Thursday, June 20, 2024
Homeदेश-समाजकुत्तों के नहाने के लिए बाथ टब, पीने के लिए शराब: दियादी विवाद से...

कुत्तों के नहाने के लिए बाथ टब, पीने के लिए शराब: दियादी विवाद से पकड़ी गई हेमा मीणा की भ्रष्टाचार की कमाई, नौकरी गई

बताया जा रहा है कि हेमा मीणा के भ्रष्टाचार की शिकायत उसके चचेरे भाई ने ही दी थी। उसने करीब तीन साल पहले 2020 में लोकायुक्त को शिकायत दी। शिकायत में रायसेन और विदिशा में हेमा द्वारा जमीन खरीदने की बात कही गई थी।

मध्य प्रदेश पुलिस हाउसिंग कारपोरेशन में संविदा पर बहाल हुई असिस्टेंट इंजीनियर हेमा मीणा को नौकरी से निकाल दिया गया है। उसके ठिकानों पर लोकायुक्त की छापेमारी के बाद यह कदम उठाया गया। छापेमारी में अकूत धन का पता चला था। उसके फॉर्म हाउस से 100 से ज्यादा कुत्ते मिले थे। इनके नहाने के लिए बाथ टब का इंतजाम था। पीने के लिए शराब तक थी।

लोकायुक्त की टीम ने 11 मई 2023 को हेमा मीणा के भोपाल स्थित जिस घर पर छापा मारा था, उसमें 40 कमरे हैं। महल की तरह बने इस घर में न मीणा के कुत्ते भी ऐश की जिंदगी रहे थे। इस घर में कुत्तों के नहाने के लिए बाथटब की व्यवस्था की गई थी। कुत्तों का खाना बनाने के लिए ढाई लाख रुपए की रोटी मेकर मशीन लगी थी। लोकायुक्त टीम को विदेशी शराब की बोतलें भी मिली थी।

विदेशी शराब की इन बोतलों को लेकर NBT ने इस छापेमारी में शामिल लोकायुक्त अधिकारी के हवाले से कहा है कि हेमा मीणा अपने पालतू कुत्तों को शराब पिलाती थी। कुत्तों को दवाई के रूप में शराब दी जाती थी। बताया जा रहा है कि हेमा मीणा के घर से मिले कुत्तों में अधिकांश कुत्ते विदेशी नस्ल के हैं। इन कुत्तों की कीमत लाखों में बताई जा रही है।

बताया जा रहा है कि हेमा मीणा के भ्रष्टाचार की शिकायत उसके चचेरे भाई ने ही दी थी। उसने करीब तीन साल पहले 2020 में लोकायुक्त को शिकायत दी। शिकायत में रायसेन और विदिशा में हेमा द्वारा जमीन खरीदने की बात कही गई थी।

पुलिस हाउसिंग कारपोरेशन में हेमा मीणा की नियुक्ति का पहला आदेश 28 दिसंबर 2010 को जारी हुआ था। इस आदेश के तहत 1 जनवरी 2011 को उसने जॉइन किया। लेकिन फिर उसी साल 31 मई को नौकरी से इस्तीफा दे दिया। इसके बाद 22 फरवरी 2013 को एक बार फिर उसकी जॉइनिंग हो गई। इस बार करीब डेढ़ साल नौकरी करने के बाद उसने जुलाई 2015 में इस्तीफा दे दिया।

24 नवंबर 2016 को एक बार फिर उसकी जॉइनिंग हुई। लेकिन इसके एक साल बाद ही उसका प्रमोशन हो गया। वह सब-इंजीनियर से प्रभारी इंजीनियर बना दी गई। हेमा मीणा की संविदा नौकरी मई 2022 में समाप्त हो रही थी, लेकिन इसे बढ़ाकर अक्टूबर 2023 कर दिया गया। ऐसे में सवाल यह है कि आखिर किसके आदेश पर वह बार-बार इस्तीफा देती रहीं और उन्हें नौकरी मिलती रही। इस मामले में हेमा मीणा के अलावा एक अन्य इंजीनियर जनार्दन सिंह के खिलाफ भी लोकायुक्त की टीम जाँच कर रही है।

लोकायुक्त ने बनाई 450 सामानों की लिस्ट

लोकायुक्त की टीम ने हेमा मीणा के घर से मिले सामानों की लिस्ट बनाई है। इसमें 450 सामानों को शामिल किया है। इनमें 30 लाख रुपए का टीवी, रोटी बनाने की मशीन, रिवॉल्विंग कुर्सी, पानी की 12 मोटर, मिनी क्रेन, कई एसी और अलमारी समेत वाहन शामिल हैं। इन सामानों की अनुमानित कीमत 1.50 करोड़ के आसपास बताई जा रही है। वहीं, 100 से अधिक कुत्तों और 60 से अधिक गायों की कीमत का आकलन होना बाकी है। हेमा मीणा के घर में बने बड़े से गैराज में थार समेत 20 लग्जरी कारों का जखीरा मिला है। इस घर में काम करने वाले कर्मचारियों से बात करने के लिए वह वॉकी-टॉकी का उपयोग करती थीं। इसके अलावा, हेमा मीणा के नाम से मिली संपत्तियों को लेकर उसने दावा किया है कि उसके पिता और भाई ने जमीन खरीदकर दान में दी थी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बिहार का 65% आरक्षण खारिज लेकिन तमिलनाडु में 69% जारी: इस दक्षिणी राज्य में क्यों नहीं लागू होता सुप्रीम कोर्ट का 50% वाला फैसला

जहाँ बिहार के 65% आरक्षण को कोर्ट ने समाप्त कर दिया है, वहीं तमिलनाडु में पिछले तीन दशकों से लगातार 69% आरक्षण दिया जा रहा है।

हज के लिए सऊदी अरब गए 90+ भारतीयों की मौत, अब तक 1000+ लोगों की भीषण गर्मी ले चुकी है जान: मिस्र के सबसे...

मृतकों में ऐसे लोगों की संख्या अधिक है, जिन्होंने रजिस्ट्रेशन नहीं कराया था। इस साल मृतकों की संख्या बढ़कर 1081 तक पहुँच चुकी है, जो अभी बढ़ सकती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -