Wednesday, July 24, 2024
Homeदेश-समाजबिहार में शराब के धंधेबाजों को पकड़ने गया था सिपाही, बूढ़ी गंडक में फेंक...

बिहार में शराब के धंधेबाजों को पकड़ने गया था सिपाही, बूढ़ी गंडक में फेंक कर मार डाला: लाश देख फफक पड़े साथी, Video

आबकारी विभाग के अधीक्षक संजय कुमार राय ने बताया है कि छापेमारी के दौरान दीपक ने 2 तस्करों को पकड़ रखा था। लेकिन वे दीपक को खींचकर एक छोटी नाव पर ले गए। हाथापाई के बाद उसे नदी में फेंक दिया। नदी में गिरने के बाद दीपक तेज धार में फँस गया और डूबकर उसकी मौत हो गई।

बिहार में पुलिस पर शराब तस्करों के हमले की कई घटनाएँ हो चुकी है। अब आबकारी विभाग के एक सिपाही को तस्करों ने नदी में डूबोकर मार डाला है। मृतक सिपाही 23 वर्षीय दीपक कुमार का बुधवार (18 जनवरी 2023) को भागलपुर के उनके पैतृक गाँव रसलपुर में अंतिम संस्कार किया गया। मुजफ्फरपुर जिले में सोमवार (16 जनवरी 2023) की रात छापेमारी के दौरान तस्करों ने बूढ़ी गंडक में उन्हें फेंक दिया था।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक घटना दरधा के दियारा इलाके की है। आबकारी विभाग को यहाँ बूढी गंडक नदी के किनारे शराब माफिया द्वारा अवैध शराब बनाने की सूचना मिली थी। इस सूचना पर आबकारी विभाग की टीम रात में छापेमारी करने गई थी। सूचना सही पाई गई थी और उत्पाद विभाग (आबकारी) की टीम ने मौके से शराब माफिया को पकड़ लिया। आरोपितों को नाव से लाया जा रहा था। इसी दौरान उनकी जवानों से झड़प हो गई और दीपक की नदी में धकेल दिया।

एनबीटी ने एक चश्मदीद के हवाले से बताया है कि तस्कर दीपक को घसीटकर ले गए और नदी में फेंक दिया। आबकारी विभाग के अधीक्षक संजय कुमार राय ने बताया है कि छापेमारी के दौरान दीपक ने 2 तस्करों को पकड़ रखा था। लेकिन वे दीपक को खींचकर एक छोटी नाव पर ले गए। हाथापाई के बाद उसे नदी में फेंक दिया। नदी में गिरने के बाद दीपक तेज धार में फँस गया और डूबकर उसकी मौत हो गई।

छापेमारी के दौरान दीपक के साथ टीम में 19 सदस्य और थे। दीपक को नदी में फेंकने के बाद मची अफरातफरी का फायदा उठा कर हिरासत में लिए गए तस्कर भाग निकले। साथी जवानों ने दीपक को जब तक नदी से निकाला उनकी साँसे थम चुकी थी।

इस घटना का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वारयल हो रहा है। वायरल वीडियो में दीपक को नदी में से निकाल कर ले जा रहे साथी जवान रोते हुए सुनाई दे रहे हैं। इसी वीडियो में जवान दीपक की जान निकलने की बात भी कह रहे हैं। रात के करीब 12:30 बजे दीपक को नदी में फेंका गया था। उनका शव करीब 3 बजे बरामद हुआ था।

इस घटना के बाद आबकारी विभाग ने घटनास्थल पर पुलिस फ़ोर्स मँगवाया। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करवाया। वहीं दीपक की मौत से साथी सिपाही आक्रोशित हैं। दीपक के परिवार के लिए सरकार से मुआवजे की माँग कर रहे हैं। दीपक के भाई प्रशांत ने इस घटना के पीछे साजिश की आशंका जताई है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मेरे बेटे को मार डाला’: आधुनिक पश्चिमी सभ्यता ने दुनिया के सबसे अमीर शख्स को भी दे दिया ऐसा दर्द, कहा – Woke वाले...

लिंग-परिवर्तन कराने वाले को उसके पुराने नाम से पुकारना 'Deadnaming' कहलाता है। उन्होंने कहा कि इसका अर्थ है कि उनका बेटा मर चुका है।

‘बंद ही रहेगा शंभू बॉर्डर, JCB लेकर नहीं कर सकते प्रदर्शन’: सुप्रीम कोर्ट ने ‘आंदोलनजीवी’ किसानों को दिया झटका, 15 अगस्त को दिल्ली कूच...

सुप्रीम कोर्ट ने पंजाब और हरियाणा के बीच शंभू बॉर्डर को अभी बंद ही रखने का आदेश दिया है। कोर्ट ने कहा किसान JCB लेकर प्रदर्शन नहीं कर सकते।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -