखर को तीन गोलियाँ लगी हैं, जिसके बाद मौके पर ही उनकी मौत हो गई। छपरौली थाना क्षेत्र में ये वारदात हुई, जब वो तड़के सुबह सैर के लिए निकले थे।

भाजपा नेता की हत्या के बाद क्षेत्र में दहशत का माहौल है। भाजपा कार्यकर्ताओं ने भी पुलिस की कार्यप्रणाली को लेकर सवाल खड़े किए हैं। पुलिस ने बताया है कि भाजपा नेता संजय खोखर के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए हॉस्पिटल भेजा गया है और अपराधियों की धर-पकड़ के लिए टीम का गठन कर दिया गया है। पुलिस ने हत्यारोपितों की जल्द गिरफ़्तारी कर इस हत्याकांड के खुलासे की बात कही है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी उनकी मौत पर गहरी संवेदना प्रकट की है। कहा जा रहा है कि सीएम ने इस मामले में सख्ती दिखाई है और पुलिस को घटना के खुलासे के लिए 24 घंटे का वक़्त दिया है। मुख्यमंत्री ने आरोपितों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। संजय खोखर काकोर कला गाँव के जूनियर हाईस्कूल में बतौर शिक्षक कार्यरत थे। वो तिलवाड़ा मार्ग से सुबह की सैर के लिए निकले थे।

वहाँ से लगभग डेढ़ किलोमीटर दूर एक खेत में उनकी गोली मार कर हत्या कर दी गई। वो अकेले ही घूमने निकले थे। स्थानीय एसपी, सीओ और थानाध्यक्ष ने पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर पहुँच कर स्थिति का जायजा लिया। बताया गया है कि अपराधी पहले से ही घात लगा कर बैठे हुए थे। संजय खोखर 3 वर्षों तक बागपत में भाजपा के जिलाध्यक्ष रहे थे और उनके कार्यकाल में ही पार्टी ने बड़ौत व बागपत विधानसभा सीटों पर जीत दर्ज की थी।

हाल ही में इसी तरह से बडगाम में भाजपा OBC मोर्चा के जिलाध्यक्ष अब्दुल हामिद नज़र की हत्या कर दी गई। आतंकियों ने उन्हें रविवार (अगस्त 9, 2020) को गोली मार दी थी। भाजपा ओबीसी प्रकोष्ठ के अध्यक्ष अब्दुल हामिद सिक्यॉरिटी सेंटर से सैर के लिए निकले थे। तभी बाइक सवार आतंकियों ने उन्हें गोली मार दी थी। 38 वर्षीय अब्दुल हामिद नज़र बडगाम के मेहदीपोरा के रहने वाले थे।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘हम देश को जाति-क्षेत्र और मजहब के आधार पर बँटने नहीं देंगे, दंगा किया…तो सात पुश्तें भरेंगी’: योगी आदित्यनाथ

पिछड़ा वर्ग सम्मेलन में सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा दंगा करोगे तो सात पुश्तों को इसकी भरपाई करनी पड़ेगी। मूर्ति कला उद्योग बना रोजगार का साधन।

‘और गिरफ़्तारी की बात मत करो, वरना सरेंडर करने वाले साथियों को भी छुड़ा लेंगे’: निहंगों की पुलिस को धमकी, दलित लखबीर को बताया...

दलित लखबीर की हत्या पर निहंग बाबा राजा राम सिंह ने कहा कि हमारे साथियों को मजबूरन सज़ा देनी पड़ी, क्योंकि किसी ने कोई कार्रवाई नहीं की।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,325FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe