Monday, November 29, 2021
Homeदेश-समाजदुर्गा पूजा जुलूस में लोगों को कुचलने वाला ड्राइवर मोहम्मद उमर गिरफ्तार, नदीम फरार,...

दुर्गा पूजा जुलूस में लोगों को कुचलने वाला ड्राइवर मोहम्मद उमर गिरफ्तार, नदीम फरार, भीड़ में कई बार गाड़ी आगे-पीछे किया था

मोहम्मद उमर का कहना है कि वो रात को चाय-नशा और सिगरेट पीने के लिए रेलवे स्टेशन गया हुआ था। वो अपने साथी नदीम को उसके घर छोड़ने जा रहा था। वारदात के बाद भी वो पूरे शहर में घूमता रहा।

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में शनिवार (17 अक्टूबर, 2021) की रात दुर्गा पूजा प्रतिमा विसर्जन के जुलूस में शामिल श्रद्धालुओं को एक कार कुचलती हुई निकल गई। कार के ड्राइवर का नाम मोहम्मद उमर है, जो भानपुर मल्टी छोला का रहने वाला है। उसके साथ अशोक गार्डन का नदीम बैठा हुआ था। जहाँ 23 वर्षीय मोहम्मद उमर को गिरफ्तार कर लिया गया है, 22 वर्षीय नदीम की तलाश जारी है।

पूछताछ में मोहम्मद उमर ने उगला है कि घटना के बाद वो द्वारिका नगर होते हुए छोला पहुँचा था। वारदात के बाद भी वो पूरे शहर में घूमता रहा। ऐशबाग इलाके से उसे पुलिस ने धर दबोचा। बकौल उमर, वो रात को चाय-नशा और सिगरेट पीने के लिए रेलवे स्टेशन गया हुआ था। वो अपने साथी नदीम को उसके घर छोड़ने जा रहा था। स्टेशन के प्रवेश द्वार के सामने से झाँकी निकल रही थी। सड़क पर भीड़ लगी थी।

मोहम्मद उमर का कहना है कि उसे लगा कि कार भीड़ में से निकल जाएगी, लेकिन एक बच्चे के ऊपर कार का पहिया चढ़ जाने के कारण वो चीखने लगा और भीड़ आक्रोशित हो गई। ड्राइवर का कहना है कि कार को घेर कर कुछ युवक कहासुनी करने लगे और गाड़ी के शीशे फोड़ने लगे, जिसके बाद भागने के चक्कर में उसने कार को रिवर्स किया क्योंकि आगे जगह नहीं थी। मोहम्मद उमर का कहना है कि इसी चक्कर में लोग घायल हुए।

इसके बाद उसने जीआरपी थाने के पास कार को टर्न किया और पूरे शहर में घूमता रहा। ‘दैनिक भास्कर’ की खबर के अनुसार, इस घटना में चांदबड़ बजरिया निवासी रोशन शाक्या, यश साहू, सुरेन्द्र सेन, चित्रांश सिंह साहू घायल हो गए थे। रोशन का लालघाटी स्थित निजी अस्पताल में उपचार चल रहा है। उनकी हालत गंभीर है। उनके सिर, पैर, हाथ में गंभीर चोट लगी है। अन्य घायलों को इलाज के बाद घर भेज दिया गया है।

मोहम्मद उमर कार को बेंगलुरु से लेकर आया था और उसे इंदौर जाना था। उमर और नदीम, दोनों ही पेशे से ड्राइवर हैं और कार को डिलीवर करते हैं। जहाँगीराबाद सीएसपी अभिनव विश्वकर्मा ने जानकारी दी है कि मेडिकल जाँच में ड्राइवर के शराब के नशे में होने की पुष्टि नहीं हुई है। कार को जब्त कर लिया गया है। वहाँ मौजूद श्रद्धालुओं का कहना है कि ड्राइवर ने कई बार कार को आगे-पीछे कर के लोगों को कुचला।

घायल रोशन शाक्य का कहना है कि उन्हें गाड़ी से 10 मीटर तक घसीटा गया। शोर मचाने के बावजूद ड्राइवर ने गाड़ी नहीं रोकी और 200 मीटर रिवर्स कर भागा। लोगों का कहना है कि वो नशे में भी था। रोशन के सिर से काफी खून बह रहा था और वो बेहोश हो गए थे। घायल सुरेंद्र सेन ने बताया कि उनके पाँव पर गाड़ी चढ़ा कर रफ़्तार बढ़ा दी। लोगों ने उसे आगे जाने से रोका, लेकिन फिर भी ड्राइवर ने बात नहीं मानी।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘जिनके घर शीशे के होते हैं, वे दूसरों पर पत्थर नहीं फेंका करते’: केजरीवाल के चुनावी वादों पर बरसे सिद्धू, दागे कई सवाल

''अपने 2015 के घोषणापत्र में 'आप' ने दिल्ली में 8 लाख नई नौकरियों और 20 नए कॉलेजों का वादा किया था। नौकरियाँ और कॉलेज कहाँ हैं?"

‘शरजील इमाम ने किसी को भी हथियार उठाने या हिंसा करने के लिए नहीं कहा, वो पहले ही 14 महीने से जेल में’: इलाहाबाद...

इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने अपनी टिप्पणी में कहा कि शरजील इमाम ने किसी को भी हथियार उठाने या हिंसा करने के लिए नहीं कहा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
140,506FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe