जन्माष्टमी की झाँकी पर पथराव, फरसा व अन्य हथियारों का इस्तेमाल भी: UP के बरेली में तनाव, देखें Video

मुस्लिम समुदाय के लोगों ने जन्माष्टमी की झाँकी में शामिल लोगों पर पथराव कर दिया। झाँकी में शामिल लोग अपनी जान बचाने के लिए इधर-उधर भागने लगे। फरसा समेत अन्य हथियारों का इस्तेमाल भी...

बरेली (उत्तर प्रदेश) में बहेड़ी के गाँव मकरी नवादा में जन्माष्टमी के अवसर पर झाँकी निकालने को लेकर हिंदू-मुसलमानों के बीच झड़प हो गई। यह गाँव मुस्लिम बहुल गाँव है और जन्माष्टमी की झाँकी के दौरान मुस्लिम समुदाय के लोगों ने झाँकी निकालने वालों पर पथराव कर बवाल को जन्म दिया।

दो संप्रदायों के बीच हुए इस तनाव में फरसा समेत अन्य हथियारों का इस्तेमाल भी किया गया। इस दौरान हवा में बंदूकें भी लहराई गईं। इस तनाव में क़रीब 10 लोगों के घायल होने की ख़बर है। घटना की जानकारी मिलते ही तहसील के चार थानों की पुलिस घटना-स्थल पर पहुँच गई।

भारी तनाव के चलते की गई पीएसी की तैनाती (तस्वीर सौजन्य: देनिक जागरण)

मौक़े पर पहुँची पुलिस ने उपद्रवियों को धमका कर उन्हें अपने-अपने घर जाने को कहा, जब जाकर हालात पर क़ाबू पाया जा सका। सभी घायलों को एम्बूलेंस से अस्पताल भेजा गया। फ़िलहाल, एसपी ग्रामीण, सीओ और एसडीएम ने भी गाँव में डेरा डाल दिया है। साथ ही क्षेत्र में भारी तनाव को देखते हुआ पीएसी की तैनाती भी कर दी गई है।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

दरअसल, थाना देवरनिया क्षेत्र का गाँव मकरी नवादा मुस्लिम बहुल है। शुक्रवार (23 अगस्त) को लोग कृष्ण जन्माष्टमी का त्योहार मना रहे थे। परंपरा स्वरूप दोपहर के समय कृष्ण की झाँकी (शोभायात्रा) निकाले जाने की तैयारी थी, लेकिन जुमे की नमाज़ के चलते झाँकी का समय दोपहर 3 बजे रखा गया। ख़बर के अनुसार, दोपहर 3 बजे जैसे ही शोभायात्रा में शामिल ट्रैक्टर ट्रॉली अपने अंतिम पड़ाव के तहत गाँव के होली चौराहै पर पहुँची, तो मुस्लिम समुदाय ने उस शोभायात्रा को वहीं रोक दिया, और उन्हें वापस जाने को कहा।

इस बात पर दोनों पक्षों में कहासुनी शुरू हो गई। बात इतनी बढ़ गई कि मुस्लिम समुदाय के लोगों ने शोभायात्रा में शामिल लोगों पर पथराव कर दिया। शोभायात्रा में शामिल लोग अपनी जान बचाने के लिए इधर-उधर भागने लगे।

भगदड़ भरे माहौल में दोनों समुदायों के बीच पथराव हुआ (तस्वीर सौजन्य: हिंदुस्तान)

पुलिस अधीक्षक (देहात) संसार सिंह ने घटना-स्थल का मुआयना किया। वहाँ मौजूद लोगों से पूछताछ की। दो समुदायों के बीच इस विवाद को देखते हुए गाँव को छावनी में तब्दील कर दिया गया है। इस मामले पर एसपी (देहात) ने बताया कि जल्द ही दोषियों की पहचान कर उनके ख़िलाफ़ सख़्त कार्रवाई की जाएगी।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

नीरज प्रजापति, हेमंत सोरेन
"दंगाइयों ने मेरे पति को दौड़ा कर उनके सिर पर रॉड से वार किया। इसके बाद वो किसी तरह भागते हुए घर पहुँचे। वहाँ पहुँच कर उन्होंने मुझे सारी बातें बताईं। इसके बाद वो अचानक से बेहोश हो गए।" - क्या मुख्यमंत्री सोरेन सुन रहे हैं मृतक की पत्नी की दर्द भरी आवाज़?

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

145,306फैंसलाइक करें
36,933फॉलोवर्सफॉलो करें
166,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: