Thursday, June 13, 2024
Homeदेश-समाज'उसने मुझे पीछे से जकड़ा और अपनी ओर खींच लिया': एक्ट्रेस के साथ फ्लाइट...

‘उसने मुझे पीछे से जकड़ा और अपनी ओर खींच लिया’: एक्ट्रेस के साथ फ्लाइट में बदसलूकी, 11 दिन बाद बिजनेसमैन गिरफ्तार

मुंबई पुलिस की जाँच में सामने आया कि आरोपित ने अपना नाम गलत बताया हुआ था। उसका नाम राजीव नहीं नितिन था जो गाजियाबाद का बिजनेसमैन है। उसने महिला को फ्लाइट में तब छेड़ा जब वो लगेज रैक से अपना सामान उतार रही थीं और आगे बढ़ने का इंतजार कर रही थीं

कई टीवी शो और फिल्मों में काम कर चुकीं एक अभिनेत्री के साथ छेड़छाड़ मामले में मुंबई पुलिस ने एक नितिन नाम के बिजनेसमैन को गिरफ्तार किया है। नितिन ने एक्ट्रेस के साथ छेड़छाड़ फ्लाइट में की थी। जिसके बाद उन्होंने केबिन क्रू को इस घटना की शिकायत दी। साथ में मामला पुलिस तक पहुँचाया। पुलिस ने आवश्यक कार्रवाई करते हुए आरोपित को 11 दिन के बाद गिरफ्तार किया।

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, महिला 1 अक्टूबर को दिल्ली गई थीं। 3 अक्टूबर को उन्होंने दिल्ली से मुंबई की वापसी के लिए फ्लाइट ली। जिसने 11 बजे छत्रपति शिवाजी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर लैंड किया। इसी बीच जब एक्ट्रेस अपने बैग को लगेज रैक से उतारने लगीं तो एक आदमी ने उन्हें पीछे से जकड़ लिया और अपनी तरफ खींचा। इस हरकत से एक्ट्रेस एकदम चौंक गई। उन्हें बहुत गुस्सा भी आया।

उनके मुताबिक “ये आदमी मेरी पंक्ति (रो) में भी नहीं था। बहुत पीछे था। लेकिन कुछ देर बाद मुझे लगा कि किसी ने मुझे कमर से पकड़ कर खींचा है। जब मैं गुस्सा हुई तो उसने कहा ‘ओह! मुझको नहीं पता था कोई महिला है। मुझे लगा कोई आदमी होगा। इसके बाद वो माफी माँगता रहा और फिर कहा ‘सॉरी तो बोला न।’ आखिर कैसे कोई किसी महिला को ऐसे जकड़ सकता है और फिर ये कहकर खुद का बचाव करता है कि मुझे लगा कोई पुरुष यात्री है। ये बेहद घटिया है।”

एक्ट्रेस के मुताबिक वो मदद के लिए चिल्लाईं जिसके बाद केबिन क्रू आया और केबिन क्रू ने आदमी को महिला से दूर करते हुए इस मामले की शिकायत कस्टमर रिलेशन टीम से करने को कहा। व्यक्ति से जब उसका नाम पूछा गया तो उसने खुद को राजीव बताया। इसके बाद महिला ने वर्सोवा थाने में मामला दर्ज करने के लिए संपर्क किया। हालाँकि वहाँ से जवाब आया कि ये केस सहार पुलिस में दर्ज होगा। महिला ने सलाह मानते हुए सहार पुलिस को संपर्क किया और बताया कि कैसे वो इस घटना से सदमे में हैं। पुलिस ने उनसे आदमी की डिटेल माँगी और अपना काम शुरू किया।

एयरलाइन ने पुलिस को राजीव और उसके साथ सफर में मौजूद सभी लोगों की जानकारी दी। लेकिन जब पुलिस ने राजीव से पूछताछ की तो उन्होंने कहा कि उन्होंने ऐसा कुछ किया ही नहीं है। इसके बाद उन्होंने अपने साथ उस दिन फ्लाइट में मौजूद सभी लोगों की जानकारी और फोटो पुलिस को दी। पुलिस ने वो तस्वीर एक्ट्रेस को दिखाई और उन्होंने भी उसमें राजीव पर उंगली न रख कर किसी और को आरोपित बताया। पुलिस ने पूछताछ की तो पता चला महिला से बदसलूकी करने वाला तो नितिन था।

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि कैबिन क्रू को इस बात का नहीं पता था जिसे उन्होंने महिला से दूर होने को कहा वह राजीव था या नितिन। पुलिस ने एयरलाइन से सभी पैसेंजर्स की डिटेल माँगी और फिर नितिन की सीट को वेरीफाई किया गया। पुख्ता जानकारी इकट्ठा करने के बाद एफआईआर में नितिन का नाम दर्ज किया गया।आगे की छानबीन में पता चला कि 36 साल का नितिन उत्तरप्रदेश के गाजियाबाद में बिजनेस करता है। 14 अक्टूबर को पुलिस ने इस मामले में आरोपित को हिरासत में लिया। उसके विरुद्ध यौन उत्पीड़न की धाराओं के तहत मामला दर्ज हुआ है।

एक्ट्रेस का कहना है कि इस पूरी घटना पर केस दर्ज होने के बाद व्यक्ति के घरवाले उनके पास पहुँचे थे और उनसे केस वापस लेने को कहा था। एक्ट्रेस ने कहा, “उसकी पत्नी और एक उसके घर का कोई आदमी मेरे घर आए थे और मुझसे शिकायत वापस लेने को बोल रहे थे। उन्हें मेरे घर का एड्रेस पता है और मुझे डर है कि कोई दोबारा आएगा।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नेता खाएँ मलाई इसलिए कॉन्ग्रेस के साथ AAP, पानी के लिए तरसते आम आदमी को दोनों ने दिखाया ठेंगा: दिल्ली जल संकट में हिमाचल...

दिल्ली सरकार ने कहा है कि टैंकर माफिया तो यमुना के उस पार यानी हरियाणा से ऑपरेट करते हैं, वो दिल्ली सरकार का इलाका ही नहीं है।

पापुआ न्यू गिनी में चली गई 2000 लोगों की जान, भारत ने भेजी करोड़ों की राहत (पानी, भोजन, दवा सब कुछ) सामग्री

प्राकृतिक आपदा के कारण संसाधनों की कमी से जूझ रहे पापुआ न्यू गिनी के एंगा प्रांत को भारत ने बुनियादी जरूरतों के सामान भेजे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -