Monday, January 17, 2022
Homeदेश-समाजईद से पहले 'बकरा मंडी' में सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ी धज्जियाँ, बच्चे भी बिना...

ईद से पहले ‘बकरा मंडी’ में सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ी धज्जियाँ, बच्चे भी बिना मास्क के, देखें वीडियो

लोगों ने डर जताया है कि अगर इस बाजार में एक व्यक्ति भी कोरोना पॉजिटिव निकला तो फिर एक बड़ी जनसंख्या के संक्रमित होने का ख़तरा पैदा हो जाएगा। इसे उद्धव ठाकरे सरकार की तुष्टिकरण की भी रणनीति के रूप में बताते हुए निशाना साधा जा रहा है, क्योंकि शरद पवार इसी प्रकार की राजनीति करते आए हैं............

मुंबई के एक इलाक़े में कोरोना संक्रमण आपदा के बीच लोगों का बकरीद की शॉपिंग करते वीडियो वायरल हुआ है, जिसमें कई बच्चे भी शामिल हैं। मोहसिन शेख नामक ट्विटर यूजर ने ये वीडियो शेयर किया है, जिसे किलेदार जोगेश्वरी बकरा मंडी का बताया गया है। ये बकरीद की शॉपिंग से गुलजार बाजार MTNL की दफ्तर के अपोजिट साइड में स्थित है। ये उद्धव ठाकरे की सरकार की भी पोल खोलती है, जो अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प का मजाक उड़ाने में लगे हैं।

उक्त वीडियो ‘बकरा मंडी’ का है, जिससे पता चलता है कि बकरीद की खरीददारी में सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों की जम कर धज्जियाँ उड़ाई जा रही हैं। बता दें कि गुरुवार (जुलाई 30, 2020) को बकरीद मनाया जाना है, जिसके लिए लोग बकरे खरीदते हैं। महाराष्ट्र में सरकार ने बकरों की ऑनलाइन खरीददारी करने को कहा है, ताकि बाजारों में भीड़ न जुटे, लेकिन तब भी लोग बेख़ौफ़ निकल रहे।

लोगों ने डर जताया है कि अगर इस बाजार में एक व्यक्ति भी कोरोना पॉजिटिव निकला तो फिर एक बड़ी जनसंख्या के संक्रमित होने का ख़तरा पैदा हो जाएगा। इसे उद्धव ठाकरे सरकार की तुष्टिकरण की भी रणनीति के रूप में बताते हुए निशाना साधा जा रहा है, क्योंकि शरद पवार इसी प्रकार की राजनीति करते आए हैं और उद्धव सरकार को वही बतौर गठबंधन साथी प्रभावित करते रहे हैं।

इधर महाराष्ट्र सरकार ने देश में जारी लॉकडाउन के बीच कोरोना महामारी से जूझ रहे डॉक्टरों के वेतन में कटौती कर दी है। बताया जा रहा है कि राज्य की उद्धव सरकार ने लगातार गिरती अर्थव्यवस्था के बाद यह फैसला लिया है। हालाँकि, महाराष्ट्र सरकार के इस फैसले पर डॉक्टरों ने असंतोष व्यक्त किया है, साथ ही कहा है कि इससे उनके काम पर असर पड़ेगा। इससे उद्धव सरकार की पहले से ही आलोचना हो रही है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘रेप कैपिटल बन गया है राजस्थान’: अलवर मूक-बधिर बच्ची से गैंगरेप मामले में पुलिस का यू-टर्न, गहलोत सरकार ने की CBI जाँच की सिफारिश

अलवर में रेप की शिकार मूक-बधिर बच्ची के मामली की जाँच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सीबीआई को सौंप दी है। सरकार का काफी विरोध हो रहा है।

CM योगी का UP: 2000 Cr का अवैध साम्राज्य ध्वस्त, ढेर हुए 140 अपराधी, धर्मांतरण और गोकशी पर शिकंजा, महिलाएँ सुरक्षित हुईं

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश को महिलाओं के लिए सुरक्षित बनाया। गोकशी-धर्मांतरण पर प्रहार किया। उत्तर प्रदेश में माफिया राज खत्म हुआ।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
151,693FollowersFollow
413,000SubscribersSubscribe