Friday, May 31, 2024
Homeदेश-समाजमोतीलाल कॉलेज में मजार: साध्वी प्रज्ञा ने बताया- डरे हुए हैं छात्र और स्टाफ,...

मोतीलाल कॉलेज में मजार: साध्वी प्रज्ञा ने बताया- डरे हुए हैं छात्र और स्टाफ, भोपाल के केंद्रीय विद्यालय में मस्जिद का भी उठाया था मसला

इससे पहले साध्वी प्रज्ञा ने भोपाल के केंद्रीय विद्यालय क्रमांक 2 कैंपस में नमाज पढ़ने पर सवाल उठाया था। उनका कहना था कि सेंट्रल स्कूल कैंपस के अंदर छात्र-छात्राओं की पढ़ाई के बीच बाहरी लोगों का स्कूल में प्रवेश होता रहता है।

भोपाल की सांसद साध्वी प्रज्ञा ने अब मोतीलाल विज्ञान महाविद्यालय (MVM) परिसर में मजार को लेकर सवाल उठाए हैं। उन्होंने इसके कारण छात्रों और स्टाफ के बीच भय व्याप्त होने की बात भी कही है। इससे पहले उन्होंने भोपाल के एक केंद्रीय स्कूल में अवैध मस्जिद होने और वहाँ नमाज के लिए जुटने वाली भीड़ की वजह से बच्चों के लिए उत्पन्न खतरे का मसला उठाया था।

सांसद ने कहा है कि MVM परिसर में मजार होने के कारण अनाधिकृत लोग कॉलेज परिसर में प्रवेश करते हैं। इससे वहाँ पढ़ने वाले स्टूडेंट्स और स्टाफ को खतरा है। इस मामले में सांसद ने भोपाल कलेक्टर और कमिश्नर को पत्र लिखकर कार्रवाई करने को कहा है।

सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने कमिश्नर लिखे पत्र में कहा है कि एमवीएम के उत्तर-पूर्व दिशा में मजार बनी हुई है। मजार पर लोगों के अवैध और असमय प्रवेश होने से छात्र-छात्राओं की पढ़ाई पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा है। मोतीलाल विज्ञान महाविद्यालय में लड़के एवं लड़कियाँ दोनों शिक्षा प्राप्त कर रहे हैं। कॉलेज परिसर में लोगों के अनाधिकृत प्रवेश के चलते स्टूडेंट्स और कॉलेज स्टाफ सुरक्षित नहीं है। स्टाफ में भय का माहौल है। सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने भोपाल कमिश्नर को कॉलेज परिसर में अवांछित भीड़ के प्रवेश को रोकने के लिए जल्द से जल्द कार्रवाई करने का आग्रह किया है। मामले को अत्यंत महत्वपूर्ण और संवेदनशील बताते हुए तुरंत कार्रवाई करने की बात कही है।

सांसद ने कहा कि साल 1985 तक कॉलेज कैंपस में मजार नहीं था। उन्होंने मजार बनने को लेकर कॉलेज प्रिंसिपल से भी सवाल किए।सांसद ने बताया कि उनको कॉलेज की टूटी हुई बाउंड्री वॉल को लेकर शिकायत मिली थी। लड़कियों की सुरक्षा के लिहाज से बाउंड्री वॉल तुरंत तैयार करवाने के निर्देश दिए थे। लेकिन मजार के कारण छात्र-छात्राओं की सुरक्षा में सेंध लगी हुई है। ऐसे में छात्र और कॉलेज स्टाफ कैसे सुरक्षित रहेंगे। पूरे मामले को लेकर उन्होंने कॉलेज प्रबंधन को जिला प्रशासन से भी बात करने को कहा है।

केंद्रीय विद्यालय क्रमांक-2 में नमाज पढ़ने पर जताई थी आपत्ति

इससे पहले सांसद साध्वी प्रज्ञा ने भोपाल के केंद्रीय विद्यालय क्रमांक 2 कैंपस में नमाज पढ़ने पर सवाल उठाया था। उनका कहना था कि सेंट्रल स्कूल कैंपस के अंदर छात्र-छात्राओं की पढ़ाई के बीच बाहरी लोगों का स्कूल में प्रवेश होता रहता है। इस मामले को लेकर सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने कलेक्टर को पत्र लिखकर कार्रवाई करने को कहा था। इसके अलावा हाल ही मैं उन्होंने मस्जिदों में लाउडस्पीकर से बजने वाले अजान के शोर पर भी आपत्ति जताई थी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

200+ रैली और रोडशो, 80 इंटरव्यू… 74 की उम्र में भी देश भर में अंत तक पिच पर टिके रहे PM नरेंद्र मोदी, आधे...

चुनाव प्रचार अभियान की अगुवाई की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने। पूरे चुनाव में वो देश भर की यात्रा करते रहे, जनसभाओं को संबोधित करते रहे।

जहाँ माता कन्याकुमारी के ‘श्रीपाद’, 3 सागरों का होता है मिलन… वहाँ भारत माता के 2 ‘नरेंद्र’ का राष्ट्रीय चिंतन, विकसित भारत की हुंकार

स्वामी विवेकानंद का संन्यासी जीवन से पूर्व का नाम भी नरेंद्र था और भारत के प्रधानमंत्री भी नरेंद्र हैं। जगह भी वही है, शिला भी वही है और चिंतन का विषय भी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -