Sunday, October 17, 2021
Homeदेश-समाजबिहार में टेंपो में सवार 2-3 लोगों ने दिनदहाड़े बीजेपी प्रवक्ता को मारी दो...

बिहार में टेंपो में सवार 2-3 लोगों ने दिनदहाड़े बीजेपी प्रवक्ता को मारी दो गोली: स्थिति नाजुक

"टेंपो पर सवार तीन अपराधियों ने घटना को अंजाम दिया। कॉलेज के बाहर अपराधियों ने उन्हें पीछे से गोली मारी, जोकि उनके सर में जाकर लगी। वहीं शम्शी का इलाज कर रहे डॉक्टर ने बताया कि इन्हें दो गोली लगी है एक सिर के पीछे तथा एक गोली पेट में लगी है, उनकी स्थिति काफी नाजुक है।"

बिहार में बीजेपी प्रवक्ता को दिनदहाड़े गोली मार दी गई। खबर है कि मुंगेर जिले के जमालपुर कॉलेज के पास से बीजेपी के राज्य स्तरीय प्रवक्ता अजफर शम्शी (Azfar Shamshi) गुजर रहे थे। इसी दौरान उन्हें कुछ बदमाशों ने गोली मार दी। पुलिस ने मामले में कॉलेज के प्रभारी प्राचार्य ललन प्रसाद सिंह को गिरफ्तार कर लिया गया है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता और जमालपुर कॉलेज के लेक्चरर डॉ अजफर शम्शी को एक गोली उनकी कनपटी में लगी है, दूसरी पेट में। अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद उन्हें बेहतर इलाज के लिए पटना रेफर कर दिया गया था। घटना की सूचना मिलते की एसपी मानवजीत सिंह ढिल्लो ने सदर अस्पताल पहुँचकर बीजेपी नेता का बयान दर्ज किया है।

न्यूज एजेंसी एएनआई से बात करते हुए मुंगेर पुलिस अधीक्षक मानवजीत सिंह ढिल्लों ने कहा, “हमें सूचित किया गया था कि अजफर शम्शी को 2-3 लाेगों द्वारा गोली मार दी गई है जब वह अपने कक्ष में जा रहे थे। उनका इलाज चल रहा है। एसपी ने कहा उनका बयान दर्ज कर लिया गया है। कॉलेज के एक अन्य प्रोफेसर के साथ उनका विवाद था जिसे हमने गिरफ्तार किया है। उनसे पूछताछ की जाएगी।”

अजफर शम्शी के बेटे असद शम्सी ने बताया, “टेंपो पर सवार तीन अपराधियों ने घटना को अंजाम दिया। कॉलेज के बाहर अपराधियों ने उन्हें पीछे से गोली मारी, जोकि उनके सर में जाकर लगी। वहीं शम्शी का इलाज कर रहे डॉक्टर ने बताया कि इन्हें दो गोली लगी है एक सिर के पीछे तथा एक गोली पेट में लगी है, उनकी स्थिति काफी नाजुक है।”

बता दें, कॉलेज के प्रभारी प्राचार्य ललन प्रसाद सिंह से प्रभार को लेकर डॉ शम्शी का विवाद चल रहा था। पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया है। घटना के बाद से इलाके में हड़कंप मच गया है।

अजफर शम्शी के ड्राइवर मोहम्मद मुन्ना ने बताया, “मैं प्रतिदिन की तरह सुबह 11 बजे अजफर को लेकर जमालपुर कॉलेज पहुँचा। कॉलेज गेट पर विद्यार्थियों की काफी भीड़ थी, इस वजह से शम्शी गेट के पास कार से उतर गए। वहीं गाड़ी मोड़ने के लिए कहा। तभी अचानक दो गोली चलने की आवाज सुनाई दी और भगदड़ मच गया।”

मोहम्मद मुन्ना ने बताया कि, जब आवाज सुनने के बाद उन्होंने पीछे देखा तो अजफर शम्शी जमीन पर खून से लतपथ गिरे पड़े थे। वहाँ मौजूद अन्य लोगों की मदद से उन्हें उनकी ही कार से सदर अस्पताल लाया गया। जहाँ उन्हें तुरंत भर्ती कराया गया।

गौरतलब है कि बीजेपी के राज्य स्तरीय प्रवक्ता अजफर शम्शी कॉलेज के प्रोफेसर के साथ ही आईटीसी मजदूर यूनियन के अध्यक्ष भी है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बेअदबी करने वालों को यही सज़ा मिलेगी, हम गुरु की फौज और आदि ग्रन्थ ही हमारा कानून’: हथियारबंद निहंगों को दलित की हत्या पर...

हथियारबंद निहंग सिखों ने खुद को गुरू ग्रंथ साहिब की सेना बताया। साथ ही कहा कि गुरु की फौजें किसानों और पुलिस के बीच की दीवार हैं।

सरकारी नौकरी से निकाला गया सैयद अली शाह गिलानी का पोता, J&K में रिसर्च ऑफिसर बन कर बैठा था: आतंकियों के समर्थन का आरोप

अलगाववादी नेता रहे सैयद अली शाह गिलानी के पोते अनीस-उल-इस्लाम को जम्मू कश्मीर में सरकारी नौकरी से निकाल बाहर किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,107FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe