Monday, May 20, 2024
Homeदेश-समाजउत्तर प्रदेश: स्वास्थ्यकर्मियों पर हमला करने के आरोप में भीम आर्मी नेता उपकार बाबरा...

उत्तर प्रदेश: स्वास्थ्यकर्मियों पर हमला करने के आरोप में भीम आर्मी नेता उपकार बाबरा गिरफ्तार

जिला अस्पताल में एक युवक को उपचार के लिये भर्ती कराया गया था। गुरुवार शाम भीम आर्मी के जिलाध्यक्ष उपकार बाबरा जिला अस्पताल में पहुँचे और उपचार में लापरवाही का आरोप लगाते हुए उन्होंने डॉक्टरों के साथ बदसलूकी करनी शुरू कर दी।

भीम आर्मी के जिला अध्यक्ष उपकार बाबरा को गुरुवार (अप्रैल 30, 2020) देर रात जिला अस्पताल में मेडिकल स्टाफ के साथ मारपीट करने के आरोप में गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। मुजफ्फरनगर के जिला अस्पताल में यह घटना जिले के पुरकाजी क्षेत्र से आए लोगों को चिकित्सकीय सुविधा देने को लेकर हुई बहस के बाद हुई।

दरअसल, जिला अस्पताल में एक युवक को उपचार के लिये भर्ती कराया गया था। गुरुवार शाम भीम आर्मी के जिलाध्यक्ष उपकार बाबरा जिला अस्पताल में पहुँचे और उपचार में लापरवाही का आरोप लगाते हुए उन्होंने डॉक्टरों के साथ बदसलूकी करनी शुरू कर दी।

इसके बाद बावरा के खिलाफ अस्पताल के मेडिकल स्टाफ ने शिकायत दर्ज कराई। इस पर कार्रवाई करते हुए पुलिस ने बाबरा को शनिवार (मई 2, 2020) को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया और आईपीसी की संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया। नगर-कोतवाली पुलिस स्टेशन के स्टेशन हाउस ऑफिसर अनिल कपरवान ने पुष्टि की कि भीम आर्मी के नेता को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। उपकार बाबरा के खिलाफ आईपीसी की धारा 269, 270, 323, 504 और 506 के तहत मामला दर्ज किया गया है।

पहले भी जा चुके हैं जेल

गौरतलब है कि उपकार बावरा को दो साल पहले आरक्षण को लेकर एससी संगठनों के आंदोलन में हिंसा के बाद गिरफ्तार कर जेल भेजा गया था। तब उपकार बाबरा पर NSA भी लगाया गया था।

इससे पहले भोपाल से भाजपा उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर के मुँह पर कालिख पोतने वाले को ₹5 लाख का ईनाम देने का ऐलान करने वाले महाराष्ट्र भीम आर्मी के चीफ अशोक कांबले को गिरफ्तार किया गया था। इस मामले में पुलिस ने कांबले के अलावा सात अन्य पार्टी कार्यकर्ताओं को भी गिरफ्तार किया था। इसके अलावा अगस्त 2019 में दिल्ली के तुगलकाबाद रविदास मंदिर ध्वंस मामले में भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर समेत 96 लोगों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया था। इन सभी पर दंगा भड़काने और हिंसा आदि का मुकदमा दर्ज किया गया था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

भारत में 1300 आइलैंड्स, नए सिंगापुर बनाने की तरफ बढ़ रहा देश… NDTV से इंटरव्यू में बोले PM मोदी – जमीन से जुड़ कर...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आँकड़े गिनाते हुए जिक्र किया कि 2014 के पहले कुछ सौ स्टार्टअप्स थे, आज सवा लाख स्टार्टअप्स हैं, 100 यूनिकॉर्न्स हैं। उन्होंने PLFS के डेटा का जिक्र करते हुए कहा कि बेरोजगारी आधी हो गई है, 6-7 साल में 6 करोड़ नई नौकरियाँ सृजित हुई हैं।

कॉन्ग्रेस कार्यकर्ताओं ने अपने ही अध्यक्ष के चेहरे पर पोती स्याही, लिख दिया ‘TMC का एजेंट’: अधीर रंजन चौधरी को फटकार लगाने के बाद...

पश्चिम बंगाल में कॉन्ग्रेस का गठबंधन ममता बनर्जी के धुर विरोधी वामदलों से है। केरल में कॉन्ग्रेस पार्टी इन्हीं वामदलों के साथ लड़ रही है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -